डीएम की अध्यक्षता में खनन टास्क फोर्स की बैठक हुई।।..

breaking News राज्य

8 सितंबर तक दण्ड के मद में ₹ 5 करोड़ 16 लाख की वसूली

त्रिलोकी नाथ प्रसाद:-पटना, शनिवार, दिनांक 10.09.2022: जिला पदाधिकारी, पटना डॉ. चंद्रशेखर सिंह द्वारा आज समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में खनन टास्क फोर्स की बैठक की गई। इस बैठक में अवैध खनन एवं परिवहन के विरुद्ध कृत कार्रवाई, राजस्व संग्रहण एवं वाहनों का अधिहरण, जिला सर्वेक्षण प्रतिवेदन, दंड मद में राजस्व संग्रहण, जिला अंतर्गत संचालित ईट-भट्ठों से स्वामित्व भुगतान सहित विभिन्न बिंदुओं पर समीक्षा की गई एवं अद्यतन प्रगति का जायजा लिया गया।

बैठक में जिला खनन पदाधिकारी द्वारा एजेंडावार अद्यतन प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया।

1. *राजस्व संग्रहण यथा कार्य विभागों से खनन स्वामित्व/मालिकाना शुल्क भुगतान, पटना जिलान्तर्गत संचालित ईंट-भट्ठों से स्वामित्व भुगतान तथा दण्ड मद में राजस्व संग्रहणः* –
(i) पटना जिलान्तर्गत भण्डारित जप्त बालू से प्राप्त राजस्व की समीक्षाः- पटना जिलान्तर्गत भण्डारित जप्त बालू की नीलामी के पश्चात् विभाग द्वारा जप्त बालू के मद में निर्धारित लक्ष्य 498.54 लाख के विरूद्ध 660.97 लाख रू0 वसूल किया गया है।

(ii) पटना जिलान्तर्गत संचालित ईंट-भट्ठों से स्वामित्व भुगतान की समीक्षाः- पटना जिलान्तर्गत संचालित 366 ईंट-भट्ठों में से 322 ईंट-भट्ठों से स्वामित्व का भुगतान करा लिया गया है तथा शेष 44 शून्य भुगतान करने वाले ईंट-भट्ठेदारों को खनन स्वामित्व का भुगतान करने हेतु नोटिस निर्गत किया जा चुका है, भुगतान नहीं किए जाने की स्थिति में प्राथमिकी दर्ज करते हुए नीलामपत्र मुकदमा दायर करने की कार्रवाई की जाएगी।

(iii) दण्ड मद में राजस्व संग्रहण की समीक्षाः- *पटना जिलान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 में दण्ड के मद में विभाग द्वारा निर्धारित किए गए लक्ष्य- 1818.62 लाख के विरूद्ध दिनांक 08.09.2022 तक 516.96 लाख रू0 वसूल किया गया है।*

(iv) कार्य विभागों से खनन स्वामित्व/मालिकाना शुल्क भुगतान की समीक्षाः- पटना जिलान्तर्गत वित्तीय शर्ष 2022-23 में कार्य विभाग के मद में विभाग द्वारा निर्धारित किए गए लक्ष्य-11198.61 लाख के विरूद्ध दिनांक-08.09.2022 तक 1439.56 लाख रू0 वसूल किया गया है। वर्त्तमान वित्तीय वर्ष में भी कार्य विभागें से राजस्व संग्रहण हेतु कार्रवाई की जा रही है।

2. *अवैध खनन एवं परिवहन के विरुद्ध कृत कार्रवाई:-*

(i) माह-अप्रैल से जुलाई (1 अप्रैल से 31 जुलाई 2022 तक)ः-छापामारी 212, प्राथमिकी 77, गिरफ्तारी 41, जप्त वाहनों की संख्याः- 527 (289-ट्रैक्टर, 24-पोकलेन, 14-जे0सी0बी0, 100-हाईवा, 67-ट्रक, 15-पिकअप, 2-टीपर, 1-नाव, 7-मोटरसाईकिल, 4-लोडर, 3-टेलर, 1-डीसीएम) जप्त वाहनों से प्राप्त जुर्माने की राशिः- 488.49 लाख।

(ii) माह-अगस्त (1 सितम्बर से 08 सितम्बर 2022 तक) छापामारी 12, प्राथमिकी 01, गिरफ्तारी 01, जप्त वाहनों की संख्या- 25 (17-ट्रैक्टर, 4-हाईवा, 4-ट्रक), जप्त वाहनों से प्राप्त जुर्माने की राशि- 28.46 लाख

3. *नये डीएसआर के अनुसार अनुमोदित बालूघाट का सुरक्षित जमा राशि का निर्धारण करने के संदर्भ में कृत कार्रवाई* :-नये डीएसआर के अनुसार अनुमोदित बालूघाट का सुरक्षित जमा राशि का निर्धारण करने के संदर्भ में समीक्षा किया गया। समीक्षा के क्रम में खनिज विकास पदाधिकारी, पटना द्वारा बताया गया कि विभागीय अधिसूचना के आलोक में पटना जिलान्तर्गत अनुमोदित जिला सर्वेक्षण प्रतिवेदन ( डीएसआर ) में चिन्हित बालूघाटों यथा सोन नदी में 22, पुनपुन नदी में 36, गंगा नदी में 29 तथा दरधा नदी में 4 बालूघाटों की आगामी 05 वर्ष के लिए नये बालूघाटों की बन्दोबस्ती ई-नीलामी से कराने हेतु प्रथम वर्ष के लिए सुरक्षित जमा राशि का निर्धारण जिला सर्वेक्षण प्रतिवेदन में आकलित खनन योग्य बालू की मात्रा को नए स्वामित्व दर से गुणा कर निर्धारित करने की स्वीकृति दी गई है। उक्त के आलोक में सुरक्षित जमा राशि का निर्धारण करने की कार्रवाई की जा रही है।

 

4. बिहार खनिज (अवैध खनन, परिवहन एवं भंडारण निवारण) संशोधित नियमावली, 2021 के आलोक में अवैध खनन में संलिप्त जप्त वाहनों का 30 दिन के अवधि में शमन तथा खनिज शुल्क जमा नहीं किए जाने के क्रम में अधिहरण के संदर्भ में समीक्षाः- कुल 49 वाहनों पर अधिहरण वाद की सुनवाई चल रही है, उक्त 49 वाहन स्वामियों को समाहर्त्ता महोदय के स्तर से नोटिस निर्गत किया जा चुका है, जिसमें से 25 वाहन स्वामियों द्वारा स्वामित्व की राशि कार्यालय में जमा किया जा चुका है।

5. मानसून अवधि (प्रतिबंधित अवधि) में पटना जिलान्तर्गत बालू की आपूर्ति हेतु भण्डारित शेष बालू की उपलब्धता- पटना जिलान्तर्गत दिनांक-09.09.2022 (05ः03ः51PM) तक K-भण्डारण अनुज्ञप्ति पर कुल भण्डारित शेष बालू की मात्रा 49,23,621.5/- (उन्चास लाख तेईस हजार छः सौ इक्कीस) घनफीट है।

डीएम डॉ सिंह ने अवैध खनन एवं परिवहन के विरुद्ध *सघन अभियान चलाने का निर्देश* दिया। उन्होंने जिला में विभिन्न थानान्तर्गत अवैध खनन तथा परिवहन के विरुद्ध गहन *छापामारी* करने का निर्देश दिया।

डीएम ने निर्देश दिया कि संचालित बालू घाटों पर सघन निगरानी करें, राज्यसात हेतु चिन्हित वाहनों पर कार्रवाई तेज करें तथा शून्य भुगतान वाले ईट- भट्ठों के संचालकों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करें।

डीएम डॉ सिंह ने सभी अनुमंडल पदाधिकारियों, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारियों एवं जिला खनन पदाधिकारी को *तत्परता* से कार्य करने का निर्देश दिया।

इस बैठक में वरीय पुलिस अधीक्षक, अपर समाहर्ता, जिला खनन पदाधिकारी के साथ अन्य भी उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.