जाम की समस्या का *स्थायी निदान* खोजने के लिए सतत प्रयत्नशील रहने का डीएम ने दिया निर्देश।।…

breaking News राज्य

त्रिलोकी नाथ प्रसाद:-पटना, शनिवार, दिनांक 10.09.2022: जिलाधिकारी, पटना डॉ. चन्द्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में आज समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में *जिलान्तर्गत जाम की समस्या का निदान एवं यातायात-प्रबंधन* से संबंधित विषयों पर बैठक की गई। डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि पटना जिला में *सुचारू यातायात की व्यवस्था जनहित* में आवश्यक है।

बैठक में पुलिस अधीक्षक, यातायात द्वारा जाम की समस्या के समाधान एवं यातायात प्रबंधन से संबंधित विषयों पर विस्तार से बताया गया।

डीएम डॉ सिंह ने कहा कि वाहनों की संख्या में *अप्रत्याशित वृद्धि* के कारण अक्सर यातायात पर दबाव देखा जा रहा है। कंजेशन की समस्या दूर करने तथा सुचारू परिवहन के लिए यातायात-प्रबंधन आवश्यक है। इससे सड़क दुर्घटना को रोका जा सकता है।

डीएम डॉ सिंह ने कहा कि प्राप्त सुझावों एवं प्रस्तावों पर सब को *नियमानुसार समयबद्ध ढंग से अनुपालन करना* होगा। *आम नागरिकों को कोई समस्या ना हो* यह सुनिश्चित करना हम सबका दायित्व है। डीएम डॉ सिंह ने अपर जिला दंडाधिकारी (विधि-व्यवस्था) को शहर में *अतिक्रमणमुक्ति* अभियान चलाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जाम की समस्या का *स्थायी निदान* खोजने के लिए हम सबको प्रतिबद्ध रहना होगा।

पुलिस अधीक्षक यातायात ने बताया कि पटना शहरी क्षेत्र अंतर्गत अनेक मार्गों में रोड पर जो *कट* है उसे वर्तमान में यातायात ट्राॅली लगाकर बंद किया गया है। परंतु आमजन/ वाहन चालकों द्वारा इसे हटा कर पैदल/ वाहन आरपार करते हैं जिसके कारण यातायात पर दबाव हो जाता है। राजेंद्र नगर टर्मिनल के सामने, करबिगहिया जंक्शन के सामने, कांटी फैक्ट्री रोड मोड़, बेली- बोरिंग रोड क्रॉसिंग के पास, गोला रोड मोड़ एवं आरपीएस मोड़ के पास यातायात ट्राली की जगह डिवाइडर को बढ़ाकर सभी कटों को बंद करने की आवश्यकता महसूस की जा रही है।

बोरिंग कैनाल रोड में बोरिंग रोड चौराहा से राजापुर पुल तक डिवाइडर पर बने पार्किंग स्थल को अतिक्रमण मुक्त करने की जरूरत है।

बेली रोड में पुनाइचक मोड़ से डाकबंगला चौराहा तक अनावश्यक रूप से काफी संख्या में बने हुए छोटे-छोटे कट को भी बंद किया जाना आवश्यक है ताकि वाहनों के आवागमन में कठिनाई न हो, यातायात का प्रवाह धीमा न हो तथा सड़क दुर्घटना न हो। केवल महत्वपूर्ण चौक-चौराहों के *जेब्रा क्रॉसिंग* को छोड़कर शेष जगह पर बने कट को बंद करवाने एवं लोहे का ग्रिल लगवाने हेतु अनुरोध किया गया।

इसी तरह, पुरानी बाईपास में चौधरी पेट्रोल पंप से कुम्हरार तक,न्यू बाईपास रोड में बेउर मोड़ से शहीद चौक (फुलवारीशरीफ) तक *अनावश्यक रूप* से काफी संख्या में बने हुए छोटे-छोटे कट को भी बंद किया जाना आवश्यक है ताकि वाहनों के आवागमन में कठिनाई न हो, यातायात का प्रवाह धीमा न हो तथा सड़क दुर्घटना न हो। केवल महत्वपूर्ण चौक-चौराहों के जेब्रा क्रॉसिंग को छोड़कर शेष जगह पर बने कट को बंद करवाने एवं *लोहे का ग्रिल* लगवाने हेतु अनुरोध किया गया।

पैजावा कटिंग, महिंद्रा शोरूम, ज्ञान गंगा के पास, बाईपास थाना मोड़, रामकृष्ण मोड़, जगनपुरा मोड़ के नजदीक बने अनावश्यक कटों को भी बंद करने की आवश्यकता बताई गई।

पुलिस अधीक्षक यातायात ने बताया कि *आईपीएस मेस मोड़ से हड़ताली मोड़ जाने के क्रम में* हड़ताली मोड़ पर यातायात का काफी दबाव रहता है। विश्वेश्वरैया भवन के सामने व्यवस्था करने की आवश्यकता है। जिलाधिकारी ने कार्यपालक अभियंता नई राजधानी पथ प्रमंडल को इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने अपर जिला दंडाधिकारी (विधि-व्यवस्था) को मीठापुर (जीपीओ गोलंबर) से पटना जंक्शन स्टेशन रोड फ्लाईओवर के नीचे अवैध पार्किंग एवं जाम की समस्या को दूर करने के लिए यातायात पुलिस, नगर निगम, जिला परिवहन तथा जिला पुलिस बल की *टीम गठित* करते हुए नियमित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

पुलिस अधीक्षक यातायात द्वारा शिवाला चौक (शाहपुर थाना) के पास *सड़क चौड़ीकरण एवं रोटरी (गोलंबर) के निर्माण* के संबंध में कुछ आवश्यकता बताई गई। शिवाला चौक के पास एवं वहां आने वाली सभी सड़कों का चौड़ीकरण तथा शिवाला चौक पर एक रोटरी (गोलंबर) का निर्माण ताकि वहां पर चारों दिशा से आने वाले वाहन एक दूसरे को सीधे क्रॉस करने के बजाय गोलंबर घूम कर अपने-अपने गंतव्य की ओर जा सके। डीएम डॉ सिंह ने कार्यपालक अभियंता, पथ निर्माण विभाग, पश्चिमी प्रमंडल को यातायात पुलिस अधीक्षक से प्राप्त प्रस्तावों पर यथोचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया ताकि यातायात संबंधी समस्या का स्थायी निदान हो सके।

*जीपीओ गोलंबर से मल्टीलेवल पार्किंग* होते हुए पटना जंक्शन तक *पेडेस्ट्रियन सबवे परियोजना* के निर्माण कार्य हेतु यातायात संचालन को सुचारु रखा जाएगा। इसके बारे में यातायात पुलिस अधीक्षक आवश्यक कार्रवाई करेंगे।

यातायात पुलिस अधीक्षक द्वारा बताया गया कि विश्वेश्वरैया भवन के इर्द-गिर्द अतिक्रमण हटाने की आवश्यकता है। डीएम डॉ सिंह ने अपर जिला दंडाधिकारी (विधि-व्यवस्था) को जवाहर लाल नेहरु मार्ग में पुनाइचक से अटल पथ नीचे तक अतिक्रमणमुक्त कराने हेतु दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति करने का निर्देश दिया ताकि सड़क को अतिक्रमणमुक्त कर आवागमन को सुगम कराया जा सके।

*नवनिर्मित जेपी गंगा पथ* पर वर्तमान में एएन सिन्हा संस्थान /गांधी मैदान तक यातायात का परिचालन प्रारंभ है। उक्त पथ पर आने वाले समय में यातायात का दबाव बढ़ सकता है और दीघा से गांधी मैदान, पीएमसीएच, पटना सिटी तक यातायात का मुख्य मार्ग के रूप में उपयोग किया जा सकता है। डीएम डॉ सिंह ने पटना स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत सीसीटीवी/आईटीएमएस कैमरे एवं अन्य उपकरण जैसे पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम्, ईसीबी,आरएलवीडी, वीएमडी, एएनपीआर आदि स्थापित करने की दिशा में कार्रवाई करने का निर्देश दिया। उल्लेखनीय है कि पूर्व में भी जेपी गंगापथ पर आईसीसीसी परियोजना के तहत कैमरे, इमरजेंसी कॉल बॉक्स और पब्लिक एड्रेस सिस्टम लगाए गए हैं। डीएम डॉ सिंह ने जेपी गंगापथ पर पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

यातायात पुलिस अधीक्षक द्वारा बताया गया कि पटना शहरी क्षेत्र अंतर्गत परिचालित होने वाले बसों यथा नगर सेवा, सिटी राइड, सीएनजी, इलेक्ट्रिक बसों आदि के लिए जगह-जगह बस पड़ाव बना हुआ है, परंतु ऐसा देखा जा रहा है कि इन बसों के संचालक/ चालक के द्वारा निर्धारित एवं चिन्हित बस पड़ाव पर रोकने के बजाय जहां-तहां अवैध रूप से पार्क कर सवारी का उतार-चढ़ाव किया जाता है और कहीं-कहीं बीच सड़क पर ही रोक कर सवारी का उतार-चढ़ाव करते हैं। इसके कारण संबंधित स्थल एवं उसके आसपास का यातायात प्रभावित होता है। डीएम डॉ सिंह ने जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया कि संबंधित बसों के संचालक/ चालक को *चिन्हित* करें एवं निर्धारित बस पड़ाव पर ही पार्क करने के संदर्भ में कार्रवाई करें।

डीएम डॉ सिंह ने अपर जिला दंडाधिकारी (विधि-व्यवस्था) को हिंदुस्तान प्रेस से लेकर मल्टीलेवल पार्किंग तक के रोड को *अतिक्रमणमुक्त* कराने का निर्देश दिया।

अशोक राजपथ में कारगिल चौक से एनआईटी मोड़ तक *डबल डेकर पुल एवं मेट्रो निर्माण कार्य* के कारण यातायात के परिचालन को नियंत्रित करने का निर्देश दिया गया।

डीएम डॉ सिंह ने अनुमंडल पदाधिकारी, दानापुर को *दानापुर रेलवे स्टेशन के सामने बसों के अनधिकृत रूप से खड़ा* होना रोकने के लिए कार्रवाई करने का निर्देश दिया। उन्होंने *दानापुर-खगौल रोड* से अतिक्रमण हटाकर यातायात का सुचारु प्रबंधन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

डीएम डॉ सिंह द्वारा ग्रेविटि मॉल, कंकड़बाग के समीप पानी टंकी रोड से पुरानी बाईपास जाने वाले मार्ग पर *सुगम यातायात व्यवस्था* हेतु आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।

बेली रोड में अवस्थित माउंट कार्मेल स्कूल के पास यातायात दबाव कम करने एवं *पीक आवर* में जाम से निजात के लिए पिकअप जोन/ ड्रॉप जोन विकसित करने की दिशा में सुझावों पर नियमानुसार कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।

पुलिस अधीक्षक यातायात ने बताया कि अशोक राजपथ से बारी पथ जोड़ने वाले लिंक पर यथा गोविंद मित्रा रोड, मखनिया कुआं रोड, खजांची रोड, रमना रोड, कुनकुन सिंह रोड आदि में अतिक्रमण रहने के कारण *यातायात का दबाव* रहता है और कभी-कभी यातायात जाम की समस्या भी उत्पन्न हो जाती है। डीएम डॉ सिंह ने अपर जिला दंडाधिकारी (विधि-व्यवस्था) को *अशोक राजपथ- बारीपथ लिंक* रोड को अतिक्रमण मुक्त करने का निर्देश दिया।

डीएम डॉ सिंह ने कार्यपालक अभियंता, पथ निर्माण विभाग, पटना नगर निगम, एनएचएआई के प्रतिनिधियों तथा अपर जिला दंडाधिकारी (विधि-व्यवस्था) को जाम की समस्या का स्थायी निदान करने में सतत प्रयत्नशील रहने का निर्देश दिया।

इस बैठक में जिलाधिकारी के साथ वरीय पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक यातायात ,अपर जिला दंडाधिकारी (विधि-व्यवस्था), जिला परिवहन पदाधिकारी, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी,बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड, एनएचएआई के प्रतिनिधि, अग्रणी बैंक प्रबंधक, कार्यपालक अभियंतागण एवं अन्य भी उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.