किशनगंज : ठाकुरगंज के सुदूरवर्ती पंचायत पथरिया के हुलहुली ग्राम में जिला प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम का हुआ आयोजन।

breaking News District Adminstration Kishanganj Thakurganj राज्य

डीएम ने जनता से किया सीधा संवाद, ऑन स्पॉट कई मामले का निष्पादन।

  • जिला प्रशासन को बताया जिला सेवा, अप्रत्याशित ग्रामीणों की रही उपस्थिति।

किशनगंज/धर्मेन्द्र सिंह, डीएम श्रीकांत शास्त्री की अध्यक्षता में जिला प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम अंतर्गत ठाकुरगंज के पथरिया पंचायत अंतर्गत सुदूरवर्ती गांव हुलहूली में विशेष शिविर आयोजित हुई। शिविर में विभिन्न विभाग के योजनाओं का स्टॉल लगाया गया। स्टॉल में संबंधित सभी पदाधिकारी, कर्मी उपस्थित रहे। किशनगंज जिला का सुदूरवर्ती आदिवासी बहुल हुलहुली गांव में हजारो की संख्या में स्थानीय ग्रामीण उपस्थित रहे। अभूतपूर्व व अप्रत्याशित ग्रामीणों की उपस्थिति विशेष शिविर के आयोजन की सफलता को दर्शा रही थी। वास्तविकता में पूरा समाहरणालय किशनगंज हुलहुली ग्राम में कार्यरत रहा। जिलाधिकारी समेत जिला प्रशासन के समस्त अधिकारी हुलहुली की जनता के दरबार में उपस्थित होकर राज्य/केंद्र सरकार प्रायोजित योजनाओं का लाभ उनतक पहुंचाने के लिए तत्पर रहे। शिविर में स्टॉल के माध्यम से राजस्व, जीविका, विशेष सर्वेक्षण, बंदोबस्त, पशुपालन, श्रम, दिव्यांगजन सशक्तिकरण, सामाजिक सुरक्षा, बाल संरक्षण, अल्पसंख्यक कल्याण, ग्रामीण विकास, मनरेगा, लोहिया स्वच्छ बिहार, आपूर्ति, स्वास्थ्य, पीएचईडी, समेकित बाल विकास परियोजना, विद्युत, मत्स्य, उद्योग, अनुसूचित जाति/जनजाति कल्याण, बैंक, स्थानीय एनजीओ के द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी देते हुए लाभुको के आवेदन लिए गए। डीएम श्रीकांत शास्त्री के द्वारा जनता से सीधा संवाद कर उनकी समस्याओं को सुना गया। ऑन स्पॉट समस्या का समाधान किया गया। उल्लेखनीय है कि विशेष शिविर में प्राप्त हुए अधिकतर आवेदन में भूमि विवाद और अतिक्रमण के मामले सबसे अधिक पाए गए।साथ ही, नल जल योजना, स्वास्थ्य, पेंशन, राशन कार्ड से संबधित शिकायतें भी प्राप्त हुए। कैंप में स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड, कुशल युवा कार्यक्रम, स्वयं सहायता भत्ता, आरटीपीएस के तहत जाति आय, आवासीय, मृत्य, जन्म प्रमाण पत्र बनाने, जमाबंदी रसीद, परिमारजन,अमीन मापी विशेष सर्वेक्षण के तहत एलपीएम वितरण, नए राशन कार्ड, पेंशन लाभ, मुख्यमंत्री उद्यमी योजना, पीएमईजीपी, एससी/एसटी कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण, मदरसा सुदृढ़ीकरण योजना, मुस्लिम परित्यकता, मुख्यमंत्री अल्पसंख्यक रोजगार ऋण परवरिश, कन्या उत्थान योजना, विभिन्न ऋण, पशुपालन, गव्य विकास, जीविका, लोहिया स्वच्छ बिहार, प्रधानमंत्री आवास योजना, वित्त/बैंक, शताब्दी असंगठित कामगार योजना, श्रम पोर्टल पर मजदूरो का निबंधन, व अन्य विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी गई। पथरिया पंचायत और सखुआडाली पंचायत निवासी कई ग्रामीण ने परिवाद समर्पित कर आरोप लगाया कि कुछ दबंग लोगों द्वारा उनके जमीन पर कब्जा किए हुए है, मामले की जांचकर कार्रवाई हेतु सीओ को निर्देशित किया गया। डीएम द्वारा 100 से अधिक लोगों से प्राप्त आवेदनों पर निर्देश दिए गए और आवश्यकतानुसार संबंधित अधिकारियों को दूरभाष पर वार्ता कर निर्देश भी दिए गए। जनसंवाद कार्यक्रम में पंचायत एवं उसके आस-पास के क्षेत्रों के लोगों से जिलाधिकारी रूबरू हुए और उनकी समस्याओं को उन्होंने पूरी गंभीरता से सुना और उनसे आवेदन भी लिए गए।तदनुसार डीडीसी, एडीएम और एसडीएम ने जन समस्याओं के निराकरण के मद्देनजर संबंधित विभाग के अधिकारियों को तत्काल निर्देशित किया। दर्जनों मामलों का जिलाधिकारी द्वारा ऑन द स्पॉट निपटारा किया गया। कार्यक्रम स्थल पर मेडिकल कैंप के साथ पोषण से संबंधित काउंटर भी लगाए गए थे। कार्यक्रम के उद्घाटन उपरांत डीडीसी, एडीएम ने विशेष शिविर पर जानकारी प्रदान किए। मौके पर डीएम श्रीकांत शास्त्री ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए जिला प्रशासन को जिला सेवा बताते हुए इस कैंप को सरकारी योजनाओं का अधिकाधिक लाभ प्रदान करने की दिशा में प्रयास बताया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक सप्ताह राज्य सरकार के आदेश से हम लोग क्षेत्र भ्रमण करते हैं और हम लोगों ने देखा है कि सरकार की संचालित योजनाएं के बारे में बहुत से लोगों को पता ही नहीं है, इस कार्यक्रम का उद्देश्य है कि सरकार के द्वारा संचालित योजनाएं की जानकारियां एवं लाभ आम जनता तक पहुंचाया जा सके। तत्पश्चात डीएम के द्वारा सभी स्टॉल का निरीक्षण किया गया। इस शिविर में स्थानीय संस्कृति का परिचय देते हुए कार्यक्रम स्थल पर आदिवासी लोक नृत्य की प्रस्तुति भी हुई। मनोहारी लोक नृत्य में आदिवासी समाज की संस्कृति झलक रही थी। विशेष शिविर का स्थानीय ग्रामीण में काफी चर्चा रहा और लोग लाभान्वित भी हुए। स्वास्थ्य शिविर से 400 से अधिक लोग लाभान्वित हुए।राजस्व शिविर में 150 से ज्यादा लोग ने आवदेन दिए। 50 से अधिक आरटीपीएस के तहत प्रमाण पत्र निर्गत किए गए। मौके पर उप विकास आयुक्त मनन राम, अपर समाहर्त्ता, अनुज कुमार, अनुमंडलाधिकारी अमिताभ कुमार गुप्ता, वरीय उप समाहर्त्ता रंजीत कुमार, अंचलाधिकारी ठाकुरगंज, मनरेगा कार्यक्रम पदाधिकारी एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि तथा विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।