ठाकुरगंज : बंदरझुला पंचायत में कब्रिस्तान में मनरेगा कार्य बना विवाद का कारण..

breaking News Kishanganj ताजा खबर राज्य

किशनगंज-ठाकुरगंज/फरीद अहमद, जिले के ठाकुरगंज प्रखंड के बंदरझूला पंचायत अंतर्गत वार्ड नंबर 14 में मनरेगा योजना के अंतर्गत अमृत सरोवर का कार्य कराया जा रहा है जिसको लेकर स्थानीय ग्रामीणों ने पंचायत के जनप्रतिनिधि पर आरोप लगाते हुए कहा कि सौंदर्यीकरण के नाम पर तालाब में कार्य करते-करते कब्रिस्तान को भी छील दीया गया।ग्रामीणों ने जनप्रतिनिधियों पर आरोप लगाया है की पूर्वजों की कब्रों को छीलकर समतल कर मिसमार्क कर के सौंदर्यीकरण करने का कार्य किया जा रहा है। ग्रामीणों के अनुसार तालाब के छोर पर वर्षों से कब्रिस्तान हैं। ग्रामीणों का यह भी आरोप है कि मनरेगा कार्य रात में जेसीबी से और दिन में मजदूर से कराया गया है। बाताते चले कि पंचायत के मुखिया इकरामुल हक भी मौके पर पहुंचे, एक ही समुदाय के दो पक्षों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि मामला हाथापाई पर पहुंच गई। मामले की सूचना पर स्थानीय थानाध्यक्ष राकेश कुमार दल-बल के साथ पहुंचे, कुछ देर बाद ठाकुरगंज सीओ ओम प्रकाश भगत, पौआखाली थानाध्यक्ष आरीज एहकाम, सुखानी थानाध्यक्ष विजय पासवान दल बल के साथ मौके पर पहुंचे, परंतु ठाकुरगंज सीओ के पहुंचने से पहले ही मामला शांत पाया गया। मौके पर पहुंच कर ठाकुरगंज सीओ ओम प्रकाश भगत ने ग्रामीणों से बात चीत की और मामले को गंभीरता से जानने का प्रयास किया। वही ठाकुरगंज सीओ ओम प्रकाश भगत ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। सीओ ओम प्रकाश भगत ने बताया कि जांच के उपरांत ही पता चलेगा और रिकॉर्ड देखने पर ही पता चलेगा कि आखिर तालाब है या कब्रिस्तान।

Leave a Reply

Your email address will not be published.