किशनगंज : डीएम ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की जाति आधारित गणना के प्रथम चरण की समीक्षा।

breaking News District Adminstration Kishanganj राज्य

किशनगंज/धर्मेन्द्र सिंह, जिलाधिकारी (डीएम) श्रीकांत शास्त्री के द्वारा गुरुवार को वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जाति आधारित गणना 2022 के प्रथम चरण की समीक्षा सभी चार्ज अधिकारी के साथ की गयी। उन्होंने कहा कि जाति आधारित गणना का सफल क्रियान्वयन प्रशासन की सर्वाेच्च प्राथमिकता है। शुद्धता के साथ-साथ गुणवत्तापूर्ण कार्य समय सीमा के अन्दर करना सुनिश्चित करें। प्रथम चरण का जाति आधारित गणना का अद्यतन प्रतिवेदन पर समीक्षपरांत संतोषजनक कार्य पाया गया है। अपर समाहर्त्ता-सह-अपर गणना पदाधिकारी अनुज कुमार
के द्वारा बताया गया कि जाति आधारित गणना के गुणवत्ता को सुनिश्चित करते हुए प्रगणकों एवं पर्यवेक्षकों को हर प्रकार की सहायता की जा रही है। डीएम ने सभी चार्ज अफसर को निर्देश दिया कि सभी वरीय अधिकारी क्षेत्रों का नियमित रूप से भ्रमण करें और किये जा रहे जातीय आधारित गणना का निरीक्षण करें। सभी पर्यवेक्षक अपनी पूरी प्रगणक टीम के साथ अनिवार्य रूप से प्रत्येक दिन अपने आवंटित गणना क्षेत्र में उपस्थित रहेंगे। सभी चार्ज पदाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी को गणना कार्य में लागातार निरीक्षण करने का निर्देश दिया गया। सभी पर्यवेक्षक एवं प्रगणक को विधिवत प्रशिक्षण दिया गया। अतः पर्यवेक्षक का दायित्व है कि गणना/उपगणना ब्लाॅक का अच्छी तरह गाइडलाइन के अनुसार त्रुटिरहित सीमांकन एवं गणना कार्य करेंगे। सभी प्रगणक अपने आवंटित क्षेत्र का नजरी नक्शा में सुनिश्चित करेंगे कि कोई मकान नहीं छूटे एवं न हीं अगल-बगल के गणना ब्लाॅक से ओवर लैपिंग हो जाय। अपर समाहर्त्ता ने बताया कि गणना के दौरान भवन संख्या एवं परिवार क्रमांक का काॅलम सावधानी पूर्वक त्रुटिरहित भरा जाना है। प्रत्येक पर्यवेक्षक उपलब्ध कराये गए प्रपत्र में प्रतिदिन दैनिक प्रतिवेदन हस्ताक्षर करेंगे। प्रखंडों के सभी वरीय प्रभारी पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी क्षेत्रों का नियमित भ्रमण करते हुए गणना कार्य का अनुश्रवण करेंगे।