‘स्वराज’ : भारत के स्वतंत्रता संग्राम की समग्र गाथा दूरदर्शन के राष्ट्रीय चैनल पर 14 अगस्त से होगा प्रसारित।।..

breaking News देश

गुड्डु कुमार सिंह:-भारत के स्वतंत्रता संग्राम की समग्र गाथा ‘स्वराज’ धारावाहिक का प्रसारण 14 अगस्त से रात्रि 09 से 10 बजे तक दूरदर्शन के राष्ट्रीय चैनल पर प्रसारित किया जाएगा। दूरदर्शन के प्रस्तुति ‘स्वराज’ को 75 एपिसोड में समेटा गया है। इस धारावाहिक में स्वतंत्रता संग्राम के महान नायकों के बलिदानों की सुनी-अनसुनी कहानियों को रोचक अंदाज में पिरोया गया है। आज पटना में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में दूरदर्शन, पटना के केन्द्राध्यक्ष सह उप महानिदेशक (अभियांत्रिकी) राजीव सिन्हा, पीआईबी के निदेशक दिनेश कुमार, दूरदर्शन, पटना के कार्यक्रम प्रमुख राजकुमार नाहर, डीडी न्यूज बिहार के उप निदेशक सलमान हैदर ने यह जानकारी दी।

केंद्राध्यक्ष राजीव सिन्हा ने बताया कि ‘स्वराज’ धारावाहिक को गहन शोध के बाद तैयार किया गया है। इसका निर्माण 4के/एचडी उच्च गुणवत्ता में किया गया है। उन्होंने कहा कि देश आजादी का 75 वां महोत्सव मना रहा है इसी कड़ी में 75 एपिसोड बनाया गया है।

मौके पर पीआई बी के निदेशक दिनेश कुमार ने बताया कि स्वराज के जरिये वीरों की गाथा को सामने लाने का बड़ा प्रयास किया गया है। उन्होंने बताया कि स्वराज धारावाहिक की 09 क्षेत्रीय भाषाओं और अंग्रेजी में डबिंग की जा रही है। क्षेत्रीय भाषाओं- तमिल, तेलुगु, कन्नड़, मलायलम, मराठी, गुजराती, उड़ीया, बंगाली और असमिया में इस सीरियल का प्रसारण 20 अगस्त से दूरदर्शन के रिजनल चैनलों पर रात्रि 08 से 09 बजे तक किया जाएगा। इस सीरियल को 20 अगस्त से आकाशवाणी के विभिन्न केन्द्रों द्वारा हर शनिवार दिन में 11 बजे से प्रसारित किया जाएगा। साथ ही सप्ताह के दौरान एपिसोडों का पुनः प्रसारण भी किया जाएगा।

संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए डीडी न्यूज़ बिहार के उपनिदेशक सलमान हैदर ने कहा कि इस धारावाहिक का आरंभ उस दौर से होता है जब 1498 में वास्को डी गामा ने भारत की धरती पर कदम रखा था। फिर पुर्तगालियों, फ्रांसीसियों, डच और अंग्रेजों ने भारत में उपनिवेश स्थापित करने के प्रयत्न किए। उस दौर में प्रारंभ होकर भारत के आजाद होने तक के संघर्ष और हमारे स्वाधीनता के नायकों की गौरव गाथा को इस धारावाहिक में संजोया गया है। उन्होंने कहा कि दूरदर्शन के इतिहास यह पहला मौका है कि खुद से इस मेगा सीरियल को बनाया है। इसका मकसद साफ है कि इसके जरिये युवा पीढ़ी को स्वराज और आजादी के नायकों और उनके संघर्ष से रूबरू कराना है।

दूरदर्शन पटना के कार्यक्रम प्रमुख राजकुमार नाहर ने कहा कि खास बात यह है कि ‘स्वराज’ में केवल मंगल पांडे, रानी लक्ष्मीबाई और भगत सिंह जैसे जाने माने नायकों के किस्से ही शामिल नहीं है बल्कि इसमें अनसुने और भूले बिसरे आजादी के नायकों और वीरांगनाओं रानी अबक्का, बख्सी जगबंधु, तिरोत सिंह, सिद्धो- कान्हों, मुर्मु, शिवप्पा नायक, कान्हों जी आगरे, रानी गइदिनल्यु और तिलकामांझी जैसे वीर योद्धाओं की कहानियां भी शामिल है जिनका बलिदान अनसुना-अनकहा रह गया।

उन्होंने बताया कि ‘स्वराज’ धारावाहिक में आजादी की गौरव गथा केवल अंग्रेजों के अन्याय के खिलाफ बुलंद हुई आवाजों को ही बयां नहीं करती बल्कि फ्रांसीसी, डच और पुर्तगाली उपनिवेशवादियों ने भी सोने की चिड़िया कहे जाने वाले भारत में जो अन्यायपूर्ण व्यवहार किया और जिन नायको ने उनके खिलाफ वे अनकही कहानियां भी दर्शक तक पहुंचायी जाएगी।

इसके अतिरिक्त चार नये धारावाहिक डीडी नेशनल पर आ रहे हैं. ‘कार्परेट सरपंच’, महिलाओं के सशक्तिकरण को तो ‘ये दिल मांगे मोर’ और ‘जय भारती’ देश प्रेम पर आधारित है जबकि ‘सुरों का एकलव्य’ एक म्युजिक रियलिटि शो है। और बप्पी लहरी को श्रद्धांजली है। ये सभी धारावाहिक डीडी नेशनल के प्राइम टाइम पर आएंगे। साथ ही ‘स्टार्ट अप चैंपियंस 2.0’ में 46 राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त स्टार्ट अप के संघर्षों और सफलता की कहानियों को समेटा गया है। इस डीडी न्यूज पर हर शनिवार रात नौ बजे और डीडी नेशनल पर हर रविवार दिन में 12 बजे दिखाया जाएगा। जबकि इसका अंग्रेजी संस्करण डीडी इंडिया पर शनिवार रात्रि 10 बजे आएगा।
—-

Leave a Reply

Your email address will not be published.