बाघ के हमले से महिला की मौत।

बगहा

बगहा से रविराज गुप्ता की रिपोर्ट

वाल्मीकि टाइगर रिजर्व के हरनाटांड़ वन क्षेत्र से सटे हरनाटाड़ के बैरिया कला गांव के सरेह में सोमवार की शाम करीब 4.30 बजे बकरियों के लिए घास काट रही महिला पर बाघ ने हमला बोल दिया। महिला के चिल्लाने पर जब तक आसपास खेतों में काम कर रहे ग्रामीण कुछ समझ पाते, महिला की मौत हो गई।

आक्रोशित ग्रामीणों ने शव को उठाने देने से राेक दिया है और डीएफओ तथा सीएफ को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़े हुए हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि वन अधिकारियों की लापरवाही के कारण वन्य जीवों का हमला बढ़ गया है। मृत महिला की पहचान बुधराम महतो की पत्नी प्रेम कुमारी देवी (40 वर्ष) के रूप में हुई है। बताया जाता है कि वह सोमवार की शाम चार बजे बकरियों के लिए चारा काटने गांव से पूरब सरेह की ओर गई। यहां से जंगल करीब 600 मीटर की दूरी पर है। वन घास काट रही थी तभी पीछे से बाघ ने हमला बोल दिया। घटना के बाद मृतका के पति बुधराम महतो मौके पर पहुंचे और पत्नी के शव को देखकर बेहोश हो गए। मृतका को एक पुत्र और एक पुत्री है। पति-पत्नी मजदूरी कर बच्चों का भरण-पोषण करते थे। समाचार लिखे जाने तक लौकरिया थाने के एसआइ शशिभूषण सिंह सदल-बल मौके पर पहुंचे हैं, ग्रामीण वन अधिकारियों को बुलाने की मांग पर अड़े हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.