किशनगंज : आयुक्त गोरखनाथ के द्वारा जिला स्थापना प्रशाखा, के कार्यों का किया निरीक्षण।

breaking News District Adminstration Kishanganj प्रमुख खबरें राज्य

किशनगंज/धर्मेन्द्र सिंह, गोरखनाथ आयुक्त, पूर्णियाँ-सह-कोशी प्रमंडल के द्वारा जिला स्थापना प्रशाखा, किशनगंज के कार्यों का निरीक्षण किया गया। आयुक्त द्वारा जिला स्थापना प्रशाखा, में संधारित कर्मियों के लागबुक, निर्गत पंजी, प्राप्त पंजी, सूचना का अधिकार पंजी, विभागीय कार्यवाही पंजी, लोक सभा/विधान सभा प्रश्नोत्तरी पंजी का अवलोकन किया गया तथा लंबित पत्रों को शीघ्र निष्पादित कराने हेतु स्थापना उप समाहर्त्ता, किशनगंज को निर्देश दिया गया। विभागीय कार्यवाही पंजी के अवलोकन के क्रम में कुछ विभागीय कार्यवाही के मामलें लंबित पाये गये, जिसे एक पक्ष के अन्दर निष्पादित कराने का निर्देश दिया गया। स्थापना प्रशाखा में स्वीकृत बल एवं कार्यरत बल की समीक्षा की गई। स्वीकृत बल से संबंधित सभी विभागीय निदेश को एकीकृत करने का निर्देश दिया गया तथा वर्तमान में फलित रिक्ति के अनुरूप लिपिक संवर्ग, आशुलिपिक संवर्ग, जीप चालक संवर्ग का रोस्टर क्लीयरेंस कराने का निर्देश दिया गया। निरीक्षण के दौरान पाया गया कि जिला स्थापना प्रशाखा में कर्मचारी एवं कार्यालय परिचारी का स्थापना नहीं है, जबकि जिला स्तर पर कर्मचारी एवं कार्यालय परिचारी का स्थापना भी जिला स्थापना प्रशाखा में होना चाहिए। कर्मचारी एवं अनुसेवक की स्थापना को जिला स्थापना में एकीकृत करने का निदेश दिया गया। बिहार कर्मचारी चयन आयोग, बिहार, पटना से कुल 23 अभ्यर्थियों की अनुशंसा लिपिक संवर्ग में नियुक्ति हेतु भेजी गयी है। नई नियुक्ति हेतु प्राप्त अनुशंसा के आलोक में अभ्यर्थियों की नियुक्ति प्रक्रिया शीघ्र पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। जिला स्थापना प्रशाखा के निरीक्षण के दौरान सेवांत लाभ का एक मामला लंबित पाया गया, जिसे एक पक्ष के अन्दर निष्पादित करने का निर्देश स्थापना उप समाहर्त्ता को दिया गया। निरीक्षण के दौरान पाया गया कि चालक संवर्ग में स्वीकृत बल की तुलना में कार्यरत बल कम रहने के कारण विभिन्न अंचलों एवं प्रखण्डों में जीप चालक दैनिक पारश्रमिक के आधार पर रखा गया है, जो विधि सम्मत नहीं है। बिहार पर्यटन विकास निगम से चालक प्राप्त करने की प्रक्रिया अपनाने का निर्देश आयुक्त द्वारा दिया गया।निरीक्षण के दौरान उपस्थित कार्यालय अधीक्षक, समाहरणालय किशनगंज को प्रत्येक माह किसी न किसी कार्यालय का निरीक्षण करने तथा प्रत्येक माह प्रधान लिपिकों की बैठक आहुत कराने का निदेश दिया गया। निरीक्षण के समय डीएम श्रीकांत शास्त्री, मंजूर आलम, स्थापना उप समाहर्त्ता, राजेन्द्र दास प्रधान लिपिक जिला स्थापना प्रशाखा, मनीष रंजन लिपिक जिला स्थापना प्रशाखा आदि कर्मी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.