किशनगंज : मारवाड़ी कॉलेज में खुलेगा मौलाना आज़ाद नेशनल उर्दू यूनिवर्सिटी (मानू) का सेंटर।

Uncategorized

पूर्णियाँ विश्वविद्यालय प्रशासन ने मानू सेंटर खोलने की दी अनुमति।

किशनगंज/धर्मेन्द्र सिंह, मुस्लिम बहुल किशनगंज जिले के सबसे पुराने मारवाड़ी कॉलेज में अब मौलाना आज़ाद नेशनल उर्दू यूनिवर्सिटी का शिक्षार्थी सहायता केन्द्र (एलएससी) खुलेगा। पूर्णियाँ विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. घनश्याम राय ने 31 अगस्त को पत्र प्रेषित कर मानू सेंटर खोलने की अनुमति प्रदान कर दी है। गौरतलब हो कि मारवाड़ी कॉलेज में बीते दो दशकों से इग्नू सेंटर चल रहा है। नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी का सेंटर भी यहाँ स्थापित है। बिहार सरकार द्वारा यहां प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए प्राक प्रशिक्षण केन्द्र चलाया जा रहा है। दो दिन पहले 30 अगस्त को राज्य सरकार ने मारवाड़ी कॉलेज में 16 विषयों में पीजी की पढ़ाई शुरू करने की अनुमति प्रदान की। और, अब मानू सेंटर आ गया है।यहाँ छात्र-छात्राओं की मांग पर प्रधानाचार्य प्रो. डॉ. संजीव कुमार ने मौलाना आज़ाद नेशनल उर्दू यूनिवर्सिटी का सेंटर खोलने के लिए पूर्णियाँ विश्वविद्यालय के कुलसचिव को पत्र प्रेषित कर अनुमति मांगी थी। शिक्षाविद कुलपति प्रो. डॉ. राज नाथ यादव के निर्देश पर कुलसचिव डॉ. घनश्याम राय ने प्रधानाचार्य को पत्र देकर सेंटर खोलने की अनुमति दी है। प्रधानाचार्य प्रो. डॉ. संजीव कुमार ने पत्र मिलने की पुष्टि करते हुए बताया कि किशनगंज व आसपास के उर्दू भाषी छात्रों को इस सेंटर से लाभ होगा। हिंदी विभागाध्यक्ष व इग्नू सेंटर के को-कॉर्डिनेटर डॉ. सजल प्रसाद ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि मारवाड़ी कॉलेज का दायरा इससे काफी बढ़ जाएगा और खासकर ऊर्दू भाषी छात्र-छात्राएं का उच्च शिक्षा के प्रति रुझान बढ़ेगा। अंग्रेज़ी विभागाध्यक्ष डॉ. गुलरेज़ रोशन रहमान ने मानू सेंटर खोलने की अनुमति देने के लिए कुलपति व कुलसचिव को धन्यवाद दिया। उर्दू विभागाध्यक्ष डॉ. क़सीम अख़्तर ने कहा कि उन्हें सेंटर खुलने की अनुमति पाने का बेसब्री से इंतज़ार था और अब यह इंतज़ार खत्म हुआ। अन्य शिक्षक व शिक्षकेतर कर्मियों सहित छात्र-छात्राओं ने भी अपनी खुशी का इज़हार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.