🌹आज का पंचांग🌹

breaking News राज्य

त्रिलोकी नाथ प्रसाद:-
*दिनांक 9 सितम्बर 2022*
*विक्रम संवत 2079*
*शक संवत 1944*
*अयन – दक्षिणायन*
*गोल – सौम्यगोल*
*ऋतु – वर्षा*
*मास- भाद्रपद*
*पक्ष – शुक्लपक्ष*
*तिथि – चतुर्दशी सायं 05:35 तक उपरांत पूर्णिमा*
*दिन : शुक्रवार*
*नक्षत्र : धनिष्ठा दिन 11:54 तक उपरांत शतभिषा*
*योग : सुकर्मा*
*सूर्य नक्षत्र – पूर्वां फाल्गुनी*
*सूर्य राशि – सिंह*
*सूर्योदय – 05:33 रांची (झारखंड)*
*सूर्यास्त- 06:01*
*राहुकाल – 10:30 – 12:00*
*🌹🌷शुभ समय🌷🌹*
*अभिजित मुहूर्त : 11:36 – 12:24*
*🌹 शिव वास -:*
*14 + 14 + 5 = 33 ÷ 7 = 5 शेष*
*भोजन में = पीड़ादायक*
*शुक्लपक्ष की चतुर्दशी में रुद्रदेव भोजन करते हैं। इन तिथियों में सांसारिक कामना से किया गया रुद्राभिषेक पीडा देते हैं।*
*♨️अग्निवास :-*
*आकाश में – प्राणनाशक*
*राहुकाल वास: दक्षिण पूर्व में*
*दिशाशूल – शुक्रवार को पश्चिम दिशा और नैऋत्य कोण का दिशाशूल होता है यदि यात्रा अत्यंत आवश्यक हो तो दधि का सेवनकर प्रस्थान करें।*

*🌹आज का व्रत त्योहार🌹*

*अनन्त चतुर्दशी व्रत। मध्यान्ह में अनन्त भगवान का पूजन कथा श्रवण अनन्त धारण।* *श्रीशिवपरिवर्तनोत्सव। कदली व्रत। गणपति विसर्जन। पश्चिम दिशा में बुधास्त।*

*भाद्रपद के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी को अनंत चतुर्दशी व्रत होता है. इस दिन का विशेष महत्‍व है।*

*अनंत चतुर्दशी के दिन भगवान विष्णु के अनंत रूप की पूजा होती है। इस दिन 14 गांठें बनाकर अपने बाजू पर धागा बांधा जाता है। ये 14 गांठें हरि द्वारा उत्पन्न 14 लोकों चौदह लोकों तल, अतल, वितल, सुतल, तलातल, रसातल, पाताल, भू, भुवः, स्वः, जन, तप, सत्य, मह की रचना की प्रतीक है। ऐसी मान्यता है कि इस व्रत को यदि 14 वर्षों तक किया जाए, तो व्रती को विष्णु लोक की प्राप्ति होती है।*

*भगवान सत्यनारायण की तरह ही अनंत देव भी भगवान विष्णु को ही कहते हैं। इसलिए अनंत चतुर्दशी के दिन भगवान की व्रत कथा का पाठ किया जाता है। इसके साथ अनंत देव की कथा सुनी जाती है।*

*ऐसा माना जाता है कि व्रत रखने के साथ-साथ यदि जातक श्री विष्णु सहस्त्रनाम स्तोत्र का पाठ करता है, तो उसकी समस्त मनोकामना पूर्ण होती है.*

*पूजा विधि*

*1. सबसे पहले इस दिन सुबह-सुबह स्नान कर साफ या नया वस्त्र धारण करें।*

*2. भगवान विष्णु का ध्यान करते हुए व्रत का संकल्प लें।*

*3. इसके बाद पूजा स्थल पर कलश की स्थापना करें।*

*4. कलश पर अष्टदल कमल की तरह बने बर्तन में कुश से बने अनंत की स्थापना करें।*

*5. आप चाहें तो भगवान विष्णु की कोई तस्वीर भी लगा सकते हैं।*

*6. पूजा स्थल पर बैठकर एक डोरी या धागे में कुमकुम, केसर और हल्दी से रंगकर अनंत सूत्र बनाएं।*

*7. फिर इसमें 14 गांठें बना दें।*

*8. इसे भगवान विष्णु जी को चढ़ा दें।*

*9. अब भगवान विष्णु और अनंत सूत्र की षोडशोपचार विधि से पूजा शुरू करें।*

*10. इस मंत्र का जाप करें :*

*अनंत संसार महासुमद्रे मग्रं समभ्युद्धर वासुदेव।*

*अनंतरूपे विनियोजयस्व ह्रानंतसूत्राय नमो नमस्ते।।*

*11. पूजन के बाद अनंत सूत्र को बाजू में बांध लें।*

*12. याद रहे कि अनंत सूत्र पुरुष अपने दाएं हाथ पर बांधेंगे और महिलाएं बाएं हाथ पर।*

*13. ऐसा करने के बाद ब्राह्मण को भोजन कराएं और सपरिवार प्रसाद ग्रहण करें।*

🚩 *व्रत पर्व विवरण – अनंत चतुर्दशी, गणेश महोत्सव समाप्त, व्रत पूर्णिमा*
🔥 *विशेष – चतुर्दशी और पूर्णिमा के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)*
🌞 *~ वैदिक पंचांग ~* 🌞

🌷 *श्राद्ध पक्ष में अपनाए जाने वाले सभी मुख्य नियम*
➡ *10 सितम्बर 2022 शनिवार से महालय श्राद्ध आरम्भ ।*
👉🏻 *1) श्राद्ध के दिन भगवदगीता के सातवें अध्याय का माहात्म पढ़कर फिर पूरे अध्याय का पाठ करना चाहिए एवं उसका फल मृतक आत्मा को अर्पण करना चाहिए।*
👉🏻 *2) श्राद्ध के आरम्भ और अंत में तीन बार निम्न मंत्र का जप करें l*
➡ *मंत्र ध्यान से पढ़े :*
🌷 *ll देवताभ्यः पितृभ्यश्च महायोगिभ्य एव च l*
*नमः स्वाहायै स्वधायै नित्यमेव भवन्त्युत ll*
🙏🏻 *(समस्त देवताओं, पितरों, महायोगियों, स्वधा एवं स्वाहा सबको हम नमस्कार करते हैं l ये सब शाश्वत फल प्रदान करने वाले हैं l)*
👉🏻 *3) “श्राद्ध में एक विशेष मंत्र उच्चारण करने से, पितरों को संतुष्टि होती है और संतुष्ट पितर आपके कुल खानदान को आशीर्वाद देते हैं*
➡ *मंत्र ध्यान से पढ़े :*
🌷 *ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं स्वधादेव्यै स्वाहा|*
👉🏻 *4) जिसका कोई पुत्र न हो, उसका श्राद्ध उसके दौहिक (पुत्री के पुत्र) कर सकते हैं l कोई भी न हो तो पत्नी ही अपने पति का बिना मंत्रोच्चारण के श्राद्ध कर सकती है l*
👉🏻 *5) पूजा के समय गंध रहित धूप प्रयोग करें और बिल्व फल प्रयोग न करें और केवल घी का धुआं भी न करें|*
🙏🏻 *श्राद्ध महिमा पुस्तक से*
🌞 ~ *वैदिक पंचांग* ~ 🌞

💥

🌷 *अनंत चतुर्दशी* 🌷
➡ *09 सितम्बर 2022 शुक्रवार को अंनत चतुर्दशी है ।*
🙏🏻 *भाद्रपद मास के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी को अनन्त चतुर्दशी कहा जाता है। इस दिन अनन्त भगवान की पूजा करके संकटों से रक्षा करने वाला अनन्तसूत्र बांधा जाता है।*
🙏🏻 *कहा जाता है कि जब पाण्डव जुएं में अपना सारा राज-पाट हारकर वन में कष्ट भोग रहे थे, तब भगवान श्रीकृष्ण ने उन्हें अनन्तचतुर्दशी का व्रत करने की सलाह दी थी। धर्मराज युधिष्ठिर ने अपने भाइयों तथा द्रौपदी के साथ पूरे विधि-विधान से यह व्रत किया तथा अनन्तसूत्रधारण किया। अनन्तचतुर्दशी-व्रत के प्रभाव से पाण्डव सब संकटों से मुक्त हो गए।*
🙏🏻 *व्रत-विधान-व्रतकर्ता प्रात:स्नान करके व्रत का संकल्प करें। शास्त्रों में यद्यपि व्रत का संकल्प एवं पूजन किसी पवित्र नदी या सरोवर के तट पर करने का विधान है, तथापि ऐसा संभव न हो सकने की स्थिति में घर में पूजागृह की स्वच्छ भूमि पर कलश स्थापित करें। कलश पर शेषनाग की शैय्यापर लेटे भगवान विष्णु की मूर्ति अथवा चित्र को रखें। उनके समक्ष चौदह ग्रंथियों (गांठों) से युक्त अनन्तसूत्र (डोरा) रखें। इसके बाद “ॐ अनन्तायनम:” मंत्र से भगवान विष्णु तथा अनंतसूत्र की षोडशोपचार-विधिसे पूजा करें। पूजनोपरांत अनन्तसूत्र को मंत्र पढकर पुरुष अपने दाहिने हाथ और स्त्री बाएं हाथ में बांध लें-*
🌷 *अनंन्तसागर महासमुद्रे मग्नान्समभ्युद्धर वासुदेव।*
*अनंतरूपे विनियोजितात्माह्यनन्तरूपाय नमो नमस्ते॥*
🙏🏻 *अनंतसूत्र बांध लेने के पश्चात किसी ब्राह्मण को नैवेद्य (भोग) में निवेदित पकवान देकर स्वयं सपरिवार प्रसाद ग्रहण करें। पूजा के बाद व्रत-कथा को पढें या सुनें। कथा का सार-संक्षेप यह है- सत्ययुग में सुमन्तु नाम के एक मुनि थे। उनकी पुत्री शीला अपने नाम के अनुरूप अत्यंत सुशील थी। सुमन्तु मुनि ने उस कन्या का विवाह कौण्डिन्यमुनि से किया। कौण्डिन्यमुनि अपनी पत्नी शीला को लेकर जब ससुराल से घर वापस लौट रहे थे, तब रास्ते में नदी के किनारे कुछ स्त्रियां अनन्त भगवान की पूजा करते दिखाई पडीं। शीला ने अनन्त-व्रत का माहात्म्य जानकर उन स्त्रियों के साथ अनंत भगवान का पूजन करके अनन्तसूत्र बांध लिया। इसके फलस्वरूप थोडे ही दिनों में उसका घर धन-धान्य से पूर्ण हो गया।*
🌷 *कथा*
🙏🏻 *एक दिन कौण्डिन्य मुनि की दृष्टि अपनी पत्नी के बाएं हाथ में बंधे अनन्तसूत्र पर पडी, जिसे देखकर वह भ्रमित हो गए और उन्होंने पूछा-क्या तुमने मुझे वश में करने के लिए यह सूत्र बांधा है? शीला ने विनम्रतापूर्वक उत्तर दिया-जी नहीं, यह अनंत भगवान का पवित्र सूत्र है। परंतु ऐश्वर्य के मद में अंधे हो चुके कौण्डिन्यने अपनी पत्नी की सही बात को भी गलत समझा और अनन्तसूत्रको जादू-मंतर वाला वशीकरण करने का डोरा समझकर तोड दिया तथा उसे आग में डालकर जला दिया। इस जघन्य कर्म का परिणाम भी शीघ्र ही सामने आ गया। उनकी सारी संपत्ति नष्ट हो गई। दीन-हीन स्थिति में जीवन-यापन करने में विवश हो जाने पर कौण्डिन्यऋषि ने अपने अपराध का प्रायश्चित करने का निर्णय लिया। वे अनन्त भगवान से क्षमा मांगने हेतु वन में चले गए। उन्हें रास्ते में जो मिलता वे उससे अनन्तदेवका पता पूछते जाते थे। बहुत खोजने पर भी कौण्डिन्यमुनि को जब अनन्त भगवान का साक्षात्कार नहीं हुआ, तब वे निराश होकर प्राण त्यागने को उद्यत हुए। तभी एक वृद्ध ब्राह्मण ने आकर उन्हें आत्महत्या करने से रोक दिया और एक गुफामें ले जाकर चतुर्भुज अनन्तदेव का दर्शन कराया।*
🙏🏻 *भगवान ने मुनि से कहा-तुमने जो अनन्तसूत्र का तिरस्कार किया है, यह सब उसी का फल है। इसके प्रायश्चित हेतु तुम चौदह वर्ष तक निरंतर अनन्त-व्रत का पालन करो। इस व्रत का अनुष्ठान पूरा हो जाने पर तुम्हारी नष्ट हुई सम्पत्ति तुम्हें पुन:प्राप्त हो जाएगी और तुम पूर्ववत् सुखी-समृद्ध हो जाओगे। कौण्डिन्यमुनि ने इस आज्ञा को सहर्ष स्वीकार कर लिया। भगवान ने आगे कहा-जीव अपने पूर्ववत् दुष्कर्मो का फल ही दुर्गति के रूप में भोगता है।मनुष्य जन्म-जन्मांतर के पातकों के कारण अनेक कष्ट पाता है। अनन्त-व्रत के सविधि पालन से पाप नष्ट होते हैं तथा सुख-शांति प्राप्त होती है। कौण्डिन्यमुनि ने चौदह वर्ष तक अनन्त-व्रत का नियमपूर्वक पालन करके खोई हुई समृद्धि को पुन:प्राप्त कर लिया।*

📖
📒 )*
🌞 *~ वैदिक पंचांग ~* 🌞
🙏🍀🌷🌻🌺🌸🌹🍁🙏 जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं बधाई और शुभ आशीष
अंक ज्योतिष का सबसे आखरी मूलांक है नौ। आपके जन्मदिन की संख्या भी नौ है। यह मूलांक भूमि पुत्र मंगल के अधिकार में रहता है। आप बेहद साहसी हैं। आपके स्वभाव में एक विशेष प्रकार की तीव्रता पाई जाती है। आप सही मायनो में उत्साह और साहस के प्रतीक हैं। मंगल ग्रहों में सेनापति माना जाता है।

अत: आप में स्वाभाविक रूप से नेतृत्त्व की क्षमता पाई जाती है। लेकिन आपको बुद्धिमान नहीं माना जा सकता। मंगल के मूलांक वाले चालाक और चंचल भी होते हैं। आपको लड़ाई-झगड़ों में भी विशेष आनंद आता है। आपको विचित्र साहसिक व्यक्ति कहा जा सकता है।

शुभ दिनांक : 9, 18, 27

शुभ अंक : 1, 2, 5, 9, 27, 72

शुभ वर्ष : 2025, 2036, 2045

ईष्टदेव : हनुमान जी, मां दुर्गा।

शुभ रंग : लाल, केसरिया, पीला

कैसा रहेगा यह वर्ष
अपनी शक्ति का सदुपयोग कर प्रगति की और अग्रसर होंगे। पारिवारिक विवाद सुलझेंगे। महत्वपूर्ण कार्य योजनाओं में सफलता मिलेगी। अधिकार क्षेत्र में वृद्धि संभव है। नौकरी में आ रही बाधा दूर होगी। स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा। राजनैतिक व्यक्ति सफलता का स्वाद चख सकते हैं। मित्रों स्वजनों का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी

मेष दैनिक राशिफल (Aries Daily Horoscope)
आज का दिन आपके लिए उत्तम रूप से फलदायक रहने वाला है। यदि आप अपने मित्र से आज किसी को धन उधार देने की बात करें,तो उन्हें अवश्य दे,नहीं तो वह आपसे नाराज हो सकते हैं। आप बाकी कामों के साथ-साथ अपने लिए भी कुछ समय निकालने की सोचेंगे,जिससे आप अपनी कुछ जरूरत की खरीदारी भी कर सकते हैं। आपको परिवार में चल रही कलह को मिलजुलकर समाप्त करना होगा। माताजी आज आपके साथ किसी धार्मिक कार्यक्रम के आयोजन में सम्मलित हो सकती हैं।

वृष दैनिक राशिफल (Taurus Daily Horoscope)
आज आपका मन प्रसन्न रहेगा। परिवार के लोगों का पूरा साथ मिलने से आज आपको खुशी होगी और आप किसी अच्छे मकान अथवा किसी नयी गाडी को अपने घर लेकर आ सकते हैं। आप अपने रहन-सहन में भी कुछ बदलाव करेंगे और जीवनसाथी के करियर को लेकर आप चिंतित हो सकते हैं। परिवार का कोई सदस्य आपकी बात मान एक नौकरी को छोड़कर दूसरी को कर सकता है। आपको किसी भी जोखिम को उठाने से पहले सोच विचार अवश्य करना होगा,नहीं तो वह गलत हो सकता है।

मिथुन दैनिक राशिफल (Gemini Daily Horoscope)
आज का दिन आपके लिए महत्वपूर्ण रहने वाला है। आपका कोई रुका हुआ काम पूरा होने से वह आपको ज्यादा लाभ देकर जाएगा,जिससे आपके मन में खुशी बनी रहेगी। आप नौकरी में भी अधिकारियों से अपने मन की बात कहने में सोचेंगे नहीं और वह भी आपके द्वारा दिए गए सुझावों का पूरा स्वागत करेंगे,जो लोग राजनीति में हाथ आजमा रहे हैं,उन्हें अपने आसपास के लोगों से सावधान रहना होगा नहीं तो वह उनकी छवि खराब करने की कोशिश कर सकते हैं। बहन के विवाह में आ रही समस्या आज किसी मित्र की मदद से दूर होगी।

कर्क दैनिक राशिफल (Cancer Daily Horoscope)
सामाजिक क्षेत्र में कार्यरत लोगों के लिए समय अच्छा रहने वाला है,उनके अच्छे कार्यों से समाज में मान सम्मान और बढ़ेगा। आप अपने व्यवसाय में ज्यादा ध्यान देंगे, जिसके कारण आप परिवार के सदस्यों को समय नहीं दे पाएंगे। आप अपने अच्छे व्यवहार से आज लोगों को अपनी ओर आकर्षित करने में कामयाब रहेंगे। आपके आज कुछ अच्छे लोगों से संपर्क स्थापित कर सकते हैं। विद्यार्थी को अपनी मेहनत का पूरा फल मिलेगा। संतान को किसी अच्छी नौकरी के मिलने से आपको उनके करियर की चिंता समाप्त होगी।
सिंह दैनिक राशिफल (Leo Daily Horoscope)
आज का दिन आपके लिए भाग्य के दृष्टिकोण से अच्छा रहने वाला है। आपको परिवार के वरिष्ठ सदस्यों द्वारा कोई ऐसी सलाह मिलेगी,जो आपके लिए अच्छी होगी, इसलिए आपको उसे नजरअंदाज नहीं करना है,लेकिन आप यदि किसी काम को भाग्य के भरोसे करेंगे,तो उसमें सफलता हासिल करने में कामयाब रहेंगे। आर्थिक स्थिति की यदि आपको कुछ चिंता थी,तो वह पहले से मजबूत होगी। आपके निर्णय लेने की क्षमता का आपको लाभ मिलेगा।

कन्या दैनिक राशिफल (Virgo Daily Horoscope)
आज का दिन आपके लिए धन लाभ के मामले में अच्छा रहने वाला है। आपके मन में कुछ नए नए विचार आएंगे,जिन्हे आपको अपने व्यापार में तुरंत आगे बढ़ाना होगा, जिनसे आप अच्छा लाभ कमाने में कामयाब रहेंगे। आपको अटके हुए कार्य को पूरा करने के लिए आज किसी मित्र के साथ की आवश्यकता होगी। धन लाभ मिलने से आप परिवार के किसी सदस्य से किए हुए वादे को भी पूरा कर सकते हैं। आपका कोई कानूनी संबंधित विवाद आपके लिए थोड़ा परेशानी तो लेकर आएगा,लेकिन आप उसमें सफलता हासिल करेंगे।
तुला दैनिक राशिफल (Libra Daily Horoscope)
आज का दिन आपके लिए संतान पक्ष की ओर से कोई शुभ समाचार लेकर आ रहा है। आप अपनी क्रिएटिविटी से कार्यक्षेत्र में अधिकारियों को अपनी ओर आकर्षित करने में कामयाब रहेंगे और वह भी आपकी बात मानेंगे। आपको बिजनेस कर रहे लोगों को अपनी योजनाओं को किसी के सामने जाहिर नहीं करना है,नहीं तो वह इसका बुरा मान सकते हैं। यदि आपका कोई आवश्यक कार्य पेंडिंग चल रहा है,तो आपको आज उसे पहले पूरा करना होगा।

वृश्चिक दैनिक राशिफल (Scorpio Daily Horoscope)
आज के दिन आप कुछ विशेष कर दिखाने के उधेड़बुन में लगे रहेंगे। बिजनेस का आपको अच्छा लाभ मिलेगा और अन्य किसी अनुभवी व्यक्ति की सलाह आपके लिए लाभदायक सिद्ध होगी। आज आपको किसी निवेश को करने से पहले अपने भाइयों से सलाह मशवरा लेना होगा,जो विद्यार्थी कला के क्षेत्र से जुड़े हैं,वह आज किसी प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं। परिवार में किसी सदस्य के बात आपको बुरा लग सकती है।

धनु दैनिक राशिफल (Sagittarius Daily Horoscope)
आज का दिन आपके लिए मेहनत भरा रहेगा। आप यदि सच्चे मन से किसी काम को करेंगे,तो उसमें आपकी मेहनत रंग लाएगी और आप उसमें सफलता अवश्य हासिल करेंगे,लेकिन लेनदेन के जरूरी मामलों में आपको सावधानी बरतनी होगी। आपको अपनी आंख व कान खुले रखने होगा,नहीं तो कोई आपके साथ धोखा कर सकता है। आपको किसी परिजन की ओर से कोई सुखद सूचना सुनने को मिल सकती है,जिससे आपका मन प्रसन्न रहेगा। विद्यार्थी किसी खेल प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं।

मकर दैनिक राशिफल (Capricorn Daily Horoscope)
आज का दिन सामाजिक क्षेत्रों में कार्यरत लोगों के लिए उत्तम रहने वाला है। आप अपनी मीठी बातों से लोगों से खूब वाहवाही लूटेंगे और साख चारों ओर फैलेगी। जीवनसाथी के लिए यदि आप किसी व्यवसाय को करेंगे,तो वह अच्छा लाभ देगी। आपको अपने खान-पान की आदतों में बदलाव लाने की आवश्यकता है,नहीं तो पेट संबंधी समस्या हो सकती है। आपको अत्यधिक तले भुने भोजन से परहेज रखना बेहतर रहेगा। आपके परिवार में बिना किसी बात के कोई वाद विवाद हो सकता है,जिसमें आप को शांत रहना होगा।
कुंभ दैनिक राशिफल (Aquarius Daily Horoscope)
आज का दिन आपके उत्तरदायित्वों की पूर्ति करने के लिए रहेगा। आप अपनी दैनिक आवश्यकताओं की वस्तुओं की खरीदारी भी कर सकते हैं,जिनमें आपको जरूरी वस्तुएं खरीदना ही बेहतर रहेगा,नहीं तो आप अपने काफी धन को समाप्त कर देंगे। व्यापारिक क्षेत्रों के लिए यदि आपको किसी यात्रा पर जाने का मौका मिले,तो अवश्य जाएं,जो आपके लिए लाभदायक रहने वाली है। आपको अपने भविष्य की चिंता सताएगी,जिसके कारण आप कुछ धन संचय करने पर भी विचार कर सकते हैं।

मीन दैनिक राशिफल (Pisces Daily Horoscope)
आज का दिन आपके लिए अच्छा लाभ दिलाने वाला रहेगा। व्यवसाय कर रहे लोग अपने व्यवसाय में जी तोड़ मेहनत करेंगे और जिसके कारण वह अपने व्यवसाय की कुछ रुकी हुई योजनाओं को पूरा करके उन्हें गति देंगे और उनसे अच्छा लाभ मिल सकता है,लेकिन व्यवसाय से जुड़ी यदि कोई समस्या चल रही थी,तो वह भी आज खुल जाएगी। नौकरी कर रहे जातकों की काम की गति थोड़ी धीमी रहेगी,जिसके कारण अधिकारी भी उनसे ना खुश रहेंगे। आपको किसी विपरीत परिस्थिति में भी शांत रहना बेहतर रहेगा,जिससे आप अपने रिश्तो को भी बेहतर बना पाएंगे

🤷🏻‍♀ *_आज जिन भाई-बहनों का जन्मदिन या शादी की सालगिरह है उन सभी भाई-बहनों को हार्दिक शुभकामनाएँ_।🙏विलंब के लिए खेद है* 🙏🙏

*आपका दिन मंगलमय हो*
*आचार्य ब्रजेश मिश्र तंत्र एवं ज्योतिष* *सम्पर्क नं 7992327070*
🌹🌹🌹🌹🌹🌹