यह छात्र हुंकार है, पलामू में व्याप्त सामाजिक अराजकता के विरुद्ध अधिकार है – याज्ञवल्क्य

breaking News ताजा खबर प्रमुख खबरें योजना राजनीति राज्य

केवल सच – पलामू

मेदिनीनगर – अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा पलामू जिला अंतर्गत मेदिनीनगर के द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय सभागार में पलामू जिला सम्मेलन का आयोजन किया गया।इस कार्यक्रम की अध्यक्षता अभय वर्मा एवं संचालन विभाग छात्रा प्रमुख सुश्री दीक्षा कुमारी ने किया,इस आयोजन के मुख्य वक्ता अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ला  रहे । कार्यक्रम के पूर्व परिषद के कार्यकर्ताओं के द्वारा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ल का गर्मजोशी से स्वागत किया गया। परिषद् के कार्यकर्ताओं ने स्वागत करते हुए उन्हें रैली के माध्यम से बिसफुटा पूल होते हूए , पुलिस लाइन होते हूए,छह मूहान चौक होते हुए , सुभाष मंजिल चौक होते हुए , अपने दीनदयाल उपाध्याय सभागार में प्रवेश कराया गया। तत्पश्चात कार्यक्रम का उद्घाटन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष प्रो० के०के मिश्रा,मुख्य वक्ता और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ला ,झारखंड प्रदेश की छात्रा सह प्रमुख स्नेहा गुप्ता,जिला प्रमुख के०सी झा,जिला संयोजक अभय वर्मा,नगर मंत्री रामा शंकर पासवान उपस्थित थे। सभी मंचासीन कार्यकर्ताओं को अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया , तत्पश्चात दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया गया।

परिषद के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ला ने कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद पलामू का यह छात्र हुंकार है, पलामू में व्याप्त शैक्षणिक अराजकता के विरुद्ध अधिकार है ,पलामू में व्याप्त सामाजिक अराजकता के विरुद्ध का हुंकार है और इस हूंकार का उद्देश्य ही है यहां से शिक्षा और सामाजिक परिदृश्य को लेकर के जो चर्चाएं होंगी उसे समाज तक ले जाया जाए और समाज और शैक्षणिक परिसरों में सकारात्मक शैक्षिक माहौल स्थापित करने हेतु कार्य किए जाएं। कार्यक्रम के उद्घाटन भाषण में जिला संयोजक अभय वर्मा ने कार्यक्रम की विधिवत जानकारी दी ।

तत्पश्चात प्राध्यापक के के मिश्रा ने अपने उद्बोधन में कहा कि विद्यार्थी परिषद अपने स्थापना काल से ही राष्ट्रहित की भावना से परिपूर्ण होकर समाज हित और छात्र हित में कार्य करने हेतु निरंतर लगा हुआ है और आज  संघर्ष और साधना के 75 वर्ष पूर्ण हो चुके हैं। कार्यक्रम में पलामू के वर्तमान शैक्षिक परिदृश्य और पलामू के वर्तमान सामाजिक परिदृश्य पर प्रस्ताव भी पारित किए गए , जिसको आधार बनाकर परिषद के कार्यकर्ता अगले एक वर्ष तक शैक्षणिक परिसर और समाज के लोगों के बीच कार्य करेंगे। झारखंड की वर्त्तमान शक्षैणिक परिदृश्य में शिक्षा मनुष्य के सामाजिक जीवन का एक बहुत ही आवश्यक साधन है,शिक्षा के माध्यम से मनुष्य समाज में प्रतिष्ठा व सम्मान अर्जित करता है।
राज्य गठन के 22 वर्ष बीत जाने के बाद भी आज राज्य की शिक्षा व्यवस्था आ संतोषजनक हैं। विश्वविद्यालय में व्याप्त शैक्षणिक अराजकता को राज्य सरकार दूर करे । पलामू जिले के सभी स्कूलों एवं महाविद्यालयों में शिक्षकों की घोर कमी को राज्य सरकार अविलंब दूर करे , आदि अनेक प्रकार के विषयों का मंथन किया गया एवं पारित किया गया,तत्पश्चात शोभायात्रा पूरे शहर में निकाली गई। शोभायात्रा में अल्पसंख्यक मोर्चा के द्वारा परिषद के कार्यकर्ताओं पर पुष्प वर्षा किया गया एवं राष्ट्रीय महामंत्री को अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया गया। महिंद्रा आर्केड के साहिबजीत नामधारी ने पुष्प वर्षा किया  एवं पगड़ी बांधकर सम्मानित किया। साथ ही शहर के प्रतिष्ठित व्यवसायियों के द्वारा भी परिषद के कार्यकर्ताओं की शोभायात्रा पर पुष्प वर्षा किया गया एवं राष्ट्रीय महामंत्री को भी सम्मानित किया गया,तत्पश्चात छह मुहान पर खुला अधिवेशन का आयोजन किया गया। इसका संचालन प्रदेश सोशल मीडिया प्रमुख रोहित देव ने किया।

इस अवसर पर उपस्थित वक्ताओं में परिषद के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य विनीत पांडे ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार के द्वारा शिक्षा के नाम पर छात्रों को जो छलने का प्रयास किया जा रहा है वह अत्यंत ही दुर्भाग्यपूर्ण है।बेरोजगारी से छात्र परेशान हैं , वर्तमान झारखंड सरकार छात्रों के साथ जो व्यवहार कर रही है वह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। ऐसे सरकारों को परिषद के कार्यकर्ताओं के द्वारा उखाड़ फेंकने का कार्य किया जाएगा। विभाग छात्रा प्रमुख दीक्षा कुमारी ने कहा कि छात्राओं के साथ हो रहे दुर्व्यवहार अत्यंत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। राज्य सरकार को कड़ी कानून बनाने की आवश्यकता है,अन्यथा पूरे प्रदेश की छात्राएं अपने हित हेतु बिगुल फूंक आएगी और ऐसे भ्रष्ट सरकार को उखाड़ फेंकने का कार्य करेगी। नगर सह मंत्री अभिषेक कुमार रवि ने छात्रों को नशाखोरी से दूर रहने की सलाह दी। जिला एस एफ डी प्रमुख सुमित पाठक ने विश्वविद्यालय – महाविद्यालय में व्याप्त शैक्षणिक अराजकता को इंगित करते हुए कहा कि वर्तमान राज्य सरकार इस पर अविलंब कड़ी करवाई करे अन्यथा विद्यार्थी परिषद सड़क से लेकर सदन तक आंदोलन करेगी।नगर मंत्री रामा शंकर पासवान ने धन्यवाद ज्ञापन कर कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की । जिला संयोजक अभय वर्मा,एफ डी प्रमुख सुमित पाठक,नगर मंत्री रामा शंकर पासवान, विभाग छात्रा प्रमुख दीक्षा कुमारी,प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य गोविंद मेहता,विवेक तिवारी,नगर सह मंत्री अभिषेक रवी, नीतीश दुबे ,सुमित पाठक,रोहित दुबे रोहित गुप्ता,प्रकाश पांडे ,अंकित लाल ,मनीष कुमार ,अनूप कुमार, शुभम पांडे ,अवधेश कुमार ,उज्जवल तिवारी रंजीत कुमार संजीत कुमार सविता,कुमारी नीरज,कुमार प्रिया बोदरा,आनंद विश्वकर्मा गौरव दुबे,निकिता कूमारी अमित कुमार तिवारी,अमित दुबे, जिला सोशल मीडिया प्रमुख राजन कश्यप,कविता कुमारी आदि हजारों की संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित थे ।