किशनगंज : सिलीगुड़ी में पकड़ा गया जासूस, चलाता था टोटो और सेना की जानकारी भेजता था पाकिस्तान।

breaking News District Adminstration Kishanganj अपराध ताजा खबर प्रमुख खबरें राज्य

किशनगंज/धर्मेन्द्र सिंह, राज्य पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने किशनगंज से सटे पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में एक पाकिस्तानी जासूस को गिरफ्तार किया है। एसटीएफ के डीएसपी सुदीप भट्टाचार्य ने आरोपी जासूस की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। गिरफ्तारी के बाद एसटीएफ ने आरोपी को जलपाईगुड़ी कोर्ट में पेश किया। जहां से न्यायाधीश ने उसे 14 दिनों तक हिरासत में रखने का आदेश दिया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, आरोपी का नाम गुड्डू कुमार है। बताया जा रहा है कि वह जांच एजेंसी को पूरा सहयोग नहीं कर रहा है जिससे तफ्तीश के दिक्कत हो रही है। लेकिन, जांच एजेंसी सख्ती से पूछताछ कर जानकारी जुटाने में लगी है। जानकारी सामने आई है कि आरोपी बिहार के मोतीहारी (पूर्वी चंपारण) का रहनेवाला है। एसटीएफ सूत्रों के अनुसार, गुड्डू के बारे में केंद्रीय एजेंसी से राज्य पुलिस को जानकारी दी गई। इसके आधार पर एसटीएफ ने गुड्डू के मोबाइल को ट्रेस करना शुरू किया। बताया जाता है आरोपी सिलीगुड़ी में किराये के मकान में रहता था और टोटो चलाता था। वह टोटो के साथ शहर और आसपास के विभिन्न इलाकों में जाता था। सूत्रों के अनुसार, करीब 2 साल से वह सिलीगुड़ी और आसपास के इलाकों के सेना के कैंपों की जानकारी पाकिस्तान भेजता था और इसके लिए रुपए लेता था। हाल के दिनों में बॉर्डर क्षेत्र के जिलों से यह दूसरी गिरफ्तारी है। इससे पहले 3 नवंबर को किशनगंज जिले के गलगलिया थाना क्षेत्र से पाकिस्तानी मूल की महिला फरीदा मल्लिक को गिरफ्तार किया था। वह किशनगंज के रास्ते नेपाल जाने की फिराक में थी। बहरहाल, बॉर्डर क्षेत्र के जिलों से लगातार दूसरी गिरफ्तारी बड़े सवाल खड़ा करता है। अब यह गिरफ्तारी दर्शाती है कि बिहार के सीमावर्ती जिलों में देश विरोधी तत्व अपना नेटवर्क बढ़ा चुके हैं जो सभी जांच एजेंसियों के लिए बड़ी चुनौती बन चुकी है।