किशनगंज : मनरेगा योजना के तहत किए गए वृक्षारोपण देख रेख नही होने के कारण के छोटे-छोटे वृक्ष सूखे।

breaking News District Adminstration Kishanganj Thakurganj राज्य

किशनगंज-ठाकुरगंज/फरीद अहमद, जिले के ठाकुरगंज प्रखंड अंतर्गत मालिन गांव पंचायत में मनरेगा योजना वृक्षारोपण के तहत कब्रिस्तान में किए गए वृक्षारोपण के बाद छोटे-छोटे वृक्ष की देखरेख ना होने के कारण कई छोटे-छोटे वृक्ष सूख गए और कई छोटे-छोटे वृक्ष गायब हो गये। मनरेगा योजना के नाम पर लूट तो मची हुई है ही साथ ही साथ वृक्षारोपण में भारी लापरवाही भी सामने आ रही है। वृक्षा रोपण के बाद वृक्ष की देखरेख नियमित रूप से अनिवार्य होता है लेकिन कब्रिस्तान में वृक्षारोपण किया गया और देख कर ऐसा लग रहा है कि वृक्षारोपण के बाद छोटे-छोटे वृक्ष की देखरेख कि ही नहीं गई है। वही छोटे-छोटे वृक्षों में पानी नहीं डालने के कारण जमीन पूरी तरीके से सूखी हुई भी मिली। छोटे-छोटे वृक्ष को बांस से बनाई गई सामग्री से घेराबंदी तो कर दी गई है लेकिन देखरेख के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है। मौके पर कई वृक्ष घेराबंदी के अंदर ही सूखे हुए पाए गए। कहीं ना कहीं छोटे-छोटे वृक्ष की देखरेख करने वाले की लापरवाही सामने आ रही है जिसके कारण छोटे-छोटे वृक्षों का यह हाल हुआ है। सुचना पट के अनुसार महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी स्कीम बिहार जिला किशनगंज, प्रखंड ठाकुरगंज, पंचायत मालिनगाँव, कार्य का नाम-कब्रिस्तान एवं तालाब में वृक्षारोपन कार्य। कार्य आईडी DP/20370531 योजना सं. 10/2022-23 प्रा. राशि-6,41,649/-₹ श्रम-4,10,76/-₹ सामग्री- 2,30,889/-₹ कार्य पर व्यय कार्य प्रा०. तिथि-19/07/2022 प्रस्तावित-1956-No मजदूरी दर- 210/-₹ कार्य एजेंसी-ग्राम पं. मालिनगाँव। सूचना पट्ट में उल्लेखित योजना से संबंधित जानकारी में बहुत सारी जानकारियां सूचना पट्ट में लिखी ही नहीं गई है यह कहना बिल्कुल उचित होगा कि जनता से यह जानकारियां किसी ना किसी बहाने छुपाने का प्रयास किया जा रहा है। जो जांच का विषय है।