अररिया : स्वास्थ्य सेवाओं में अपेक्षित सुधार हेतु सामूहिक प्रयास की जरूरत : डीएम

breaking News District Adminstration राज्य

जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित अभियान का किया औचक निरीक्षण।

  • जिले में कोरोना टीकाकरण के साथ-साथ पीएमएसएमए के तहत विशेष अभियान संचालित।

अररिया/अब्दुल कैय्यूम, जिले में गुरुवार को कोरोना टीकाकरण सहित गर्भवती महिलाओं के प्रसव पूर्व जांच को लेकर विशेष अभियान संचालित किया गया। राज्य में बढ़ते संक्रमण के मामलों को देखते हुए विभागीय निर्देश के आलोक में जिले में हर सप्ताह गुरुवार को विशेष टीकाकरण अभियान संचालित करने का निर्देश प्राप्त है। वहीं मातृत्व स्वास्थ्य कार्यक्रम को महत्वपूर्ण मानते हुए विभाग ने बाद में टीकाकरण अभियान के साथ-साथ प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के संचालन का निर्देश जारी किया था। प्राप्त विभागीय निर्देश के आलोक में जिले में पीएमएसएमए एवं कोरोना टीकाकरण को लेकर संयुक्त रूप से संचालित अभियान बेहद सफल रहा। जिलाधिकारी श्रीमती इनायत खान ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित अभियान का लगातार मॉनेटरिंग कर रही थीं। जिलाधिकारी श्रीमती इनायत खान ने कोरोना टीकाकरण एवं पीएमएसएमए अभियान के तहज स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित अभियान का कई स्थानों पर औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में भरगामा पहुंचे जिलाधिकारी ने अस्पताल में उपलब्ध स्वास्थ्य सुविधाओं, भंडार में उपलब्ध दवाओं, ओपीडी सेवा सहित आम लोगों को उपलब्ध कराये जा रहे महत्वपूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में जरूरी पड़ताल की। उन्होंने कहा कि राज्य के विभिन्न जिलों के साथ अररिया जिले में कोरोना संक्रमण का खतरा लगातार बढ़ रहा है। इसे लेकर विशेष एहितायती उपायों पर गंभीरता पूर्वक अमल करने का निर्देश उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों को दिया। डीएम ने कहा कि कोरोना टीकाकरण पर प्रभावी नियंत्रण के साथ-साथ जिले में मातृत्व शिशु मृत्यु दर के मामलों में कमी लाते हुए निर्धारित स्वास्थ्य मानकों में सुधार को लेकर एकजूट प्रयास की जरूरत है। इसे लेकर विस्तृत रणनीति के तहत निर्धारित लक्ष्य प्राप्ति की दिशा में प्रयास किया जा रहा है। सिविल सर्जन डॉ विधानचंद्र सिंह ने कहा कि जिलाधिकारी के निर्देश पर स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार को लेकर जरूरी प्रयास किये जा रहे हैं। इसी कड़ी में गुरुवार को जिले में कोरोना टीकाकरण एवं पीएमएसएमए अभियान का संचालन साथ-साथ किया गया। उन्होंने बताया कि अभियान के तहत अंतिम रिपोर्ट प्राप्त होने तक 15 हजार से अधिक लाभुकों को टीकाकृत किया जा चुका है। वहीं पीएमएसएमए अभियान के तहत तीन हजार से अधिक गर्भवती महिलाओं का प्रसव पूर्व जांच करते हुए लगभग 300 प्रसव संबंधी जटिल मामलों को चिह्नित किये जाने की जानकारी उन्होंने दी।मौके पर डीआईओ डॉ मोईज, यूएनडीपी के वीसीसीएम मो शकील आजम, भरगामा पीएचसी प्रभारी डॉ संतोष कुमार सहित संबंधित स्वास्थ्य अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.