आगामी दुर्गापूजा, गाँधी मैदान में आयोजित रावण वध कार्यक्रम एवं नगरपालिका आम निर्वाचन, 2022 के अवसर पर विधि-व्यवस्था संधारण हेतु डीएम व एसएसपी ने की बैठक।।…

breaking News बगहा

आसूचना तंत्र को सुदृढ़ एवं सक्रिय रखें, संवेदनशील स्थानों पर विशेष सतर्कतामूलक कार्रवाई करेंः डीएम व एसएसपी ने दिया निदेश

असामाजिक तत्वों पर सतत कड़ी निगरानी रखने एवं अफवाहों का त्वरित खंडन करने का पदाधिकारियों को दिया गया निदेश

विशेष सतर्कता बरतें, सभी भागीदारों के साथ संवाद कायम रखेंः डीएम

सघन पेट्रोलिंग सुनिश्चित करेंः एसएसपी

विधि-व्यवस्था संधारण प्रशासन की सर्वाेच्च प्राथमिकताः डीएम व एसएसपी

त्रिलोकी नाथ प्रसाद:-पटना, गुरूवार, दिनांक 22.09.2022ः- जिला दण्डाधिकारी, पटना डॉ. चन्द्रशेखर सिंह एवं वरीय पुलिस अधीक्षक, पटना श्री मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कहा है कि दुर्गापूजा, गाँधी मैदान में आयोजित रावण वध कार्यक्रम एवं नगरपालिका आम निर्वाचन, 2022 के अवसर विधि-व्यवस्था संधारण प्रशासन की सर्वाेच्च प्राथमिकता है। पदाधिकारीगण आसूचना तंत्र को सुदृढ़ एवं सक्रिय रखें तथा संवेदनशील स्थानों पर विशेष सतर्कतामूलक कार्रवाई करें। अधिकारीद्वय आज समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में इस विषय पर आयोजित एक बैठक में पदाधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने कहा कि दिनांक 26.09.2022 को शारदीय नवरात्रा की कलश स्थापना होगी। विजयादशमी दिनांक 05.10.2022 को होने की संभावना है। नवरात्रा के क्रम में दिनांक 02, 03, 04 एवं 05 अक्टूबर, 2022 को क्रमशः सप्तमी, अष्ठमी एवं नवमी तथा विजयादशमी मनाया जाएगा। इस अवसर पर विभिन्न देवालयों तथा सावर्जनिक दुर्गा पूजन स्थलों पर श्रद्धालुओं की काफी भीड़ होने की संभावना है।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने कहा कि बिना किसी प्रतिबंध के दो साल के बाद दुर्गापूजा का आयोजन हो रहा है। नगरपालिका चुनाव के अवसर पर जिले के नगर निकाय क्षेत्रों में आदर्श आचार संहिता प्रभावी है एवं विधिवत रूप से चुनाव परिणाम की घोषणा तक यह जारी रहेगी। अधिकारीद्वय ने कहा कि आदर्श आचार संहिता का अनुपालन, विधि-व्यवस्था संधारण, यातायात प्रबंधन, शांति-व्यवस्था तथा भीड़ प्रबंधन हेतु यथेष्ट प्रशासनिक सतर्कता, यथोचित निगरानी तथा सुरक्षामूलक कार्रवाई किया जाना आवश्यक है।

बैठक में जिला पदाधिकारी द्वारा विभिन्न दुर्गापूजा समितियों के प्रतिनिधियों के साथ आवश्यक विचार-विमर्श किया गया।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने सभी पदाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगरानी रखें। सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेल को क्रियाशील रखें तथा अफवाहों का त्वरित खंडन करें।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने अनुमंडलवार तैयारियों की समीक्षा की। अधिकारीद्वय ने अनुमंडल पदाधिकारियों एवं अपर पुलिस अधीक्षकों/अनुमंडल पुलिस पदाधिकारियों को ससमय शांति समिति की बैठक आयोजित करने का निदेश दिया। सभी पदाधिकारी संवेदनशील एवं अतिसंवेदनशील स्थानों पर विशेष सतर्कता बरतेंगे तथा असामाजिक तत्वों के विरूद्ध निरोधात्मक एवं दण्डात्मक कार्रवाई करेंगे। कॉम्युनिकेशन प्लान सुनिश्चित कर विधि-व्यवस्था का संधारण करेंगे। पंडाल का निर्माण तथा प्रतिमा विसर्जन हेतु निर्धारित मानकों का अनुपालन अनिवार्य है।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने कहा कि सभी पदाधिकारी पूजा आयोजन हेतु शत-प्रतिशत अनुज्ञप्ति निर्गत/नवीकरण कराना सुनिश्चित करेंगे। अनुज्ञप्ति में अंकित जुलूस मार्ग का शत-प्रतिशत भौतिक सत्यापन भी सुनिश्चित करेंगे। मूर्ति की ऊँचाई 20 फीट तक सीमित रहेगी तथा उपरी संरचना(पंडाल) की ऊँचाई 40 फीट तक सीमित रहेगी। अधिकारीद्वय ने कहा कि उत्कृष्ट भीड़-प्रबंधन सुनिश्चित करने के लिए हम सबको तत्पर एवं प्रतिबद्ध रहना होगा। पार्किंग की समुचित व्यवस्था रहनी चाहिए। शौचालय एवं पेयजल की बेहतर सुविधा सुनिश्चित की जाए।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि आयोजन एवं पंडाल की अनुज्ञप्ति में ही यह शर्त प्रविष्ट करेंगे कि पूजा समिति के आयोजक पूजा पंडालों में चिन्हित स्थानों पर सी.सी.टी.वी. कैमरों का अस्थायी रूप से अधिष्ठापन करवायेंगें, ताकि भीड़ की गतिविधियों पर कड़ी नजर रखी जा सके। पंडालों के पास सीसीटीवी की व्यवस्था रहनी चाहिए। किसी भी प्रकार के अफवाह से बचने तथा सोशल मीडिया पर भी अफवाहों से बचने हेतु व्यापक प्रचार-प्रसार के साथ ही माईकिंग भी कराया जाय। अफवाह फैलाने वाले असामाजिक तत्वों के विरूद्ध सुसंगत धाराओं के अंतर्गत नियमानुसार कार्रवाई भी सुनिश्चित करेंगे। आपतिजनक स्लोगन, कार्टुन इत्यादि पर रोक है। इसे सभी पदाधिकारी सख्ती से सुनिश्चित करेंगे।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने कहा कि मूर्ति विसर्जन हेतु कृत्रिम घाटों का स्थल निरीक्षण अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सुनिश्चित करेंगे। जुलूस मार्ग एवं घाटों को अतिक्रमणमुक्त रखें। विसर्जन के दिन नदी में बिना अनुमति के नाव परिचालन पर रोक रहेगी।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने कहा कि रात्रि 10 बजे से सुबह 06.00 बजे तक लाउडस्पीकर पर रोक है। साथ ही जुलूस में डीजे पर पूर्ण प्रतिबंध है। इसे सुनिश्चित किया जाए। सिविल सर्जन आपाताकलीन चिकित्सा व्यवस्था एवं एम्बुलेंस की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे।

बैठक में डीएम ने विद्युत विभाग के अभियंताओं को निदेश दिया जाय कि पूजा पंडालों में कहीं भी लूज वायर न रहे। नगर निगम, नगर परिषद् तथा नगर पंचायत अपने-अपने कार्यक्षेत्र में पूर्णरूपेण सफाई, सैनेटाईजेशन, प्रकाश की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे।

नगर आयुक्त, पटना नगर निगम श्री अनिमेष कुमार पराशर ने कहा कि दुर्गा पूजा में साफ-सफाई एवं प्रकाश की समुचित व्यवस्था रहेगी।

डीएम डॉ. सिंह ने निदेश दिया कि अनुमंडल स्तरों पर नियंत्रण कक्ष का गठन करेंगे। नियंत्रण कक्ष में प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों/पुलिस पदाधिकारियों/कर्मियों के अतिरिक्त क्विक रिसपॉन्स टीम (क्यू.आर.टी) का भी गठन करें ताकि आवश्यकता पड़ने पर उनका उपयोग किया जा सके।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि विसर्जन जुलूस एवं विसर्जन स्थल पर आतिशबाजी पर रोक है। सभी अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी इसका अनुपालन कराएंगे।

डीएम डॉ. सिंह ने जिला अग्निशमन पदाधिकारी को फायर ब्रिगेड प्रतिनियुक्त करने का निदेश दिया।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने कहा कि आगामी पर्व त्योहार के मद्देनजर सभी पदाधिकारियों एवं कर्मियों की छुट्टी रद्द की जाती है।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने कहा कि नगरपालिका चुनाव के अवसर पर सारे पदाधिकारी तत्पर रहेंगे। आदर्श आचार संहिता का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित करेंगे। सम्पत्ति विरूपण की घटनाओं पर पैनी नजर रखें।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने कहा कि सभी पदाधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में सतत भ्रमणशील रहें।

डीएम डॉ. सिंह व एसएसपी श्री ढिल्लो ने कहा कि सभी पदाधिकारियों को सजग, सतर्क एवं सक्रिय रहने की आवश्यकता है। विधि-व्यवस्था संधारण से किसी भी तरह का समझौता नहीं किया जा सकता है।

बैठक में सभी नगर पुलिस अधीक्षक, अपर जिला दण्डाधिकारी विधि-व्यवस्था, अपर समाहर्त्ता आपदा प्रबंधन, पुलिस अधीक्षक यातायात, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण, अनुमंडल पदाधिकारी पटना सदर, कार्यपालक पदाधिकारी पटना नगर निगम, विद्युत कार्यपालक अभियंता, कार्यपालक अभियंता, पीएचईडी, दुर्गापूजा समितियों के प्रतिनिधि सहित अनेक पदाधिकारी उपस्थित थे। साथ ही सभी अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी एवं अन्य सभी क्षेत्रीय पदाधिकारी बिस्वान के माध्यम से जुड़े हुए थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.