केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने कैबिनेट द्वारा प्राथमिक कृषि क्रेडिट समितियों (PACS) के कंप्‍यूटरीकरण के महत्वपूर्ण निर्णय के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया।।..

breaking News देश

त्रिलोकी नाथ प्रसाद:-सहकारिता मंत्रालय का गठन हो या उसके बाद इस क्षेत्र को सशक्त करने की दिशा में लिए गये सभी निर्णय यह बताते हैं कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का ‘सहकार से समृद्धि’ मात्र एक वाक्य नहीं है बल्कि सहकारिता से जुड़े लोगों के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए मोदी जी का अटूट संकल्प है

इसी कड़ी में आज मोदी कैबिनेट ने लगभग 63000 PACS के कंप्‍यूटरीकरण करने का अत्यंत महत्वपूर्ण निर्णय लिया है, PACS सहकारिता क्षेत्र की सबसे छोटी इकाई है और इसका कंप्‍यूटरीकरण इस क्षेत्र के लिए वरदान सिद्ध होगा

इस दूरदर्शी निर्णय के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का आभार व्यक्त करता हूँ

2516 करोड़ रूपये की लागत से 63000 PACS का कंप्‍यूटरीकरण किया जायेगा, जिससे लगभग 13 करोड़ छोटे व सीमांत किसान लाभांवित होंगे

इस डिजिटल युग में PACS कंप्‍यूटरीकरण का निर्णय इनकी पारदर्शिता, विश्वसनीयता व कार्यक्षमता को बढ़ाएगा और multipurpose PACS की एकाउंटिंग में भी सुविधा होगी

लोगों की सुविधा के लिए सॉफ्टवेयर स्थानीय भाषाओं में भी उपलब्ध होंगे, साथ ही इससे PACS को विभिन्न सेवाएँ जैसे Direct Benefit
प्रविष्टि तिथि: 29 JUN 2022 5:02PM by PIB Delhi
केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने कैबिनेट द्वारा प्राथमिक कृषि क्रेडिट समितियों (PACS) के कंप्‍यूटरीकरण के महत्वपूर्ण निर्णय के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया है।

अपने श्रंखलाबद्ध ट्वीट्स में श्री अमित शाह ने कहा कि सहकारिता मंत्रालय का गठन हो या उसके बाद इस क्षेत्र को सशक्त करने की दिशा में लिए गये सभी निर्णय यह बताते हैं कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का ‘सहकार से समृद्धि’ मात्र एक वाक्य नहीं है बल्कि सहकारिता से जुड़े लोगों के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए मोदी जी का अटूट संकल्प है। इसी कड़ी में आज मोदी कैबिनेट ने लगभग 63000 PACS के कंप्‍यूटरीकरण करने का अत्यंत महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। PACS सहकारिता क्षेत्र की सबसे छोटी इकाई है और इसका कंप्‍यूटरीकरण इस क्षेत्र के लिए वरदान सिद्ध होगा। इस दूरदर्शी निर्णय के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का आभार व्यक्त करता हूँ।

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री ने कहा कि 2516 करोड़ रूपये की लागत से 63000 PACS का कंप्‍यूटरीकरण किया जायेगा, जिससे लगभग 13 करोड़ छोटे व सीमांत किसान लाभांवित होंगे। इस डिजिटल युग में PACS कंप्‍यूटरीकरण का निर्णय इनकी पारदर्शिता, विश्वसनीयता व कार्यक्षमता को बढ़ाएगा और multipurpose PACS की एकाउंटिंग में भी सुविधा होगी।

श्री अमित शाह ने कहा कि लोगों की सुविधा के लिए सॉफ्टवेयर स्थानीय भाषाओं में भी उपलब्ध होंगे। साथ ही इससे PACS को विभिन्न सेवाएँ जैसे Direct Benefit Transfer (DBT), Interest Subvention Scheme (ISS), फसल बीमा योजना (PMFBY) और खाद, बीज आदि इनपुट प्रदान करने के लिए एक नोडल सेंटर बनने में भी मदद मिलेगी।

सहकारिता मंत्रालय का गठन हो या उसके बाद इस क्षेत्र को सशक्त करने की दिशा में लिए गये सभी निर्णय, यह बताते हैं कि पीएम @narendramodi जी का ‘सहकार से समृद्धि’ मात्र एक वाक्य नहीं है बल्कि सहकारिता से जुड़े लोगों के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए मोदी जी का अटूट संकल्प है।

— Amit Shah (@AmitShah) June 29, 2022
इसी कड़ी में आज मोदी कैबिनेट ने लगभग 63000 PACS के कंप्‍यूटरीकरण करने का अत्यंत महत्वपूर्ण निर्णय लिया है।

PACS सहकारिता क्षेत्र की सबसे छोटी इकाई है और इसका कंप्‍यूटरीकरण इस क्षेत्र के लिए वरदान सिद्ध होगा। इस दूरदर्शी निर्णय के लिए @narendramodi जी का आभार व्यक्त करता हूँ।

— Amit Shah (@AmitShah) June 29, 2022
₹2516 करोड़ से 63000 PACS का कंप्‍यूटरीकरण किया जायेगा, जिससे लगभग 13 करोड़ छोटे व सीमांत किसान लाभांवित होंगे।

इस डिजिटल युग में PACS कंप्‍यूटरीकरण का निर्णय इनकी पारदर्शिता, विश्वसनीयता व कार्यक्षमता को बढ़ाएगा व multipurpose PACS की एकाउंटिंग में भी सुविधा होगी। #DigitalPACS

— Amit Shah (@AmitShah) June 29, 2022
लोगों की सुविधा के लिए सॉफ्टवेयर स्थानीय भाषाओं में भी उपलब्ध होंगे।

साथ ही इससे PACS को विभिन्न सेवाएँ जैसे Direct Benefit Transfer (DBT), Interest Subvention Scheme (ISS), फसल बीमा योजना व खाद, बीज आदि इनपुट प्रदान करने के लिए एक नोडल सेंटर बनने में भी मदद मिलेगी।#DigitalPACS

— Amit Shah (@AmitShah) June 29, 2022
*****

Leave a Reply

Your email address will not be published.