तुपुदाना ओपी प्रभारी मीरा सिंह पर लगा बेरहमी से मारपीट करने का आरोप, हटिया डीएसपी राजा मित्रा करेंगे मामले की जांच।।..

breaking News राज्य

ओम प्रकाश,रांची//तुपुदाना ओपी प्रभारी मीरा सिंह पर बेरहमी से मारपीट करने का आरोप लगा है। इस मामले में पीड़ित व्यक्ति विकास कुमार ने रांची के एसएसपी किशोर कौशल से लिखित शिकायत की है। शिकायत कर विकास कुमार ने बताया कि तुपुदाना थाना प्रभारी मीरा सिंह ने उसके साथ बेरहमी से मारपीट की जिसके बाद उसके शरीर पर कई जख्म के निशान है। बता दे की विकास कुमार चतरा जिले का रहने वाला है और वह रांची के तुपुदाना इलाके में सुपरवाइजर का काम करता है। पीड़ित व्यक्ति विकास कुमार ने एसएसपी किशोर कौशल को बताया कि 10 जनवरी को तुपुदाना थाना प्रभारी मीरा सिंह चोरी के आरोप में तुपुदाना थाने ले गई और एक कमरे में बंद कर दिया। जिसके बाद तुपुदाना थाना में पदस्थापित एएसआई सुनील सिंह आधे घंटे बाद आए और थाना प्रभारी के ऑफिस में ले जाकर थाना प्रभारी मीरा सिंह और एएसआई सुनील सिंह ने मिलकर बेरहमी से पीटा। हालांकि मुझे छुड़ाने के लिए परिचित लोग आए तो उनके सामने भी मुझे बहुत पीटा गया।

 

पीड़ित व्यक्ति विकास कुमार ने रांची एसएसपी किशोर कौशल को बताया कि मुझसे जबरदस्ती दस्तखत करवाया और जिस प्रकार से थाना प्रभारी मीरा सिंह बोल रही थी उसी प्रकार से मुझे लिखने को कहा गया, हालांकि मैंने जब इनकार किया तो मुझे जेल भेजने की धमकी देने लगे । डर से मैने उनके कहे अनुसार लिखा और दस्तखत कर दिया।

अस्पताल में चल रहा है इलाज

पीड़ित व्यक्ति विकास कुमार का सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है। पीड़ित व्यक्ति विकास कुमार के शरीर पर कई जख्मों के निशान हैं। विकास कुमार ने रांची एसएसपी से गुहार लगाया है कि इस मामले की जांच करें और उचित कार्यवाही करें।

रांची एसएसपी ने कहा

रांची एसएसपी किशोर कौशल ने इस मामले को लेकर कहा कि हटिया डीएसपी के नेतृत्व में मामले की जांच की जा रही है और यदि इस मामले में पुलिस पदाधिकारी दोषी पाए जाते हैं तो उन पर उचित कार्यवाही की जाएगी।

मीरा सिंह के द्वारा  फोन नही उठाया गया

इस मामले को लेकर केवल सच की टीम ने तुपुदाना थाना ओपी प्रभारी मीरा सिंह से बातचीत करने की कोशिश की तो उन्होंने फोन नहीं उठाया।

बाबूलाल मरांडी ने मीरा सिंह को तत्काल प्रभाव से हटाने कि की अपील

भाजपा के वरिष्ठ नेता बाबूलाल मरांडी ने झारखंड पुलिस पर निशाना साधते हुए कहा कि झारखंड पुलिस चोरी की घटनाओं को रोकने में विफल है। वहीं तुपुदाना ओपी थाना मीरा सिंह रिश्वत लेने के आरोप में जेल जा चुकी है। अब थाना प्रभारी मीरा सिंह पूछताछ के नाम पर हैवानियत पर उतर आई है। बाबूलाल मरांडी ने ऐसे बेरहम दरोगा को तत्काल बर्खास्त करने की अपील की है। वहीं नेशनल हुमन राइट्स कमीशन ऑफ इंडिया से आग्रह किया है कि पीड़ित को न्याय दिलाने में मदद करें।