साल 2023 का भविष्यफल मेष राशि के लिए साल 2023 करियर के लिहाज से महत्वपूर्ण होगा।

breaking News ज्योतिष/धर्म

त्रिलोकी नाथ प्रसाद:-मेष राशिफल 2023 मेष राशि के जातक दुबले और शक्तिशाली शरीर वाले होते हैं, मध्यम रचनाः न बहुत लंबे और न ही मोटे, व्यापक चेहरा और गर्दन और गेहुंआ रंग पाते हैं। शारारिक संरचना मजबूत होती है |मेष राशि का स्वामी मंगल होता है। मंगल ग्रह जीवन में पराक्रम और उत्साह का कारक होता है। मेष राशि में जन्म लेने वाला जातक सुंदर, आकर्षक और कलात्मक होता है। आप सामान्यत: ऊर्जा और अति उत्साह से भरे रहते हैं, आप स्वभाव से अच्छे हैं और आप अधिकतर आत्मकेंद्रित रहते हैं। कार्यों को योजनापूर्वक करने की योग्यता रखते हैं।

मेष राशि वालों के लिए करियर 2023 में
इस वर्ष मेष राशि के जातकों को कैरियर के मामले में बेहतरीन परिणाम मिलेंगे। दरअसल, दशम भाव के स्वामी शनि जनवरी माह में कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे जोकि कॅरियर के मामले में कुछ नई उपलब्धियां और आमदनी में बढ़ोतरी का संकेत करते हैं। इधर अच्छे प्रमोशन के साथ आपको अच्छी सैलरी मिलेगी और आपको अपने खुद के कार्य पर गर्व ही होगा।

खास बात यह है कि नए क्षेत्रों में निवेश करने से आपको इस वर्ष लाभ हो सकता है, और व्यवसाय के संबंध में नए विचारों में आपकी रुचि हो सकती है। राहु और केतु का गोचर कार्यक्षेत्र में होने वाली धोखाधड़ी और परेशानियों से सावधान रहने की सलाह दी जाती है। नौकरी में पदोन्नति के योग की प्रबल संभावनाएं इस वर्ष बनने और कार्य में सक्रियता और महत्वपूर्ण निर्णय लेने का सबसे शुभ समय अप्रैल के बाद होगा,जब देवगुरू बृहस्पति आपकी राशि पर गोचर करेंगे जबकि वहीं नवंबर और दिसंबर का महीना आपकी ऊर्जा को धीमा कर सकता है।

परिवार और रिश्ते
इस वर्ष राहु और केतु का गोचर आपके प्रथम और सप्तम भाव में होने से आपके परिवारिक जीवन में कुछ परेशानी आ सकती हैं जीवन साथी के साथ कुछ मतभेद हो सकते हैं आपसी विश्वास में कुछ गलतफहमी अभी उत्पन्न हो सकती हैं यह स्थिति वर्ष के शुरुआत से लेकर अप्रैल तक रहेगी अप्रैल में देव गुरु बृहस्पति जैसे ही आपकी राशि में प्रवेश करेंगे इस स्थिति में आशा जनक सुधार भी देखने को मिलेगा | अप्रैल के महीने में देव गुरु बृहस्पति राशि परिवर्तन करके आपकी राशि में प्रवेश करेंगे। संतान संबंधित घर में कुछ शुभ कार्य भी हो सकते हैं जो आपको खुश रख सकते हैं। अप्रैल से लेकर अगस्त तक की अवधि परिवारिक दृष्टिकोण से बेहतर रहने की संभावना है सितंबर से लेकर नवंबर के मध्य के बीच आपको पिता की सेहत को लेकर सावधानी बरतनी पड़ेगी विवाहित जीवन में तनाव की स्थिति बन सकती हैं इसलिए आपसी तालमेल बनाए रखने की आवश्यकता इस वर्ष भर बनी रहेगी।

स्वास्थ्य
स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से वर्ष की शुरुआत अच्छी नहीं रहेगी ।मानसिक रूप से आप परेशान रहेंगे लेकिन अप्रैल के बाद देवगुरू बृहस्पति का गोचर आपको स्वास्थ्य संबंधी परेशानी से राहत दिलायेगा, आपको अपने सामान्य स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए स्वस्थ भोजन, योग, ध्यान और व्यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल करने की सलाह दी जाती है। आपकी सकारात्मक सोच वर्ष के अंत तक बिना किसी लम्बी बीमारी के सुखी और खुशहाल जीवन जीने में सफल होंगे और खुश और मानसिक रूप से शांत रहने की संभावना भी काफी प्रबल है।

आर्थिक स्थिति
आर्थिक दृष्टि से अप्रैल के बाद का समय शुभ परिणाम देगा,इस समय अवधि में आप आर्थिक जीवन में कोई अच्छा बदलाव होने की उम्मीद कर सकते हैं या फिर इस दौरान आपको किसी तरीके का आर्थिक लाभ भी हो सकता है लेकिन वर्ष की शुरुआत से ही राहु आपकी राशि में होंगे या समय आपके लिए संभल कर चलने का रहेगा कोई भी व्यापार या व्यवसाय साझेदारी में करने से पहले आपको अच्छी तरीके से विचार कर लेना चाहिए।

परीक्षा -प्रतियोगिता
विद्यार्थियों के लिए वर्ष की शुरुआत में आपको थोड़ा ज्यादा मेहनत करनी पड़ सकती है साल की शुरुआत में मिले-जुले परिणाम मिलेंगे क्योंकि ग्रहों और नक्षत्रों की चाल के अनुसार मेष जातकों का शैक्षणिक जीवन वर्ष की शुरुआत से यानी जनवरी से मार्च तक मिश्रित परिणाम देगा, और फिर जुलाई से नवंबर तक छात्रों को जीवन में फलदायी परिणाम प्राप्त होंगे।उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे विद्यार्थियों को कड़ी मेहनत करने की सलाह इस वर्ष दी जाती है।

उपाय
इस वर्ष प्रत्येक मंगलवार को हनुमान जी का व्रत रखें। यदि व्रत रखना संभव न हो सके तो हनुमान जी की पूजा अवश्य करें। इस दौरान हनुमान चालीसा या बजरंग बाण का पाठ अवश्य करें।

वृषभ राशिफल 2023: बृहस्पति अप्रैल तक आपके ग्यारहवें भाव में रहेंगे जिसके फलस्वरूप आप अपने कार्यस्थल में बहुत लाभ कमा सकते हैं।
वृषभ राशिफल 2023
वृषभ राशि वालों का व्यक्तित्व बहुत आर्कषक होता है। इनके व्यक्तित्व से लोग प्रभावित भी रहते हैं। वृषभ राशि के लोगों का शरीर हष्ट-पुष्ट होता है, जिसके कारण ये दिखने में सुंदर लगते हैं। वृषभ राशिवालों का स्वामी शुक्र है, इसलिए इनका मन रचनात्मक और कलात्मक कामों में अधिक लगता है। अपने साथ-साथ ये दूसरों के कला का भी बहुत सम्मान करते हैं। इस राशि के लोग बहुत स्वभिमानी प्रकृति के होते हैं। आपका स्वाभिमान आपके व्यक्तित्व से जुड़ा है। स्वाभिमान की स्वच्छंदता और शीतलता आपकी नजर में साफ देखी जा सकती है। आपके व्यक्तित्व में एक ठहराव है जो लोगों में आपके प्रति विश्वास पैदा करता है।

वृषभ करियर राशिफल 2023
वृषभ राशि के लिए करियर के दृष्टिकोण से आने वाला वर्ष काफी अच्छा रहने की उम्मीद है क्योंकि इस वर्ष के शुरूआत में शनि आपकी राशि के दशम में रहने वाले हैं , जिसके चलते आपके कार्य मेहनत का पूरा फल मिलेगा, यह वर्ष वृषभ राशि के जातकों के लिए एक अच्छा वर्ष होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि बृहस्पति अप्रैल तक आपके ग्यारहवें भाव में रहेंगे जिसके फलस्वरूप आप अपने कार्यस्थल में बहुत लाभ कमा सकते हैं। इसके अलावा यदि आप व्यवसाय के क्षेत्र से संबंधित हैं तो भी आप बेहतर लाभ कमाएंगे। वर्ष के पहले भाग में आपके तृतीय भाव पर गुरु की दृष्टि होने के कारण पराक्रम का पूरा लाभ मिलने की प्रबल संभव बनती नजर आ रही है।

आपकी मेहनत रंग लाएगी इस दौरान करियर में आपको कोई बड़ी उपलब्धि हासिल हो सकती है, अप्रैल के बाद बृहस्पति और राहु का संयुक्त गोचर विदेश से कोई लाभ मिलने का संकेत करता है, व्यावसायिक दृष्टिकोण से या वर्ष काफी महत्वपूर्ण रहने वाला है। शनि भगवान इस वर्ष कार्य और व्यापार में आपके लिए काफी मददगार साबित होने वाले इस व्यावसायिक दृष्टिकोण से व्यापारियों के लिए अच्छा रहने वाला है |

परिवार
परिवारिक दृष्टि से थोड़ा प्रतिकूल रहने वाला वर्ष रहेगा क्योंकि साल की शुरुआत में ही आपके परिवारिक जीवन में तनाव रह सकता है यह तनाव विशेष तौर तक अप्रैल तक रहेगा ,अप्रैल के महीने में गुरु के गोचर और चतुर्थ भाव में गुरु की दृष्टि से घर में शांति का माहौल स्थापित होगा। लेकिन अनावश्यक खर्चे आपको परेशान करते रहेंगे। आपको अपनी संतान की ओर से कुछ चिंता हो सकती है। कुल मिलाकर पारिवारिक जीवन इस वर्ष मिलाजुला फल देगा।

स्वास्थ्य
वर्ष की शुरुआत स्वास्थ्य की दृष्टि से सही रहेगा।अप्रैल से मई की अवधि में स्वास्थ्य को लेकर सतर्क रहना चाहिए यदि लंबे समय से किसी बीमारी से ग्रस्त हैं तो डॉक्टर से इस बारे में जरूर सलाह लेनी चाहिए ,मई के बाद का समय सेहत के दृष्टिकोण से आपके लिए अच्छा रहेगा। आपको दैनिक व्यवस्था विकसित करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि शनि की अष्टम भाव पर दृष्टि आपको अचानक कोई परेशानी दे सकती है, लेकिन आपको अनुशासित रहकर इस समस्या का भी हल निकालना पड़ेगा।

आर्थिक स्थिति
आर्थिक दृष्टिकोण से वर्ष के शुरूआत अच्छी रहेगी। शनि लाभ भाव में अपनी मूलत्रिकोण राशि में आपको धन आगमन की नयी संभावनाएं बनाएंगे, लेकिन व्यापारी वर्ग इस समय बड़े निवेश से बचें कोई नया बिजनेस शुरू करना ठीक नहीं रहेगा लेकिन अप्रैल मध्य से आर्थिक स्थिति में सुधार के योग हैं ,इस दौरान बृहस्पति के शुभ प्रभाव से आपको कुछ राहत जरूर मिलेगी और अचानक से आपको विदेश से धन लाभ की स्थिति बनेगी।

परीक्षा-प्रतियोगिता
वर्ष की शुरुआत से शनि की सातवीं दृष्टि आपके पंचम भाव पर रहेगी, इस समय आप अपनी पढ़ाई पर ध्यान दें अप्रैल के पश्चात देवगुरू बृहस्पति का गोचर आपके लिए बहुत अच्छा रहेगा किसी विदेशी संस्थान में दाखिला मिल सकता है उच्च शिक्षा लेने के लिए सोच रहे हैं तो आपका यह सपना इस वर्ष जरूर पूरा हो जाएगा।

उपाय
इस वर्ष प्रत्येक शुक्रवार के दिन छोटी कन्याओं को सफेद रंग की मिठाई, चावल की खीर, या फिर बताशे प्रसाद के रूप में बांटें।
साल 2023 में व्यवसाय के क्षेत्र से जुड़े जातक इस वर्ष बड़े लाभ की उम्मीद कर सकते हैं।

मिथुन राशि राशिफल 2023
मिथुन राशि के लोगों का स्वभाव हमेशा हर्षित रहना और दूसरों को प्रफुल्लित करने वाला होता है। साथ ही आपके पास विचार-मंथन और दूसरों से जल्दी घुलने-मिलने की कला होती है। आप मोहक व्यक्तित्व वाले, सुंदर, सक्रिय, विचारशील और साहसी हैं। आपके पास एक अच्छी याददाश्त और कुछ नया सीखने की मजबूत इच्छाशक्ति होती है। आप एक कुशल वार्ताकार हैं, और आपके आलोचक अक्सर आपके दावों से भ्रमित होते हैं। आपके वास्तविक इरादे हमेशा दूसरों के लिए एक रहस्य होते हैं, और आप कई बार खुद को शिखर पर पहुंचा सकते हैं।

करियर राशिफल 2023
इस साल आपको कैरियर के क्षेत्र में कई अवसर मिल सकते हैं। करियर में आपको अच्छे परिणाम मिलेगे जनवरी से शनि का गोचर आपके नवम भाव पर होगा इससे भाग्य का साथ मिलेगा साथ ही पुरानी समस्या जो पहले से बनी हुई थी, वह दूर होगी आपके करियर में कई तरह के नए अवसर मिलेंगे जून महीने से लेकर नवम्बर तक सावधानी रखें। आपके अधिकारी के साथ संबंध खराब हो सकते हैं। आपके ऊपर काम का दबाव ज्यादा बना रहेगा।

व्यवसाय के क्षेत्र से जुड़े जातक इस वर्ष बड़े लाभ की उम्मीद कर सकते हैं। राहु एकादश भाव में नए लाभ की योजना दे सकते हैं यदि मिथुन राशि के जातक किसी नई व्यावसायिक परियोजनाओं को लेने की योजना बना रहे हैं, तो आपको सलाह दी जाती है कि आप वर्ष के पहलेभाग में इस परियोजना पर काम करें।

परिवार
यह वर्ष आपके पारिवारिक जीवन बहुत बढ़िया रहेगा। काफी सुखद और खुशहाल रहेंगे। आपका परिवार में मान सम्मान बना रहेगा। रिश्तों में मिठास रहेगी साथ ही माता-पिता की सेहत अच्छी रहने से परिवार का वातावरण भी खुशनुमा रहेगा। आप माता-पिता को कोई धार्मिक यात्रा करवा सकते हैं। संतान की उच्चस्तरीय शिक्षा में दाखिला हो सकता है। परिवार में किसी शुभ और मांगलिक कार्यक्रम का आयोजन भी इस वर्ष संभव है।

स्वास्थ्य
17 जनवरी को शनि आपके आठवें घर को छोड़कर आपके नवम भाव में प्रवेश करेंगे, जिससे आपका भाग्य मजबूत होगा और ढैय्या का अंत होगा। इस बदलाव से आपके रास्ते की बाधाएं दूर होंगी, और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं में कमी आएगी। राहु और केतु का गोचर उदर संबधी परेशानी दे सकता हैं अत नियमित रूप से चिकित्सक की सलाह लें साथ में योग व्यायाम और ध्यान भी करते रहें।

आर्थिक स्थिति
वर्ष की शुरुआत में शनि देव आपके भाग्य स्थान में गोचर करेंगे इससे आपको धन लाभ होगा इस स्थिति में आपको अत्यधिक चिंतन को छोड़कर कार्य पर ध्यान केंद्रित करने की जरूरत होगी आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार होगा । यह वर्ष मिथुन राशि के जातकों को मनचाहा फल देगा। राहु केतु आपको आपके आमदनी के स्रोत बढ़ाने का योग बना रहे हैं, लेकिन देवगुरू बृहस्पति आपके दशम भाव में सोच-समझ कर निर्णय लेने की आवश्यकता पर बल दे रहे हैं । कुल मिलाकर वर्ष भर आर्थिक स्थिति अच्छी रहेगी।

परीक्षा -प्रतियोगिता
इस वर्ष छात्रों को परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त होंगे उच्च शिक्षा ग्रहण कर रहे छात्रों के लिए भी अप्रैल के बाद का समय विशेष अच्छा रहेगा। वर्ष के आरंभ में राहू- केतु आपका ध्यान भटकाने का कार्य करेगे, इस दौरान जो विद्यार्थी विदेश जाकर पढ़ाई करने का सपना देख रहे हैं उनके लिए यह वर्ष विशेष फलदाई साबित होगा। दृढ़ता और कड़ी मेहनत आपको वांछित परिणाम प्रदान करेगी। नवम भाव के शनि पग पग पर आपके लिए सहायक होंगे, उच्च शिक्षा के इच्छुक छात्रों को प्रतिष्ठित कॉलेजों और संस्थानों में नौकरी मिलने की संभावना है।

उपाय
इस वर्ष भगवान गणपति की उपासना आपके लिए बहुत फलदायक रहेगी, गौशाला में हरे चारे का दान करना लाभकारी रहेगा।

कर्क राशिफल 2023: अप्रैल के बाद जैसे ही देव गुरु बृहस्पति का प्रवेश मेष राशि पर होगा। कार्य से संबंधित कुछ सावधानियों का समय शुरू हो जाएगा। –
कर्क राशिफल 2023
कर्क राशि के जातक स्वभाव से दृढ़-निश्चय वाले होते हैं। यह लोग बहुत भावकु और कल्पनाशील होते हैं। इनके अंदर भाषा और संवाद कौशल के खास गुण होता है। इनका दिमाग बहुत तेज चलता है लेकिन यह लोग स्वभाव से काफी चंचल होते हैं। कुछ मामलों में इनमें आध्यात्मिक गुण भी होते हैं। इनकी यादाश्त काफी तेज होती है। यह स्वभाव से बेहद सरल, संवेदनशील और दयालु होते हैं।

करियर
करियर कार्य के हिसाब से यह वर्ष कुछ बेहतरीन होने वाला है। देव गुरु बृहस्पति भाग्य भाव में अप्रैल तक आपके हर कार्य में सहायक होते नजर आ रहे हैं । 17 जनवरी से शनि का गोचर आपकी राशि से अष्टम भाव पर होगा एक तरफ शनि की ढैया की शुरुआत तो दूसरी तरफ कुछ नई संभावनाएं भी शनि के अष्टम गोचर से आपको मिलेंगी। राहु और केतु का गोचर पहले से ही कुछ परिवर्तन की संभावनाएं दे रहा है। अप्रैल के बाद जैसे ही देव गुरु बृहस्पति का प्रवेश मेष राशि पर होगा। कार्य से संबंधित कुछ सावधानियों का समय शुरू हो जाएगा। शनि के अष्टम भैया भी यह संकेत करती है कि जल्दबाजी में कोई निर्णय न लिया जाए। नौकरीपेशा लोग अगर स्थानांतरण के प्रतीक्षा कर रहे हैं तो शनि का गोचर उनके लिए लाभदायक साबित होगा। मनपसंद जगह पर स्थानांतरण हो सकता है लेकिन नौकरी में कड़ी मेहनत से ही अच्छे परिणाम मिलेंगे या भी संकेत मिलता है।

परिवार
राहु और केतु पिछले कुछ समय से आपके परिवारिक जीवन में कुछ उथल पुथल का वातावरण बना कर रखे हुए हैं। अप्रैल के बाद जैसे ही देव गुरु बृहस्पति का गोचर मेष राशि में पहुंचेगा परिवारिक जीवन में चली आ रही परेशानियां समाप्त होना शुरू हो जाएंगी। शनि का अष्टम भाव में गोचर जो कि जनवरी से ही प्रारंभ हो जाएगा परिवारिक मामलों में कुछ नई समस्याओं का संकेत करता है। कुछ पैतृक जो विवाद चल रहे हैं उनको सुलझाने का कार्य करने की सलाह दी जाती है और सारे ही मामले अगर शांति से निपटाए जाएंगे तो जल्द सफलता मिलेगी।

स्वास्थ्य
इस वर्ष स्वास्थ्य के मामले में आपको कुछ विशेष ध्यान देने की जरूरत रहेगी। 17 जनवरी से शुरू हो रही शनि की ढैया कुछ मानसिक तनाव देगी। शनि की द्वितीय भाव पर दृष्टि कुछ कुटुंब के मामलों में विवाद के कारण आपका स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है। अष्टम भाव में शनि का गोचर वैसे तो बहुत निराशाजनक नहीं है लेकिन कुछ अचानक से होने वाली बीमारियां आपको परेशान कर सकती हैं। आपके छठे भाव के स्वामी बृहस्पति इस वर्ष अप्रैल तक मीन में उसके पश्चात मेष राशि में रहेंगे इसका अर्थ है कि छठे भाव पर अप्रैल के बाद देवगुरु बृहस्पति की दृष्टि स्वास्थ्य के लिहाज से किसी बड़ी समस्या के ना बनने का संकेत करती है फिर भी कुछ सावधानियां रखनी चाहिए। योग व्यायाम नियमित रूप से करना चाहिए।

आर्थिक स्थिति
आर्थिक दृष्टिकोण से यह वर्ष अच्छा रहेगा। अष्टम भाव में शनि कुछ अचानक से होने वाले धन लाभ की तरफ संकेत कर रहे हैं, वहीं कुछ पारिवारिक संपत्ति के मामले इस वर्ष निपट सकते हैं। देवगुरु बृहस्पति का गोचर नवम और दशम भाव में रहेगा इससे भाग्य के प्रभाव से भी यह वर्ष आर्थिक मामलों में अच्छा जाएगा। अगर कोई प्रॉपर्टी में निवेश करना चाहते हैं या मकान लेना चाहते हैं तो यह वर्ष आपके लिए अच्छा रहेगा।

परीक्षा-प्रतियोगिता
कर्क राशि के छात्रों के लिए वर्ष की शुरुआत अच्छी रहेगी पंचम भाव पर देव गुरु बृहस्पति की दृष्टि कुछ अच्छी संभावनाओं का संकेत करती है। चौथे भाव में चल रहे राहु आपको कुछ मानसिक रूप से परेशान कर सकते हैं साथ ही शनि की ढैया वर्ष के प्रारंभ में ही शुरू हो जाएगी इसलिए एकाग्रता और अपनी पढ़ाई पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होगी जो छात्र विदेश में दाखिले के लिए प्रतीक्षा कर रहे थे उनका सपना इस वर्ष पूरा हो सकता है।

उपाय
भगवान शिव को अक्षत अर्पित करें और शिवलिंग का अभिषेक करें। मंगलवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करें और हनुमान जी के मंदिर में जाकर दर्शन करें।

सिंह राशिफल 2023: जीवनसाथी के साथ राशि से सातवें में भाव पर शनि वैसे परिस्थितियों को बेहतर रखेंगे –
सिंह राशिफल 2023
सिंह राशि के व्यक्तियों के व्यक्तित्व बहुत शानदार होता है। इनका व्यक्तित्व इनकी राशि के प्रतीक चिंह शेर के समान होता है। आपके राशि स्वामी सूर्य है। सिंह राशि के लोगों के स्वभाव में नेतृत्व का गुण जन्मजात होता है। यह लोग निडर, साहसी और दृढ़-निश्चयी होते हैं । यह लोग एक राजा की तरह जिंदगी जीने में यकीन रखते हैं। इनका व्यक्तित्व बेहद जोशीला और आकर्षक होता है। यह लोग बेझिझक अपनी बात सबके सामने रखते हैं और अपने फैसलों पर अड़े रहते हैं। इनके अनोखे अंदाज की वजह से लोग इनके प्रति बहुत जल्दी आकर्षित हो जाते हैं। यह लोग सच्चे दोस्त साबित होते हैं। स्वभाव से यह लोग बहुत ईमानदार होते हैं। पढ़ें- अंकज्योतिष राशिफल 2023

करियर
यह वर्ष करियर के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण रहेगा दशम भाव से दशम भाव पर स्थित राशि स्वामी शनि जो कि 17 जनवरी से आपकी सातवें भाव पर गोचर करेंगे व्यापारिक व्यवस्थाओं के लिए नई योजनाओं को साकार करने में आपकी बहुत मदद करेंगे। अप्रैल के बाद देव गुरु बृहस्पति का गोचर मेष राशि यानी आपके भाग्य भाव में होगा। देवगुरु बृहस्पति आपके व्यापार और नौकरी में कुछ नई उपलब्धियों को मिलने का संकेत करते हैं। इस साल आप किसी के साथ साझेदारी में कोई नया व्यापार शुरू कर सकते हैं। इस साल आपके गुप्त शत्रु आपके सामने पूरी तरह से परास्त होंगे। सिंह राशि के जो जातक नौकरी में है उनको अपनी नौकरी में भरपूर मान-सम्मान मिलेगा।

परिवार
सिंह जातकों के परिवार में इस वर्ष सामंजस्य बना रहेगा तो कभी-कभी परिवार में दिक्कतों का सामना भी करना पड़ सकता है। जीवनसाथी के साथ राशि से सातवें में भाव पर शनि वैसे परिस्थितियों को बेहतर रखेंगे लेकिन कभी-कभी सामंजस्य बनाए रखने की जरूरत होगी। अप्रैल तक अष्टम भाव में शनि परिवारिक जीवन को बेहतर बना रहे हैं। अप्रैल के बाद बृहस्पति योगकारक होंगे संतान भाव पर उनकी दृष्टि संतान की इच्छा रखने वाले दंपतियों के लिए सहायक सिद्ध होगी।

स्वास्थ्य
इस वर्ष सिंह राशि के जातकों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां कम रहेंगी छठे भाव के स्वामी शनि अपनी मूल त्रिकोण राशि कुंभ में गोचर करेंगे। शनि का यह गोचर स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों की समाप्ति का संकेत देता है अष्टम भाव में स्वराशि के बृहस्पति किसी पुरानी स्वास्थ्य की समस्या से छुटकारा मिलने का संकेत करते हैं। लेकिन अप्रैल के बाद कुछ सावधानियां आपको रखनी चाहिए जिससे की पुरानी कोई बीमारी फिर से आपको परेशान ना कर सके।

आर्थिक स्थिति
आर्थिक मामलों में यह वर्ष बेहतर रहने वाला है कुछ आकस्मिक लाभ की संभावनाएं इस वर्ष बनेंगी। अष्टम भाव पर अप्रैल तक विराजित देव गुरु बृहस्पति और उसके पश्चात नवम भाव में बृहस्पति और राहु का गोचर कुछ आकस्मिक धन लाभ का संकेत मिलने की संभावना का संकेत करता है। आपके लाभ भाव और द्वितीय भाव के स्वामी बुध इस वर्ष आपके लाभ और खर्चे में संतुलन बनाकर रखने वाले हैं। किसी ऐसी जगह पर निवेश कर सकते हैं जिसमें भविष्य में आपको कुछ बड़ा लाभ हो सके।

परीक्षा-प्रतियोगिता
शिक्षा के क्षेत्र में जो जातक उच्च शिक्षा की तैयारी कर रहे हैं वह अप्रैल तक अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित कम कर पाएंगे। अप्रैल के पश्चात जब देव गुरु बृहस्पति की दृष्टि उनके पंचम भाव पर होगी तब वह अपने पढ़ाई पर विशेष ध्यान दे पाएंगे। जो जातक उच्च शिक्षा के लिए बाहर जाना चाहते हैं उनके लिए यह वर्ष वरदान साबित हो सकता है।

उपाय
सिंह राशि वाले सूर्य को मजबूत बनाने के लिए नित्य सूर्य देव को जल चढ़ाएं। रविवार के दिन सूर्य देव की विशेष पूजा करें। हनुमान चालीसा का पाठ करें और गुड़ आदि का दान करें। निर्धन व्यक्तिओं की मदद करें। पिता की सेवा करें। ऐसा करने से सूर्य शुभ होते हैं।

कन्या राशिफल 2023: राशि से अष्टम भाव में गोचर कर रहे राहु कुछ अचानक से होने वाली परेशानियां दे सकते हैं – फोटो : अमर उजाला
कन्या राशिफल 2023
कन्या राशि को सभी राशियों में सुंदर राशि और सुंदरता की कद्र करनेवाली राशि माना जाता है। इसका कारण यह है कि इस राशि का प्रतिनिधित्व एक कन्या करती है। इस राशि के जातकों की खूबी है कि ये हर काम को खूबसूरती से पूरा करते हैं। इस राशि का जातक महिला हो या पुरुष, किसी बात को ये मन में दबकर रखना बहुत अच्छी तरह जानते हैं। स्वच्छता के अति आग्रही और हर कार्य को व्यवस्थापूर्ण करना इनकी विशेषता होती है। पढ़ें- अंकज्योतिष राशिफल 2023

करियर
वर्ष के शुरुआत में शनि का कुंभ राशि में गोचर आपके करियर के मामले में अच्छा साबित होगा। प्रतिस्पर्धा में आपको विजय मिलेगी। व्यापारी वर्ग के लिए वर्ष की शुरुआत बहुत बढ़िया रहेगी और आप इसको आगे बढ़ाते जाएंगे ,राशि से सप्तम भाव में स्वग्रही बृहस्पति अप्रैल तक कुछ नया करने में आपके लिए सहायक होंगे ,उसमे लाभ प्राप्त होगा। कुछ नए संपर्कों से आपको लाभ मिलेगा। राहु और केतु इसमें आपके लिए सहायक होंगे या संपर्क बाहर विदेश से भी हो सकते हैं। इन संपर्कों से व्यापार में उन्नति होगी। मई महीने के बाद व्यापार में नया सम्पर्क बनेगा। आपको विदेशी संपर्कों से भी लाभ होगा और व्यापार में बढ़ोतरी के योग बनेंगे। नौकरीपेशा लोगों का मनचाही जगह पर इस वर्ष स्थानांतरण हो सकता है।

परिवारिक जीवन
इस वर्ष कन्या राशि के जातकों को पारिवारिक जीवन में देवगुरु बृहस्पति आपके लिए सहायक होंगे किंतु अप्रैल तक राशि से अष्टम भाव में राहु का अकेले गोचर संबंधों में कुछ कटुता भी दे सकता है इसलिए सामंजस्य बना कर रखना होगा। अप्रैल से बृहस्पति भी अष्टम भाव में गोचर करेंगे जिससे स्थिति कुछ सही होगी। इस वर्ष मामा पक्ष से कुछ लाभ हो सकता है अगर कोई परिवार में कोई पुराना विवाद चल रहा है तो अप्रैल से लेकर सितंबर तक उसके हल होने की संभावना बनती है ।

स्वास्थ्य
रोग भाव के स्वामी शनि 17 जनवरी के बाद अपनी स्वयं की राशि में गोचर करेंगे । जिससे कोई पुरानी स्वास्थ्य संबंधित परेशानी से आपको छुटकारा मिलेगा। किंतु राशि से अष्टम भाव में गोचर कर रहे राहु कुछ अचानक से होने वाली परेशानियां दे सकते हैं इसलिए सावधान भी रहना होगा । वैसे इस पूरे वर्ष में कोई बड़ी स्वास्थ्य संबंधित परेशानी आपके लिए नहीं बनेगी।

आर्थिक स्थिति
आर्थिक जीवन में इस वर्ष कुछ सुधार की संभावना देखी जा रही है वैसे कन्या राशि के जातकों का आमदनी का स्तर हमेशा घटता बढ़ता रहता है । इस वर्ष आमदनी में कुछ नया इजाफा हो सकता है जो लोग शेयर मार्केट आदि बाजार में निवेश करते हैं उनके लिए यह वर्ष अच्छा साबित होगा किसी पारिवारिक मामले के हल होने से आर्थिक लाभ की स्थिति नजर आ रही है।

परीक्षा प्रतियोगिता
इस वर्ष की शुरुआत में शनि का गोचर छठे भाव में जाएगा जो कि पंचम के स्वामी हैं प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए यह शुभ सूचना होगी। देव गुरु बृहस्पति भी अप्रैल तक आपके लिए बहुत सहायक होने वाले हैं जो छात्र विदेश से संबंधित शिक्षा की तैयारी कर रहे हैं उनके लिए सितंबर तक का समय योगकारक साबित होगा।

उपाय
वर्ष की शुरुआत भगवान गणपति को दूर्वा अर्पित करके करें साथ ही आप गौशाला में हरे चारे की व्यवस्था कराएं

तुला राशिफल 2023: यदि आप किसी नई नौकरी की तलाश में हैं तो इस दौरान आपको नई नौकरी प्राप्त हो सकती है। –
तुला राशिफल 2023
तुला राशि का प्रतीक चिन्ह तराजू होता है। यह जीवन में संतुलन को दर्शाता है तुला वाले जातक की सबसे महान खूबी यह होती है कि ये लोग किसी भी समस्या का हल तर्कसंगत और सरल तरीके से शीघ्र ही निकाल लेते हैं। इस गुण की वजह से ये जातक जब भी किसी चर्चा में शामिल होते हैं तो अपने ज्ञान की वजह से हर सवाल का जबाब देते हैं। लोगों की वाह-वाही ले जाते हैं। तुला वाले जातक खुले विचारों वाले, पर दूसरों की बातों में आने वाला, रचनात्मक, भावुक और ऊर्जावान होते हैं। पढ़ें- अंकज्योतिष राशिफल 2023

करियर
इस वर्ष शनि की ढैया से आपको छुटकारा मिलेगा और शनि एक योगकारक ग्रह के रूप में आपके लिए सहायक बनेंगे। राहु और केतु का गोचर साझेदारी में किसी व्यवसाय को ना करने की सलाह देता है देव गुरु बृहस्पति कार्यक्षेत्र में आने वाली बाधाओं से आपको बचाएंगे और अप्रैल के बाद आपके कार्य में कुछ नया होने का संकेत भी देते है। जो लोग नौकरी कर रहे हैं उनके नौकरी में बदलाव लेकर आ सकते हैं। यदि आप किसी नई नौकरी की तलाश में हैं तो इस दौरान आपको नई नौकरी प्राप्त हो सकती है। आपकी नौकरी जा सकती है और उसके बाद आपको एक अच्छी नौकरी प्राप्त हो सकती है। यदि आप सरकारी सेवा में हैं तो इस दौरान आपका किसी बढ़िया और अच्छी जगह स्थानांतरण भी हो सकता है।

परिवारिक जीवन
साल का प्रारंभ शनि की ढैया की समाप्ति से हो रहा है परिवारिक जीवन में चली आ रही मानसिक परेशानियां समाप्त हो जाएंगी। संतान के संबंध में कोई सुखद समाचार इस वर्ष मिल सकता है जो जातक संतान के इच्छुक हैं उनकी मनोकामना पूरी हो सकती है किंतु जीवन साथी के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना चाहिए। जीवनसाथी के साथ कभी कभी कुछ टकराव की स्थितियां भी बनेंगी यह स्थिति अप्रैल तक रहेगी अप्रैल के बाद स्थितियां सामान्य हो जाएंगी।

स्वास्थ्य
स्वास्थ्य के मामले में या वर्ष कुछ बेहतर साबित होगा चली आ रही मानसिक परेशानियों से इस वर्ष छुटकारा मिलेगा। यदि उदर के रोगों से संबंधित कुछ परेशानियां हैं तो उनसे आपको इस वर्ष राहत मिलेगी। छठे भाव में देवगुरु बृहस्पति का गोचर आपके अच्छे स्वास्थ्य का संकेत करता है किंतु अप्रैल के बाद स्वास्थ्य संबंधी सावधानियां बरतनी होंगी अन्यथा किसी बीमारी के चपेट में आ सकते हैं नियमित रूप से योगाभ्यास करें।

आर्थिक स्थिति
आर्थिक मामलों में यह वर्ष मिलाजुला फल देगा। यदि पीछे कहीं प्रॉपर्टी में कोई निवेश किया है तो इस वर्ष उससे लाभ मिल सकता है।जो लोग शेयर मार्केट का व्यवसाय करते हैं उनके लिए यह वर्ष अच्छा साबित होगा किंतु साझेदारी में कोई व्यवसाय ना करें इससे आर्थिक क्षति हो सकती है।अप्रैल से सितंबर के मध्य आमदनी में कुछ इजाफा होगा इससे आर्थिक स्थिति बेहतर हो जाएगी।

परीक्षा प्रतियोगिता
छात्रों के लिए यह वर्ष अच्छा साबित होने वाला है शनि का गोचर वर्ष की शुरुआत से ही आपके पांचवें भाव पर होगा इसके बाद की जो स्थितियां रहेंगी वह आपके लिए बेहतर होंगी। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्र इस वर्ष सफलता प्राप्त कर सकते हैं अप्रैल तक देव गुरु बृहस्पति उनके लिए सहायक साबित होंगे।

उपाय
वर्ष के शुरुआत माता दुर्गा की उपासना आराधना और उनके दर्शन पूजन से करें ,तुला राशि वालों को मां लक्ष्मी, मां दुर्गा तथा मां संतोषी की पूजा करनी चाहिए। इनकी पूजा शुक्रवार के दिन करना अधिक शुभ माना जाता है, क्योंकि शुक्रवार का दिन मां लक्ष्मी, मां दुर्गा तथा मां संतोषी का माना जाता है।

वृश्चिक राशिफल 2023:देवगुरु बृहस्पति पूरे वर्ष आपके लिए सहायक रहेंगे। –
इस राशि के स्वामी मंगल हैं। इस कारण से वृश्चिक राशि के जातकों के मुख पर तेज होता है। ये लोग थोड़े उग्र स्वभाव के होते हैं।इनके अंदर साहस की कोई कमी नहीं होती है। ये लोग अपनी धुन के पक्के होते हैं। वृश्चिक राशि के जातकों का स्वभाव थोड़ा खोजबीन करने वाला होता है। हर बात की तह तक जाना इनका स्वभाव होता है। वृश्चिक राशि के लोग स्वभाव से जिद्दी और तुरंत गुस्सा करने वाले होते हैं। यह भरोसेमंद दोस्त और वफादार जीवनसाथी साबित होते हैं। वृश्चिक राशि वाले पूरी ऊर्जा, आत्मविश्वास और लगन के साथ अपना काम करते हैं

करियर
वर्ष के शुरुआत से ही महत्वपूर्ण निर्णय सोच-समझकर लेने की सलाह दी जाती है। कार्यक्षेत्र में कोई परिवर्तन करने से पहले विचार करना आवश्यक होगा। 17 जनवरी के बाद शनि की ढैया प्रारंभ हो रही है वैसे या परेशान करने वाली नहीं रहेगी फिर भी निर्णय सोच-समझकर लेने चाहिए। देवगुरु बृहस्पति पूरे वर्ष आपके लिए सहायक रहेंगे। पहले तो अप्रैल तक आपके पंचम भाव में और उसके बाद छठे भाव में देव गुरु बृहस्पति का गोचर व्यापारिक प्रतिस्पर्धा में आपको सफलता प्रदान करेगा। नौकरी पेशा जातकों के लिए यह वर्ष उत्तम रहेगा। नई नौकरी मिल सकती है। उच्च अधिकारी का पूरा सहयोग मिलेगा। सहकर्मी आपका सहयोग करेंगे। जो लोग नई नौकरी की तलाश में है सफल होंगे।

पारिवारिक जीवन
पारिवारिक दृष्टिकोण से वर्ष के शुरुआत से शनि का गोचर चौथे घर में होने से कुछ समस्याएं रहेंगी। माता का स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है उनका विशेष ध्यान रखें। अगर कोई महत्वपूर्ण फैसले लेने हैं तो उन्हें कुछ समय के लिए टाल दें। संतान से संबंधित चिंताएं इस वर्ष दूर होंगी अगर उनकी उच्च शिक्षा के लिए प्रयासरत हैं तो उसमें आपको सफलता मिलेगी। कुछ जाने अनजाने शत्रु आपको परेशान करते रहेंगे अप्रैल के बाद इसमें भी राहत मिलेगी।

स्वास्थ्य
स्वास्थ्य के नजरिए यह वर्ष राहु और केतु के गोचर के कारण स्वास्थ्य संबंधित कुछ परेशानियां दे सकता है। शनि की ढैया भी मानसिक रूप से आपको वर्ष के प्रारंभ से ही कुछ परेशान करती रहेगी। अप्रैल के बाद देव गुरु बृहस्पति का गोचर छठे भाव में होने से स्वास्थ्य संबंधित परेशानियां दूर होंगी। इस वर्ष उदर रोग से संबंधित बीमारियां आपको परेशान कर सकती हैं इसलिए खान-पान में विशेष ध्यान रखना चाहिए साथ ही निरंतर योगा करते रहें जिससे कोई परेशानी बड़ा रूप ना लें।

आर्थिक स्थिति
आर्थिक मामलों में या वर्ष बेहतर साबित होने वाला है पूर्व में किए गए निवेश का फायदा इस वर्ष आपको मिलेगा। अगर कोई प्रॉपर्टी या मकान खरीदने का सोच रहे हैं तो स्वराशि के शनि आपके लिए सहायक सिद्ध होंगे। इस साल अचल संपत्ति में वृद्धि के योग दिखाई देते हैं और आमदनी का स्तर भी बढ़ने के योग नजर आ रहे हैं किंतु कहीं पर भी नया निवेश सोच समझकर ही करें अन्यथा हानि हो सकती है।

परीक्षा-प्रतियोगिता
शिक्षा के क्षेत्र में इस वर्ष छात्रों के लिए अच्छा वर्ष साबित होगा। अगर किसी बड़े संस्थान में दाखिले का मन बना रहे हैं तो अप्रैल के पूर्व आपकी इच्छा पूरी हो सकती है। शनि की ढैया कुछ मानसिक रूप से एकाग्रता में कमी लाएगी किंतु देवगुरु बृहस्पति इस स्थिति को संभाले रहेंगे।आपको अपनी पढ़ाई में अधिक मेहनत करने की आवश्यकता होगी और अनावश्यक कार्यों में समय कम बिताने की सलाह दी जाती है।

उपाय
वर्ष के शुरुआत श्री हनुमान जी के पूजा दर्शन से करें और मंगलवार को श्री हनुमान चालीसा का पाठ वर्ष भर करते हैं , शनिवार को सरसों के तेल का दीपक पीपल के पेड़ के नीचे में जलाएं।

धनु राशिफल 2023: वर्ष के शुरुआत में ही शनि की साढ़ेसाती से छुटकारा मिलेगा एक सुखद संकेत है। –
धनु राशिफल 2023
धनु राशि के जातक विचारों से बहुत आजाद होते हैं। बुद्धिमान लोगों के प्रति यह लोग आसानी से आकर्षित हो जाते हैं। इस राशि के जातक दिल से साफ और विश्वास योग्य होते हैं। कार्यक्षेत्र में यह लोग अच्छे अध्यापक और दार्शनिक साबित होते हैं। धनु राशि के जातक भविष्य को आशावादी नजरिए से देखते हैं। आपकी आंखे चमकदार होती हैं और आप सामान्य रूप से प्रसन्न रहते हैं। धनु राशि के लोग बहुत अच्छे और हंसमुख स्वभाव के होते हैं। यह लोग अपने प्रभावी, असाधारण और आध्यात्मिक प्रवृति से किसी को भी अपनी तरफ आकर्षित कर लेते हैं। महत्वाकांक्षी और दूसरों के लिए प्रेरणादायक होते हैं। यह पूरे उत्साह और साहस के साथ अपने काम को अंजाम देते हैं।

करियर
वर्ष के शुरुआत में ही शनि की साढ़ेसाती से छुटकारा मिलेगा एक सुखद संकेत है। नया वर्ष नई उपलब्धि, नई उम्मीदों के लिए जाना जाएगा। इस वर्ष आपको कार्य क्षेत्र में भरपूर सफलता मिलेगी इस वर्ष आपको करियर के कई अच्छे अवसर प्राप्त हो सकते हैं। यहां तक कि आप इतने भाग्यशाली होंगे कि आपको अपने कौशल के दम पर नौकरी मिलेगी। इससे न सिर्फ आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा बल्कि अधिक मेहनत करने के लिए प्रेरित भी होंगे। आपकी राशि के स्वामी बृहस्पति अप्रैल तक कोई बड़ा कार्य होने का संकेत दे रहे हैं। अप्रैल के पश्चात् बृहस्पति का गोचर मेष राशि में होने से आपको व्यापारिक मामलों में आशातीत सफलता मिलेगी।

पारिवारिक जीवन
धनु राशि वालों को परिवारिक जीवन इस वर्ष अच्छा रहेगा। परिवार में कोई मांगलिक कार्य होने के प्रबल संकेत मिलते हैं। अगर नया घर लेने का सोच रहे हैं तो इस वर्ष सफलता मिल सकती है। माता-पिता की सेहत को लेकर जो चिंताएं चल रही थी वह इस वर्ष दूर होंगी। माता-पिता को कोई धार्मिक यात्रा करवा सकते हैं। अप्रैल तक संतान से संबंधित जो चिंताएं हैं वह अप्रैल के बाद दूर हो जाएंगी। परिवार में कोई मांगलिक कार्य होने की संभावना भी इस वर्ष बनती है।

स्वास्थ्य
इस वर्ष स्वास्थ्य जीवन के लिए बहुत ही बढ़िया रहने का अनुमान है। शनि की साढ़ेसाती समाप्त होने से मानसिक चिंताएं दूर होंगी। जिससे स्वास्थ्य अच्छा रहेगा किन्तु राहु का गोचर पंचम भाव में कुछ उदर संबंधित परेशानियां दे सकता है। अप्रैल के पश्चात इन परेशानियों से छुटकारा मिलेगा ,लेकिन खानपान में ध्यान रखने की सलाह दी जाती है। योगाभ्यास करते रहें और यह आपके लिए बेहतर रहेगा। घर का वातावरण अच्छा रहने से मानसिक सुख शांति बनी रहेगी।

परीक्षा-प्रतियोगिता
शिक्षा के क्षेत्र में धनु राशि के जातकों को अतिरिक्त मेहनत करने की आवश्यकता रहेगी। एकाग्रता को भंग ना होने दें। पांचवें भाव में राहु का गोचर एकाग्रता को भंग करता है। अप्रैल में देवगुरु बृहस्पति जैसे ही आपके पंचम भाव में गोचर करेंगे शिक्षा के मामलों में आशातीत सफलता मिलनी शुरू हो जाएगी। किसी उच्च संस्थानों में दाखिले का सपना इस वर्ष पूरा हो सकता है।

उपाय
वर्ष के शुरूआत भगवान विष्णु को पीले पुष्पों की माला पहनाकर करें और हर गुरुवार को गाय को हरा चारा गुड़ चना आदि खिलाते रहे। घर से दूर किसी पार्क या मंदिर में पीपल का पेड़ लगाएं और हर बृहस्पतिवार को उसकी पूजा करें।

मकर राशिफल 2023: 17 जनवरी को शनि जब कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे आपकी साढ़ेसाती का अंतिम चरण शुरू हो जाएगा।
मकर राशिफल 2023
मकर राशि के स्वामी शनिदेव हैं, जो न्याय के देवता हैं और इनको पाप ग्रह माना जाता है। मकर राशि के व्यक्ति काफी मेहनत, समर्पित और अनुशासनशील होते हैं। ये काफी निडर होते हैं और अच्छे कार्य कुशल माने जाते हैं क्योंकि हर चीज को मैनेज करना इनको आता है। यह बेहद महत्वकांक्षी होते हैं और जिसी गतिविधि को चुनते हैं, उस क्षेत्र में कड़ी मेहनत से शीर्ष तक पहुंचते हैं। यह वक्त के काफी पांबद होते हैं और जिम्मेदार लोगों में इनका नाम शुमार होता है। कार्यक्षेत्र हो या परिवार हर किसी की जिम्मेदारी को अच्छे से जानते हैं

करियर
वर्ष की शुरुआत साढ़ेसाती के अंतिम चरण से हो रही है। 17 जनवरी को शनि जब कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे आपकी साढ़ेसाती का अंतिम चरण शुरू हो जाएगा। आपके लिए अच्छा संकेत है उतरती हुई साढ़ेसाती आपको कैरियर में कुछ अच्छे संकेत देगी। यह वर्ष व्यापारी वर्ग के लिए शुभ रहेगा। आपके व्यापार से उत्तम लाभ होगा, जितना निवेश करेंगे, उतना लाभ होगा। राहु और केतु आपकी नौकरी और व्यापार में कुछ बदलाव के संकेत दे रहे हैं पराक्रम भाव में बैठे हुए बृहस्पति भाग्य का भी साथ आपको देंगे लेकिन आपको कड़ा परिश्रम करना होगा। अप्रैल के बाद आपको आपके कार्यक्षेत्र में कुछ सकारात्मक परिणाम मिलने लगेंगे।

पारिवारिक जीवन
साल की शुरुआत में परिवारिक जीवन में परेशानियां देखने को मिल सकती है। इस दौरान आपकी माता को स्वास्थ्य कष्ट संभव है ऐसे में आपको भी मानसिक चिंताएं परेशान करेंगी। अप्रैल में जब देवगुरु बृहस्पति का गोचर मेष राशि में होगा तो सुधार देखने को मिलेगा। आपकी राशि के स्वामी शनि अब आपकी मानसिक परेशानियों को कम करना चाहते हैं अगर कोई पुराना विवाद परिवार को लेकर चल रहा है तब उसके हल होने की संभावना इस वर्ष बनती है। इस वर्ष माता को कोई धार्मिक यात्रा करवा सकते हैं या आपके भाग्य वृद्धि में भी सहायक होगा।

स्वास्थ्य
साढ़ेसाती का अंतिम चरण मानसिक रूप से आपको स्वस्थ रखेगा। जो मानसिक परेशानियां पिछले वर्ष थी इस वर्ष उनसे छुटकारा मिलेगा।उचित आहार और पर्याप्त नींद लेना फायदेमंद होगा। मई में वाहन सावधानी से चलाएं क्योंकि तेज गति से दुर्घटना हो सकती है। स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हैं तो बड़ी बीमारियों से निजात मिलेगी। पेट से संबंधित कुछ परेशानियां हो सकती हैं इसलिए खानपान में सावधानी बरतें।

आर्थिक स्थिति
शनि आपके दूसरे भाव में गोचर करेंगे और आपकी वित्तीय स्थिति को मजबूत बनाएंगे। आर्थिक लाभ होगा,संपत्ति की खरीद और बिक्री से लाभ होगा। जमीन खरीदकर अपना घर बनवाने का काम शुरू करवा सकते हैं। प्रॉपर्टी में निवेश भी आपके लिए फायदेमंद साबित होगा लेकिन कोई भी कार्य साझेदारी में ना करें यह आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

परीक्षा-प्रतियोगिता
छात्रों के लिए यह वर्ष पिछले वर्ष की अपेक्षा श्रेष्ठ साबित हो सकता है लेकिन अच्छी सफलता के लिए कड़ी मेहनत की जरूरत होगी। यदि प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो कड़ी मेहनत करें वरना सफलता मिलने में संदेह रहेगा।लेकिन यह भी निश्चित है कि अगर कड़ी मेहनत की जाएगी तो उसका पूरा परिणाम आपको मिलेगा।

कुंभ राशिफल 2023: आपकी राशि में 22 अप्रैल के बाद समय अवधि अधिक शुभता की ओर अपनी दिशा बदल देगी। –
कुंभ राशि के व्यक्ति को कभी भी भेड़चाल में चलना पसंद नहीं होता और न ही इनकी आदत होती है। इनको अपने काम में दखलअंदाजी बिल्कुल भी पसंद नहीं होती। इस राशि का नकारात्मक पक्ष केवल यही है कि इनको बहुत जल्दी गुस्सा आ जाता है लेकिन समूह में एक अच्छे लीडर बनकर उभरते हैं। ये अपनी भावनाओं को जल्दी किसी के सामने साझा नहीं करते। इनको जो चीज अच्छी और उचित लगती है, उसके लिए यह अंतिम क्षण तक लड़ना पसंद करते हैं। यह बहुत दूरदर्शी स्वभाव के होते हैं और मार्गदर्शक होते हैं।

करियर
इस वर्ष कुंभ राशि के जातकों की आय में इजाफा हो सकता है। आप अनुशासित होकर अपने कार्यों को पूरा करेंगे। नए व्यापारिक समझौते होंगे। नए लोगों से मुलाकात होगी,जो आपके व्यापार को आगे बढ़ाने में मदद करेंगे। वर्ष की शुरुआत में दशम भाव पर गुरु और शनि की संयुक्त दृष्टि से आपके व्यवसाय क्षेत्र में प्रगति के संकेत मिल रहे हैं। अपने व्यवसाय में मनोवांछित सफलता पाने के लिए आपको अपने वरिष्ठ व्यक्तियों का सहयोग आवश्यक रूप से लेना होगा। जो लोग नौकरी से जुड़े हैं,उनको पदोन्नति मिलने में बाधाएं और समस्यां आएंगी। आपको अपनी नौकरी में शांत और ठन्डे दिमाग से धीरे-धीरे आगे बढ़ना होगा। आपकी राशि में 22 अप्रैल के बाद समय अवधि अधिक शुभता की ओर अपनी दिशा बदल देगी। सप्तम भाव में बृहस्पति और शनि की संयुक्त दृष्टि से व्यवसायियों को अपेक्षित लाभ मिल सकता है। आपको काम के क्षेत्र में अपने साथी और जीवनसाथी का पूरा सहयोग मिलेगा।

पारिवारिक जीवन
पारिवारिक जीवन वर्ष की शुरुआत में द्वितीय भाव में स्थित बृहस्पति आपके परिवार में किसी ने सदस्य के जुड़ने का संकेत दे रहा है। यह नया सदस्य आपके विवाह या बच्चे के जन्म के रूप में हो सकता है। आपके परिवार में सौहार्दपूर्ण वातावरण बना रहेगा क्योंकि सदस्यों में एक-दूसरे के प्रति समर्पण की भावना जन्म लेगी। तीसरे भाव में राहु आपकी सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि का कारक होगा। इस वर्ष की शुरुआत संतान के लिए शुभ है और द्वितीय भाव में स्थित बृहस्पति आपके बच्चों की प्रगति को बढ़ावा देगा। आपके बच्चे अपने समर्पित कार्य के बल पर सफलता की सीढ़ी चढ़ेंगे। किंतु शनि की दृष्टि सातवें भाव पर रहेगी इसलिए जीवन साथी के साथ संबंधों में तालमेल बनाए रखना आवश्यक होगा। पिता के स्वास्थ्य को लेकर भी सचेत रहें उन्हें कुछ स्वास्थ्य संबंधित परेशानियां मिल सकती हैं।

स्वास्थ्य
स्वास्थ्य को लेकर कुछ मानसिक परेशानियां इस वर्ष रहेंगी। छठे भाव के स्वामी चंद्रमा शनि से प्रभावित हैं इसलिए सर्दी से संबंधित बीमारियां आपको परेशान करेंगी। एलर्जी अस्थमा के रोगी विशेष रूप से ध्यान रखें। सेहत को सकारात्मक बनाए रखने के लिए निरंतर योगाभ्यास करें और अपने सोच को सकारात्मक दिशा में लगाएं ,शनि की साढ़ेसाती अब कुछ स्वास्थ संबंधित मामलों में राहत प्रदान करेगी लेकिन समय-समय पर कुछ परेशानियां भी हो सकती हैं।

आर्थिक स्थिति
आर्थिक दृष्टिकोण से यह वर्ष पिछले वर्ष की अपेक्षा अच्छा साबित होगा। वर्ष की शुरुआत से अप्रैल तक देवगुरु बृहस्पति दूसरे भाव में गोचर करेंगे यह कुछ अचल संपत्ति में वृद्धि के योग बना रहे हैं किंतु कोई भी निवेश बहुत सोच समझ कर करें अन्यथा परेशानी में आ सकते हैं। अप्रैल के बाद आमदनी में कुछ अतिरिक्त बढ़ोतरी हो सकती है। कुछ पारिवारिक संपत्ति से भी धन लाभ के योग बनेंगे।

परीक्षा-प्रतियोगिता
छात्रों के लिए यह वर्ष विशेष रूप से कुछ अधिक परिश्रम करने वाला साबित होगा। राशि पर गोचर कर रहे शनि ऐसा संकेत देते हैं शनि की दृष्टि तीसरे भाव पर होगी जहां पर अप्रैल के बाद देवगुरु बृहस्पति का गोचर होगा इसलिए जितना मेहनत करेंगे उसका अपेक्षित परिणाम आपको मिलेगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए इस वर्ष सफलता की संभावनाएं बनेंगी किंतु परिश्रम अधिक करना होगा।

उपाय
आपकी राशि शनि की साढ़ेसाती से प्रभावित हैं इसलिए शनिवार के दिन सरसों के तेल का दीपक शनि मंदिर या पीपल के पेड़ पर नियमित रूप से जलाते रहें। शनिवार के दिन चीटियों को मीठा आटा डालने से भी आपकी समस्याएं दूर होंगी शनिवार और मंगलवार को सुंदरकांड हनुमान चालीसा का पाठ यदि संभव हो तो अवश्य करें। भोजन में उड़द की दाल, चना दाल और काली मिर्च का उपयोग करें।

मीन राशिफल 2023: 17 जनवरी से शनि की साढ़ेसाती का प्रारंभ हो जाएगा। –
मीन राशिफल 2023
मीन एक द्विस्वभाव राशि है। मीन राशि वाले जातक अक्सर अस्थिर चित्तवृत्ति वाले होते हैं। इस राशि के जातकों का स्वभाव कल्पनाशील होता है। मानवता के धनी होते हैं। गुरु के प्रभाव के कारण बुद्धिमान व विवेकवान होते हैं। कार्य को बड़े ही सोच-विचार करने के उपरांत करते हैं। हर कार्य को श्रेष्ठतर रूप से संपन्न करने के उद्देश्य से अक्सर अपने निर्णयों में परिवर्तन करते रहते हैं। नैतिक रूप से संपन्न होने के कारण उच्च नैतिकता वाले होते हैं।

करियर
इस वर्ष करियर के मामले में सुखद परिणाम प्राप्त होने के अवसर मिलेंगे। राशि स्वामी देव गुरु बृहस्पति अप्रैल तक आपकी राशि में गोचर करेंगे। इसके साथ ही 17 जनवरी से शनि की साढ़ेसाती का प्रारंभ हो जाएगा। इसलिए कार्य क्षेत्र में अब निर्णय सोच-समझकर लेने होंगे। देवगुरु बृहस्पति अप्रैल तक आपके लिए सहायक रहेंगे। इसके पश्चात कुछ व्यवसायिक परेशानियां आ सकती हैं, जो लोग विदेश से संबंधित व्यवसाय कर रहे हैं उनके लिए यह वर्ष लाभदायक साबित होगा। शनि का गोचर आपकी राशि से बारहवें भाव में विदेश से संबंधित कुछ अच्छे लाभ करा सकता है।लेकिन सावधानी रखनी होगी अन्यथा नुकसान भी हो सकता है। नौकरी पेशा लोग इस वर्ष अगर नौकरी बदलने के लिए प्रयासरत् हैं उन्हें सफलता मिल सकती है लेकिन यह समय अप्रैल तक ही अच्छा रहेगा।

पारिवारिक जीवन
वर्ष की शुरुआत से अप्रैल तक परिवारिक जीवन शांतिप्रिय बना रहेगा। शनि की साढ़ेसाती समय-समय पर कुछ परिवारिक समस्याएं भी दे सकती है। कुछ पारिवारिक संपत्ति के मामले में विवाद भी हो सकते हैं। अप्रैल के बाद यह विवाद सुलझने की संभावना बनेगी। परिवारिक मामलों में कोई भी निर्णय सोच-समझ कर लें अन्यथा मानसिक अशांति का कारण बनेगा। जीवन साथी के साथ सामंजस्य बना रहेगा।संतान से संबंधित चिंताएं दूर होंगी साथ ही जो लोग संतान के इच्छुक हैं उनके लिए अप्रैल तक का समय अच्छा रहेगा।

स्वास्थ्य
वर्ष के प्रारंभ मैं शनि की साढ़ेसाती का आगमन कुछ मानसिक परेशानियां देगा। देवगुरु बृहस्पति का गोचर अप्रैल तक आपके स्वास्थ्य की रक्षा करेगा। अप्रैल के बाद कुछ स्वास्थ्य संबंधित परेशानियां आपको हो सकती हैं। उदर रोग छाती से संबंधित रोग और दांतो से संबंधित परेशानी हो सकती है। निरंतर योगाभ्यास और खानपान को नियमित रखें जिससे परेशानी से बचे रहेंगे। कुल मिलाकर स्वास्थ्य के मामले में या वर्ष मिला-जुला फल देगा।

आर्थिक स्थिति
आर्थिक मामलों में अप्रैल तक का समय खर्चे वाला साबित होगा। शनि का बारहवें भाव में गोचर वैसे तो कुछ अनावश्यक खर्च का संकेत नहीं करता ,लेकिन फिर भी कुछ खर्चे बने रहेंगे जो आपके बजट को बिगाड़ सकते हैं। अप्रैल के बाद आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। खर्चों पर नियंत्रण होगा और आमदनी के भी साधन बढ़ेंगे। कहीं पर कोई भी निवेश सोच-समझकर करें अन्यथा इस वर्ष नुकसान उठाना पड़ सकता है।

परीक्षा-प्रतियोगिता
छात्रों के लिए यह साल अच्छा रहेगा अगर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो अप्रैल तक कोई सुखद परिणाम मिलेगा। शनि की साढ़ेसाती यह संकेत करती है कि पढ़ाई में परिश्रम अधिक करना होगा। किंतु परिश्रम का पूरा परिणाम आपको इस वर्ष मिलेगा।

उपाय
बृहस्पतिवार के दिन केले के पेड़ में पानी में गुड़ डालकर जल डाले तथा उनका पूजन करें। बृहस्पतिवार के दिन श्री राम जी की स्तुति करना विशेष लाभदायक रहेगा। शनिवार को पीपल के पेड़ में सरसों के तेल का दीपक जलाएं