पंच तत्व का शरीर पंच तत्व में बिलिन।।…

breaking News राज्य

प़ोफेसर रामजीवन साहु  :-बिहार के कद्दावर राजनेता नरेंद्र सिंह का पंच तत्व का बना शरीर पंच तत्व में बिलिन हो गई। यों तो इनका निधन चार जुलाई 2022 के प़ातःकाल में हो गई थी, परन्तु उस दिन देर रात्रि में उनका पार्थिव शरीर उनके जन्मस्थली खैरा प़खंड के पकरी गाँव पहुंचा। फलस्वरूप उनका दाहसंस्कार पांच जुलाई 2022 मंगलवार को क्युल नदि के किनारे किया गया। मुखाग्नि उनका पुत्र पूर्व विधायक अजय प़ताप सिंह ने दी।

इनका दाहसंस्कार पूर्ण राजकीय सम्मान के साथ किया गया। इनको 21राइफल का सलामी दिया गया।
आपको बता दूं कि इनका जन्म 13 नवम्बर 1947 में हुआ था। पहली बार ये 1985 में चकाई विधान सभा के विधायक बने। प़थम बार ये 1990 से 1992 तक बिहार सरकार के मंत्री रहे फिर 2006 से 2015 तक मंत्री रहे।
इनकी मृत्यु से इनके परिवार में सबों का रो-रोकर बुरा हाल हो रहा था। पूर्व विधायक अजय प़ताप सिंह और बिहार सरकार के विज्ञान और प़ाद्ययौगिक मंत्री सुमित कुमार सिंह के नेत्रों से आंसू निकल रहे थे।

जब इनका पार्थिव शरीर पकरी गाँव पहुंचा, तो पूरा गाँव इस जयघोष से गुंजायमान हो गया कि -जब तक सूरज -चाँद रहेगा। नरेंद्र तुम्हारा नाम रहेगा।।

इस दाहसंस्कार में हजारों सज्जन -वृंद उपस्थित हुए। उनमें प़मुख लोगों में थे -केन्द्रीय मंत्री अश्विनी चौबे, झाझा विधायक दामोदर रावतजी, सिकन्दरा विधायक प़फुल्ल मांझी, जमुई विधायक सुश्री श्रेयसी सिंह, एम एल सी अजय कुमार, पूर्व मंत्री अर्जुन मंडल, जिला परिषद् अध्यक्ष प़तिनिधि गुड्डू यादव, भाजपा जिला अध्यक्ष कन्हैया कुमार सिंह, अत्यंत पिछड़ा प़कोष्ठ के जिला अध्यक्ष शैलेशजी जिलाधिकारी अवनीश कुमार सिंह ,पुलिस अधीक्षक डा0 शौर्य सुमन एवं हजारों चहेता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.