*विवेक ठाकुर ने राज्यपाल से मुलाकात कर मगध विश्वविद्यालय के परीक्षा को नियमित करने का आग्रह किया। राज्यपाल ने जनवरी तक ठीक करने का आश्वासन दिया।*

breaking News राज्य

 

त्रिलोकी नाथ प्रसाद:-भाजपा नेता तथा राज्यसभा सांसद श्री विवेक ठाकुर ने राज्यपाल श्री फागू चौहान से मुलाकात कर मगध विश्वविद्यालय में स्नातक एवं स्नातकोत्तर के परीक्षा को अविलंब नियमित करने का आग्रह किया।

विवेक ठाकुर ने राज्यपाल से कहा की मगध विश्वविद्यालय में स्थिति ऐसी बनी हुई है की तीन साल कि स्नातक की डिग्री अगर छह साल में भी मिल जाए तो गनीमत है। मगध विश्वविद्यालय में समय पर परीक्षा नहीं होने से लाखों छात्रों का भविष्य अधर में लटका है।

भाजपा सांसद ने कहा की यह बताना मुश्किल है कि किस पाठ्यक्रम की परीक्षा कब होगी, रिजल्ट कब होगा। लंबित परीक्षा की बात करें तो मगध विश्वविद्यालय में स्नातक सत्र 2018-21 के पार्ट-2 का रिजल्ट अभी तक नहीं आया है, सत्र 2019-22 के पार्ट-1 का भी रिज़ल्ट नहीं आया है। सत्र 2020-23 तथा 2021-24 का एक भी परीक्षा नहीं हुआ है। स्नातकोत्तर में सत्र 2020-22 व 2021-23 की एक भी परीक्षा नहीं ली गई है। आलम यह है कि 2018 के छात्रों का स्नातक अभी तक क्लियर नहीं हो सका है। वहीं 2 सालों की पीजी कोर्स के लिए पांच साल से अधिक लग रहा है।

विवेक ठाकुर ने कहा मगध विश्वविद्यालय के विभिन्न महाविद्यालयों में नामांकित राज्य के छात्र छात्राओं का भविष्य अंधकारमय बना हुआ है। स्नातक की डिग्री प्राप्त कर देश के विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं व अन्य विश्वविद्यालय में नामांकन करा कर ऊंची पढ़ाई करने की सोच रखने वाले विद्यार्थियों का सत्र काफी विलंब होने से सबसे ज्यादा बुरा हाल है। विषय अब भावनात्मक हो गया है, छात्र नित दिन आंदोलन कर रहे हैं।

शिक्षा, महिला, बाल, युवा व खेल संसदीय स्थाई समिति के अध्यक्ष विवेक ठाकुर ने सुझाव दिया की छूटे हुए सभी परीक्षाओं को हर तीन महीने पर लेकर नियमित किया जाए। सभी विषयों को संवेदनशीलता के साथ सुनते हुए राज्यपाल ने आश्वस्त किया कि जनवरी तक सभी चीजों को व्यवस्थित कर परीक्षा को नियमित कर लिया जायेगा। साथ ही राज्यपाल ने इसके लिए पदाधिकारियों को निर्देशित भी किया।