किशनगंज : असम से मक्का के अंदर ट्रक में बेशकीमती लकड़ी तस्करी कर पूर्णिया ले जा रहे तस्कर को पुलिस ने दबोचा..

breaking News District Adminstration Kishanganj अपराध ताजा खबर प्रमुख खबरें राज्य

किशनगंज/धर्मेन्द्र सिंह, किशनगंज के रास्ते असम से मक्का के अंदर ट्रक में बेशकीमती लकड़ी तस्करी कर पूर्णिया ले जा रहे तस्कर को पुलिस ने दबोचा। इस दौरान पुलिस ने खगड़ा रामपुर चेकपोस्ट के पास 14 चक्का ट्रक में लोड लकड़ी को पुलिस ने जब्त किया है। पुलिस ने पूर्णिया के एक लाइनर सहित दो ट्रक चालक व उपचालक को गिरफ्तार किया है। कार्रवाई की सूचना मिलने पर एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी व सदर थाना के कोतवाल अमर प्रसाद सिंह टीम के साथ मौके पर पहुंचे। इसके बाद ट्रक को देर रात थाने लाया गया। हालांकि पहले चंदन की लकड़ी होने की बात सामने आई। बाद में वन विभाग की टीम से जांच कराने पर सागवान की लकड़ी होने की बात बताई गई। इस कार्रवाई में गिरफ्तार ट्रक सवार चालक वंशी लाल और उपचालक जनता राम दोनों साकिन जोधपुर राजस्थान के रहने वाले हैं। इसके साथ एक लाइनर पूर्णिया के डगरूआ निवासी दिन दयाल कुमार को गिरफ्तार किया है। देर रात जब ट्रक के जांच में अवैध रूप से तस्करी किए जा रहे लकड़ी के ऊपर मक्का का बोरी रखा हुआ था। जिसे हटाने के बाद पुलिस भी अचंभित रह गई। ट्रक के ऊपर मोटी-मोटी लकड़ी का पीस लदा था। समझ में नहीं आने के बाद वन विभाग को सूचना देकर बुलाया गया। वन विभाग ने सागवान की लकड़ी होने का पुष्टि की। लकड़ी का वजन काफी अधिक होने के कारण जेसीबी मशीन बुलाकर उतारने का काम शुरू किया गया। ट्रक में करीब 40 से 60 पीस लकड़ी होने की अनुमान लगाया जा रहा है। ट्रक के साथ पकड़े गए लोगों के पास लकड़ी का कोई दस्तावेज नहीं था। मक्का का लोड का कागजात लेकर अंदर में छिपाकर लकड़ी तस्करी किया जा रहा था। पकड़े गए आरोपितों में लाइनर दिन दयाल कुमार लाल भगत पूर्णिया से आया था। बताया जाता है कि डगरूआ में पान दुकान के आड़ में इसी तरह तस्करी के खेल में लाइनर की भूमिका निभाता था। शनिवार की रात भी लाइनर का काम के लिए ही पूर्णिया से आया था। लेकिन पुलिस कार्रवाई में ट्रक को पकड़ लिया गया। वहां मौजूद लाइनर को भी पुलिस ने अपने कब्जे में लिया। लाइनर गाड़ी पासिग कराने वाले किसी अजय नामक व्यक्ति से बात भी कर रहा था। लाइनर ने जैसे ही एसडीपीओ के पहुंचने की बात बताया तो अजय नामक व्यक्ति ने मोबाइल बंद कर लिया। वहीं पुलिस ने लाइनर के मोबाइल को जब्त कर जांच में जुट गई है। लाइनर के मोबाइल से तस्करी में शामिल लोगों के नामों का खुलासा होने की उम्मीद है। पुलिस पूछताछ में पकड़े गए आरोपितों ने बताया कि ट्रक गुवाहाटी से पूर्णिया जा रहा था। पुलिस जांच में कई लोगों का नाम भी सामने आया है। जिसका तार अन्य राज्यों से जुड़ा है। गिरफ्तार चालक ने पुलिस जांच के क्रम में ट्रक में लकड़ी के ऊपर लोड मकई का कागज दिखाया। जिसमें तकरीबन 30 मिट्रिक टन मक्का कागज बना था। वहीं साथी तस्करों ने लकड़ी के ऊपर मकई और धान की भूसी का बोरा भी भर रखा था, जिससे वह पुलिस को चकमा देने के फिराक में था। पुलिस ने तस्करों के मनसूबे पर पानी फेर दिया। सूत्रों की मानें तो इन दिनों किशनगंज के रास्ते लकड़ी की तस्करी का खेल कई माफियाओं के मिलीभगत से चल रहा है। एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी ने बताया कि कार्रवाई के बाद कई तथ्य सामने आए हैं। जिसका नाम गुप्त रख कार्रवाई की जा रही है। इस तस्करी में जुड़े जो भी लोगों का नाम सामने आएगा। उसके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.