आपातकाल देश पर एक काला धब्बा के जैसा साबित हुआ। – सीपी सिंह

breaking News ताजा खबर प्रमुख खबरें राजनीति राज्य

केवल सच -पलामू
मेदिनीनगर – भारतीय जनता पार्टी पलामू जिला के कार्यालय में आपातकाल को काला दिवस के रूप में मनाया गया।जिसकी अध्यक्षता भाजपा जिला अध्यक्ष विजय नंद पाठक ने की तथा मंच संचालन जिला महामंत्री श्याम बाबू ने किया । बैठक के मुख्य अतिथि रांची के विधायक सीपी सिंह थे । विषय प्रवेश कराते हुए जिला अध्यक्ष विजय नंद पाठक ने कहा कि आज का दिन न केवल भारत के लिए बल्कि स्वस्थ लोकतंत्र के लिए भी काला दिवस है ।तत्कालीन प्रधानमंत्री इंद्रा गांधी ने केवल और केवल अहंकार के चलते पूरे देश पर आपातकाल थोप दिया था। वही मुख्य अतिथि व रांची विधायक सीपी सिंह ने कहा कि आज पूरे देश में हमारी पार्टी के सभी कार्यकर्ता आपातकाल को काला दिवस के रूप में मना रहे हैं इस घटना को युवा पीढ़ी को और देश की जनता को याद दिलाते रहने की आवश्यकता है यही वजह है कि आज हम सभी 25 जून को लोकतंत्र के लिए काला धब्बा और काला दिवस के रूप में मनाते है। अतः यह हमारी जिम्मेवारी है कि हम कांग्रेस की काली करतूतों को जनता के सामने रखें आज आपातकाल के 42 वर्ष बीत चुके हैं यहां बैठे बहुत से लोग ऐसे हैं जिन्होंने आपातकाल को नहीं देखा है कि कैसे लोकतंत्र की हत्या केवल और केवल एक व्यक्ति के अहंकारऔर सत्ता के मद में चूर होने के कारण लोगों के मौलिक अधिकारों को छीन लिया गया था। अतः हम आपातकाल को काला दिवस के रूप में मना कर जनता के बीच में जन जागरण करते रहते हैं। प्रतिवर्ष 25 जून को काला दिवस के रूप में मना कर आज की पीढ़ी और आने वाली पीढ़ी को इस काले दिन के बारे में बताते हैं ताकि भविष्य में कभी इस तरह की घटना की पुनरावृति ना हो। कांग्रेस के तानाशाही रवैए ने देश को उस समय वर्षों पीछे धकेल दिया था जिससे देश के लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या के साथ-साथ देश की छवि को भारी नुकसान हुआ था। उस समय जनसंघ के कार्यकर्ताओं ने बढ़-चढ़कर आपातकाल के विरोध में आंदोलन में भाग लिया था जो हमारे लिए प्रेरणादाई है। जयप्रकाश नारायण के आंदोलन से इंदिरा गांधी की सत्ता की न्यू हिल गई थी और तानाशाही सरकार सत्ता से बेदखल हुई थी। देश के सभी प्रेस को प्रतिबंधित करना दुर्भाग्यपूर्ण था हमारे नेताओं ने बढ़-चढ़कर अपनी गिरफ्तारी देने में कोई संकोच नहीं किया । वहीं भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता श्याम नारायण दुबे ने अपने समय के गुजरे उस दौर को याद करते हुए कहा कि हम लोगों ने लोकतंत्र का सबसे काला दिन देखा जबकि हमारा देश स्वतंत्र था। धन्यवाद ज्ञापन जिला महामंत्री सुरेंद्र विश्वकर्मा ने किया मौके पर डिप्टी मेयर मंगल सिंह पूर्व जिला अध्यक्ष प्रेम सिंह, परशुराम ओझा, नरेंद्र पांडे, अमित तिवारी ,कर्नल संजय सिंह, अमलेश्वर दुबे, दुर्गा जौहरी, रविंद्र सिंह ,रामप्रवेश सिंह, विभाकर नारायण पांडे ,उदय शुक्ला ,अविनाश वर्मा, जिला उपाध्यक्ष धर्मेंद्र उपाध्याय, अरविंद सिंह, अरविंद गुप्ता ,रीना किशोर ,ज्योति पांडे ,लवली गुप्ता, संतोष सिंह ,,जितेंद्र तिवारी धीरेंद्र दुबे ,नवेन्दु मिश्र, मनोज दुबे , श्वेतांक गर्ग , पिंकी विश्वकर्मा समेत मंडलों के मंडल अध्यक्ष व भाजपा के कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.