अररिया : संजना बेगम की हत्या किए जाने के मामले में एसपी ने एसडीपीओ के नेतृत्व में किया स्पेशल टीम गठित, टीम ने वैज्ञानिक व तकनीकी अनुसंधान कर एक आरोपी को किया गिरफ्तार।

breaking News District Adminstration अपराध ताजा खबर प्रमुख खबरें राज्य

अररिया/धर्मेन्द्र सिंह, सिकटी थाना क्षेत्र के सिंधिया गांव में 30 साल की विधवा संजना बेगम की गला दबाकर हत्या किए जाने के मामले में एसपी अशोक कुमार सिंह की ओर से गठित स्पेशल पुलिस टीम ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। सदर एसडीपीओ पुष्कर कुमार के नेतृत्व में गठित स्पेशल टीम ने वैज्ञानिक और तकनीकी अनुसंधान का सहारा लेते हुए यह कामयाबी हासिल की। मामले के उदभेदन को लेकर अररिया एसपी अशोक कुमार सिंह ने सदर एसडीपीओ पुष्कर कुमार के नेतृत्व में गठित टीम में सिकटी थानाध्यक्ष हरीश तिवारी, सब इंस्पेक्टर अगम लाल पांडेय, सब इंस्पेक्टर पूजा कुमारी को शामिल किया था। टीम की ओर से हत्याकांड के पीछे नजदीकी लोगों के हाथ होने के तकनीकी सबूत मिल गये थे और इसी आधार पर पलासी थाना क्षेत्र के पिपरा बिजवार के रहने वाले खुर्शीद आलम के पुत्र आरिफ को पुलिस ने गिरफ्तार किया।जिन्होंने घटना में अपनी संलिप्तता की बात स्वीकारते हुए घटना में सिंधिया गांव के अफसर और परवेज के साथ मिलकर बांस-बल्ले से गला दबाकर और रस्सी से गला दाब हत्या की बात स्वीकारी।जिला पुलिस कप्तान अशोक कुमार सिंह ने बताया कि गिरफ्तार आरिफ ने बताया कि परवेज और अफसर ने विधवा के जमीन और रेलवे से मिले जमीन अधिग्रहण की राशि के लिए हत्याकांड को अंजाम दिया गया। गौरतलब है कि चार दिन पहले संजना बेगम की हत्या रात को सोए अवस्था मे गला दबाकर कर दी गयी थी। गिरफ्तार आरोपी ने बताया कि वह और फरार दोनों आरोपी हरियाणा में मजदूरी का काम करते हैं और 19 जून को ही हरियाणा से गांव पहुंचे थे। दो दिनों तक रेकी के बाद तीनों में मिलकर 21 की रात को संजना की गला दबाकर हत्या कर दी।एसपी ने फरार दो आरोपियों की गिरफतारी के लिए विभिन्न ठिकानों पर छापेमारी करने की बात कही और शीघ्र ही फरार आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार कर लेने का दावा किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.