अग्नीपथ योजना वापस लो , छात्रों पर किया गया फर्जी मुकदमा वापस लो – सूर्यपत सिंह

breaking News ताजा खबर प्रमुख खबरें राजनीति राज्य

केवल सच – पलामू

मेदिनीनगर – आज भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी, एआईएसएफ, नौजवान संघ ने केंद्र सरकार के द्वारा लाया गया अग्नीपथ योजना विरोध में एवं छात्र- नौजवानों सहित भाकपा जिला सचिव रुचिर कुमार तिवारी पर किया गया फर्जी मुकदमा के विरोध में प्रतिवाद मार्च निकाला गया। प्रतिवाद मार्च की शुरुआत भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के रेड़मा स्थित पार्टी कार्यालय से निकला और रैली निकालते हुए सभी साथी अग्नीपथ योजना वापस लो, छात्र नौजवानों पर किया गया फर्जी मुकदमा वापस लो, कंपनी राज नहीं चलेगा आदि नारे लगा रहे थे। जुलूस में बड़ी संख्या में छात्र नौजवान महिला एवं पुरुष थे। इसके बाद कचहरी परिसर स्थित गेट को घंटो जाम कर दिया गया। सभा को संबोधित करते हुए राज्य कार्यकारिणी सदस्य सूर्यपत सिंह ने कहा कि आज देश में कॉर्पोरेट राज लागू है और उन्हीं कारपोरेट कंपनियों के यहां गुलामी करने के लिए यह भाजपा की सरकार ने अग्निपथ योजना लाई है,जिसका पूरे देश में विरोध है और पलामू जिला के छात्र नौजवानों ने भी विरोध किया जिन पर प्रशासन ने झूठा मुकदमा किया है जिसे वापस लेना होगा। राज्य कार्यकारिणी सदस्य केडी सिंह ने कहा कि केंद्र ने जिस तरह से किसानों को गुलाम बनाने के लिए तीन काला कानून लाया था और उसे वापस लेना पड़ा उसी तरह यह अग्निपथ योजना भी वापस लेना पड़ेगा। पलामू पुलिस छात्र नौजवानों पर फर्जी मुकदमा करना बंद करें। भाकपा जिला सचिव रुचिर कुमार तिवारी ने कहा कि पूरे देश के गरीब मजदूर किसान परिवार के बेटा सेना में बहाल होते हैं और आज भाजपा सरकार 4 साल में रिटायर करके उनके सपनों को कुचलने का काम कर रही है। भाजपा के उपाध्यक्ष कहते हैं कि अग्निपथ से रिटायर होने के बाद भाजपा के कार्यालय में उनको गार्ड का नौकरी मिलेगा यह देश के सैनिकों के साथ अपमान है जिसे देश के छात्र नौजवान कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। भाजपा देश में कानून लाए कि देश के सभी सांसद और विधायक के एक- एक लड़के 4 साल के लिए सेना में बहाल हो तभी देश भक्ति देखने को मिलेगा। एआईएसएफ के जिला अध्यक्ष सुजीत पांडे ने कहा कि मोदी जी देश के नौजवान और छात्रों को बरगलाना बंद करें। सभा को राज्य कमेटी सदस्य जितेंद्र सिंह ने संबोधित करते हुए कहा कि आज देश में बेरोजगारों की लंबी फौज खड़ी है और इसका जिम्मेवार सिर्फ मोदी सरकार है। सभा में भोला सिंह, सुरेश ठाकुर, पूरन चंद साव, सोनू खान, जनेश्वर भूइंया, प्रभु साव,ललन कुमार सिन्हा, फेकन उरांव, बालकिशन राम, चरखू परहिया, चलितर भूइंया, राजेंद्र बैठा,विनोद भूइंया, समसुद्दीन अंसारी,बुधन शर्मा, मुनेश चौधरी, मोनू तिवारी, कौशल किशोर, प्रियांशु आनंद, रजनीश दुबे,चंद्रशेखर तिवारी, इरशाद पेंटर, राजदेव उरांव, सुषमा मुरमा, विमला कुंवर, मालती देवी ,मुनिया कुंवर, धनबरती कुअंर, प्रभु कुमार शर्मा, आलोक कुमार तिवारी, जीतन उरांव, गणेश राम, भीम प्रजापति सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.