www.kewalsach.com | www.kewalsachtimes.com | www.ks3.org.in | www.shruticommunicationtrust.org
BREAKING NEWS
पर्यवेक्षिका स्व. पल्लवी के दहेज प्रताड़ना मामला में उसके पति को कोर्ट 3 साल का सजा सुनाया और 5 हजार रुपए का जुर्माना…

पर्यवेक्षिका स्व. पल्लवी के दहेज प्रताड़ना मामला में उसके पति को कोर्ट 3 साल का सजा सुनाया और 5 हजार रुपए का जुर्माना…

किशनगंज-पूर्व पर्यवेक्षिका ठाकुरगंज स्व० पल्लवी कुमारी के पति को 498A से सम्बंधित केस सं०-C1492 में मिली सजा,कोर्ट ने 3 साल की सजा और 5 हजार का जुर्माना लगाया है।जुर्मना नहीं देने पर More »

दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका…

दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका…

बिहार में सरकार बेटी-पढ़ाव बेटी बचाव के अभियान पर जोड़ दे रही है।तो दूसरी तरफ दरिंदे बेटियों का जिना मुहाल कर दिया है।मुजफ्फरपुर में आए दिन लगातार लड़कियों की हत्याएं बढ़ती ही More »

प्रेम प्रसंग मॆ युवक और युवती को जबरन पिलाया ज़हर, भीड़ बना रहा तमाशबीन, प्रशासन है बेखबर, सोशल मीडिया पर हुआ वीडियो वायरल…

प्रेम प्रसंग मॆ युवक और युवती को जबरन पिलाया ज़हर, भीड़ बना रहा तमाशबीन, प्रशासन है बेखबर, सोशल मीडिया पर हुआ वीडियो वायरल…

मानवता भी शर्मसार हो गया जब यह मामला प्रकाश मॆ आया।किस तरह दो प्रेमियों को ज़बरदस्ती ज़हर पिलाया गया।कोइ इस मौत परोसने वालो कॊ रोकने और टोकने वाला भी नही मिला।पुलिस या More »

संपादक को बिना वारंट गिरफ्तार करने रांची पहुँच गई नालंदा पुलिस…

संपादक को बिना वारंट गिरफ्तार करने रांची पहुँच गई नालंदा पुलिस…

बिहार के मुखिया राज्य में कानून एवं न्याय की शासन की दुहाई देते हैं लेकिन उनके ही जिले नालंदा की पुलिस नियम एवं कानून की धज्जी उड़ाने और अपनी भद्द पिटवाने झारखंड More »

क्या पत्रकार मे अवैध उगाही और माफियाओं से साठगाँठ के वजह से जारी है आपसी भिड़ंत ?

क्या पत्रकार मे अवैध उगाही और माफियाओं से साठगाँठ के वजह से जारी है आपसी भिड़ंत ?

मुजफ्फरपुर-मोतीपुर पत्रकारों का बगावत और शोषण का यह कारोबार उनके पोस्ट से ही उजागर हुआ है।आपको बताते चले की ये मामला बहुत गंभीर और बहुत बड़ा मामला बन गया है,जो आज पत्रकारिता More »

 

IAS सेंथिल कुमार की संपत्ति पटना से तमिलनाडु तक जब्त…

पटना आईएएस अफसर के.सेंथिल कुमार की 2.51 करोड़ की संपत्ति दिनांक-28.03.2018 को संपत्ति पटना से तमिलनाडु तक मिली है।इनमें राजधानी के नागेश्वर कॉलोनी में जयश्री अपार्टमेंट स्थित फ्लैट के अलावा तमिलनाडु में जमीन के दर्जनों प्लॉट व मकान शामिल हैं।एक दशक पहले पटना नगर आयुक्त रहने के दौरान सेंथिल घोटाले में फंसे थे।तब निगरानी ब्यूरो ने उनके खिलाफ मामला दर्ज किया था।इसी मामले में ईडी ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लाउंड्रिंग एक्ट के तहत जांच शुरू की थी।बिहार कैडर के आईएएस सेंथिल कुमार तमिलनाडु के निवासी हैं।फिलहाल वे श्रम संसाधन विभाग में अपर सचिव हैं।आईएएस अफसर के.सेंथिल कुमार ने एक ठेकेदार को मोहरा बनाकर अकूत संपत्ति हासिल की।ईडी की जांच में यह खुलासा हुआ है।अवैध कमाई करने आैर उसे खपाने के लिए खास तरीका अपनाया गया था।जांच में लगे एक अफसर के मुताबिक भ्रष्टाचार की इस कहानी की शुरुआत उस समय हुई,जब सेंथिल मुंगेर के डीएम थे।वहां उनकी मुलाकात सरकारी रिकॉर्ड में क्लास वन ठेकेदार विमल कुमार से हुई।फिर विमल को काली कमाई का जरिया बना लिया।इधर सेंथिल के भाई 

के.अयप्पन ने राजधानी में सुधा सुपर मार्केट व चेन्नई कैफे खोली।इन दोनों फर्म में कई बार ठेकेदार विमल कुमार ने मोटी राशि का ट्रांजेक्शन किया। पटना में नगर आयुक्त के रूप में सेंथिल की पोस्टिंग होने के बाद भी यह सिलसिला जारी रहा।हालांकि,बाद में विजिलेंस ब्यूरो द्वारा केस दर्ज करने पर सेंथिल के भाई के स्वामित्व वाले दोनों फर्म बंद हो गए।इसके बाद सेंथिल के भाई के जरिए तमिलनाडु में खोले गए के.इंदिरा मेमोरियल एजुकेशनल ट्रस्ट को मोटी रकम भेजे गए थे।अहम यह भी है कि ट्रस्ट वर्ष 2002-03 में ही खुला पर 2008 में कैश ट्रांजेक्शन किए गए थे।ईडी ने आईएएस के.सेंथिल कुमार की जब्त संपत्ति की आधिकारिक कीमत 2.51 करोड़ आंकी है।हालांकि हकीकत में मार्केट वैल्यू के लिहाज से यह संपत्ति साढ़े 12 करोड़ से अधिक की है।आईएएस ने तमिलनाडु के अरियालुर में परिजनों के नाम से खरीदे गए जमीन के 35 प्लॉट की कीमत 37.84 लाख रुपए कागजों पर दर्शाई है।

जब्त संपत्ति

  • 8.26 लाख रुपए का है पटना में फ्लैट।
  • 1.97 करोड़ के तमिलनाडु में ट्रस्ट की जमीन और भवन।
  • 37.84 लाख रुपए के अरियालुर (तमिलनाडु) में जमीन के 35 प्लॉट हैं।
  • सेंथिल व ट्रस्ट के 7 एकाउंट में जमा राशि-7.13 लाख।

हालांकि,असलियत में इसकी वर्तमान कीमत 10 करोड़ से अधिक है।आईएएस अफसर के.सेंथिल कुमार का ‘के.इंदिरा मेमोरियल ट्रस्ट’ भी शक के घेरे में आ गया है।इसी ट्रस्ट की आड़ में अवैध कमाई का बड़ा हिस्सा खपाए जाने के संकेत मिले हैं।साथ ही कई अन्य स्तरों पर फर्जीवाड़ा के संकेत मिले हैं।इसकी पड़ताल के लिए अगले माह ईडी की टीम तमिलनाडु जाएगी।उन्होंने तमिलनाडु में ट्रस्ट खोला था।इसका प्रबंधन उनके परिजन करते हैं।ट्रस्ट के जरिए बीएड कॉलेज व स्कूल का संचालन किया जा रहा है।सूत्रों के मुताबिक आईएएस अफसर की अकूत संपत्ति की जांच में लगी ईडी को ट्रस्ट से जुड़ी गड़बड़ियों का कई अहम जानकारी मिली है।

रिपोर्ट-न्यूज़ रिपोटर 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *