www.kewalsach.com | www.kewalsachtimes.com | www.ks3.org.in | www.shruticommunicationtrust.org
BREAKING NEWS
पर्यवेक्षिका स्व. पल्लवी के दहेज प्रताड़ना मामला में उसके पति को कोर्ट 3 साल का सजा सुनाया और 5 हजार रुपए का जुर्माना…

पर्यवेक्षिका स्व. पल्लवी के दहेज प्रताड़ना मामला में उसके पति को कोर्ट 3 साल का सजा सुनाया और 5 हजार रुपए का जुर्माना…

किशनगंज-पूर्व पर्यवेक्षिका ठाकुरगंज स्व० पल्लवी कुमारी के पति को 498A से सम्बंधित केस सं०-C1492 में मिली सजा,कोर्ट ने 3 साल की सजा और 5 हजार का जुर्माना लगाया है।जुर्मना नहीं देने पर More »

दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका…

दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका…

बिहार में सरकार बेटी-पढ़ाव बेटी बचाव के अभियान पर जोड़ दे रही है।तो दूसरी तरफ दरिंदे बेटियों का जिना मुहाल कर दिया है।मुजफ्फरपुर में आए दिन लगातार लड़कियों की हत्याएं बढ़ती ही More »

प्रेम प्रसंग मॆ युवक और युवती को जबरन पिलाया ज़हर, भीड़ बना रहा तमाशबीन, प्रशासन है बेखबर, सोशल मीडिया पर हुआ वीडियो वायरल…

प्रेम प्रसंग मॆ युवक और युवती को जबरन पिलाया ज़हर, भीड़ बना रहा तमाशबीन, प्रशासन है बेखबर, सोशल मीडिया पर हुआ वीडियो वायरल…

मानवता भी शर्मसार हो गया जब यह मामला प्रकाश मॆ आया।किस तरह दो प्रेमियों को ज़बरदस्ती ज़हर पिलाया गया।कोइ इस मौत परोसने वालो कॊ रोकने और टोकने वाला भी नही मिला।पुलिस या More »

संपादक को बिना वारंट गिरफ्तार करने रांची पहुँच गई नालंदा पुलिस…

संपादक को बिना वारंट गिरफ्तार करने रांची पहुँच गई नालंदा पुलिस…

बिहार के मुखिया राज्य में कानून एवं न्याय की शासन की दुहाई देते हैं लेकिन उनके ही जिले नालंदा की पुलिस नियम एवं कानून की धज्जी उड़ाने और अपनी भद्द पिटवाने झारखंड More »

क्या पत्रकार मे अवैध उगाही और माफियाओं से साठगाँठ के वजह से जारी है आपसी भिड़ंत ?

क्या पत्रकार मे अवैध उगाही और माफियाओं से साठगाँठ के वजह से जारी है आपसी भिड़ंत ?

मुजफ्फरपुर-मोतीपुर पत्रकारों का बगावत और शोषण का यह कारोबार उनके पोस्ट से ही उजागर हुआ है।आपको बताते चले की ये मामला बहुत गंभीर और बहुत बड़ा मामला बन गया है,जो आज पत्रकारिता More »

 

शराब माफिया अरुण को आर्थिक अपराध इकाई और छपरा पुलिस की टीम ने घेराबंदी कर धर-दबोचा,घर से मिले 36 लाख नगद…

बिहार के टॉप 10 में नम्बर 1 का शराब माफिया है अरूण सिंह।रुपए और मशीन को इसके घर पटना कंकड़बाग स्थित से बरामद किया है।इसके कई ठिकानों पर अब भी छापेमारी जारी है।बताया जाता है कि हाजीपुर और इसके आसपास के इलाके में शराब की जो भी कंटेनर पकड़ी जाती थी,सब इसी के होते थे।

छपरा बिहार में अवैध शराब के बढ़ते व्यापार से जूझ रही पुलिस को बहुत बड़ी कामयाबी मिली है।बिहार का सबसे बड़ा शराब माफिया अरुण सिंह छपरा में पकड़ा गया है।पुलिस मुख्यालय के आदेश के बाद पटना सहित पूरे बिहार में शराब के अवैध सिंडिकेट के सबसे बड़े खिलाड़ी अरुण सिंह को आर्थिक अपराध इकाई (EOU) और छपरा पुलिस की टीम ने घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया है।गिरफ्तारी के साथ ही उसके पटना स्थित घर से 36 लाख रुपये नगद के अलावा हीरे और सोने के जेवरात बरामद किए गए है।मिली जानकारी के अनुसार गिरफ्तार शराब माफिया की निशानदेही पर पटना,छपरा और हाजीपुर में पुलिस की छापेमारी जारी है।

शराबबंदी के बाद अरुण के खिलाफ डेढ़ दर्जन से ज्यादा मामले पटना सहित चार जिलों में दर्ज किए गए थे।जिनमें से चार मामलों की जांच आर्थिक अपराध ईकाई कर रही थी।लेकिन शातिर शराब माफिया अरूण सिंह हर बार अपने राजनैतिक रसूख और पैसे के बल पर बच जाता था।मालूम हो कि बिहार के टॉप 10 में नम्बर 1 का शराब माफिया है अरूण सिंह।रुपए और मशीन को टीम ने इसके पटना में कंकड़बाग स्थित घर से बरामद किया है।जबकि इसके कई ठिकानों पर अब भी छापेमारी जारी है।बताया जाता है कि हाजीपुर और इसके आसपास के इलाके में शराब की जो भी कंटेनर पकड़ी जाती थी,सब इसी के होते थे।सूत्र बताते हैं कि शराबबंदी के शुरुआती दौर में ही ये मुजफ्फरपुर के मोतीपुर में पकड़ा गया था।शराब की तस्करी करते पुलिस टीम ने इसे रंगे हाथ पकड़ा था।लेकिन बड़ी रकम देकर ये मौके से छूट गया था।शराब तस्करी का धंधा इसके लिए नया नहीं है।सूत्र की मानें तो बिहार से पहले इसने गुजरात को अपना अड्डा बनाया था।चूंकि वहां पहले से शराब पर पाबंदी लगी है।

रिपोर्ट-न्यूज़ रिपोटर 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *