www.kewalsach.com | www.kewalsachtimes.com | www.ks3.org.in | www.shruticommunicationtrust.org
BREAKING NEWS
आइये जानते एक साधारण परिवार के ips अधिकारी की सफलता की कहानी…

आइये जानते एक साधारण परिवार के ips अधिकारी की सफलता की कहानी…

किशनगंज यह कहानी एक बहुत ही साधारण परिवार के बेटे की है जमुई के एक छोटे से गांव सिकंदरा (शायद आपने नाम सुना होगा) में पले बढे इस आईपीएस अधिकारी की सफलता More »

पर्यवेक्षिका स्व. पल्लवी के दहेज प्रताड़ना मामला में उसके पति को कोर्ट 3 साल का सजा सुनाया और 5 हजार रुपए का जुर्माना…

पर्यवेक्षिका स्व. पल्लवी के दहेज प्रताड़ना मामला में उसके पति को कोर्ट 3 साल का सजा सुनाया और 5 हजार रुपए का जुर्माना…

किशनगंज-पूर्व पर्यवेक्षिका ठाकुरगंज स्व० पल्लवी कुमारी के पति को 498A से सम्बंधित केस सं०-C1492 में मिली सजा,कोर्ट ने 3 साल की सजा और 5 हजार का जुर्माना लगाया है।जुर्मना नहीं देने पर More »

दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका…

दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका…

बिहार में सरकार बेटी-पढ़ाव बेटी बचाव के अभियान पर जोड़ दे रही है।तो दूसरी तरफ दरिंदे बेटियों का जिना मुहाल कर दिया है।मुजफ्फरपुर में आए दिन लगातार लड़कियों की हत्याएं बढ़ती ही More »

प्रेम प्रसंग मॆ युवक और युवती को जबरन पिलाया ज़हर, भीड़ बना रहा तमाशबीन, प्रशासन है बेखबर, सोशल मीडिया पर हुआ वीडियो वायरल…

प्रेम प्रसंग मॆ युवक और युवती को जबरन पिलाया ज़हर, भीड़ बना रहा तमाशबीन, प्रशासन है बेखबर, सोशल मीडिया पर हुआ वीडियो वायरल…

मानवता भी शर्मसार हो गया जब यह मामला प्रकाश मॆ आया।किस तरह दो प्रेमियों को ज़बरदस्ती ज़हर पिलाया गया।कोइ इस मौत परोसने वालो कॊ रोकने और टोकने वाला भी नही मिला।पुलिस या More »

संपादक को बिना वारंट गिरफ्तार करने रांची पहुँच गई नालंदा पुलिस…

संपादक को बिना वारंट गिरफ्तार करने रांची पहुँच गई नालंदा पुलिस…

बिहार के मुखिया राज्य में कानून एवं न्याय की शासन की दुहाई देते हैं लेकिन उनके ही जिले नालंदा की पुलिस नियम एवं कानून की धज्जी उड़ाने और अपनी भद्द पिटवाने झारखंड More »

 

आतंकवादी तौसीफ के पास से जांच टीम को कोर्डवर्ड के कई पुर्जे मिले, कोडवर्ड्स के जरिये आतंकी वारदातों को देता था अंजाम…

बिहार के गया से गिरफ्तार दो संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है जिसमें से एक अपराधी अहमदाबाद बम ब्लास्ट का आरोपी है तो दूसरा अलकायदा से संबंध रखने वाला। हलांकि गिरफ्तार आतंकियों से जहां एक तरफ पुलिस अधिकारियों की पूछ ताछ चल रही है तो दूसरी तरफ एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जिससे पुलिस की कानून व्यवस्था पर ही सवाल उठने लगे हैं। ये तस्वीरें थाने की बताई जा रही है जिसे देख कर लोग यही पूछ रहे हैं कि थाने में कैद आतंकियों के हाथों में मोबाइल कहां से आया और मोबाइल के जरिए वह किससे बात करने की कोशिश कर रहा है ? आप को बताते चलें कि इन दोनों आतंकियों को बुधवार को गया पुलिस के द्वारा गुप्त सूचना के आधार पर सिविल लाइन थानाक्षेत्र के राजेन्द्र आश्रम के पास से एक साइबर कैफे से 

गिरफ्तार किया था जहां यह दोनों काफी दिनों से आते थे और घंटों रहकर किसी से बात करते थे।इस मामले का खुलासा उस वक्त हुआ जब साइबर कैफे संचाक के फेसबुक पर आतंकियों का दिल्ली पुलिस के द्वारा जारी किए गए पांच स्कैच आए जिसमें कैफ़े में आनेवाले एक युवक का चेहरा मिल रहा था।फिर क्या था कैसे संचालक ने इस बात की जानकारी नजदीकी थाने को दी और मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।गिरफ्तारी के बाद पूछताछ के दौरान यह पता चला कि वह अहमदाबाद में वर्ष 2008 में हुए बम ब्लास्ट का आरोपी हैफिलहाल इस मामले में स्पेशल ब्रांच, सीआईडी व आईबी के अधिकारियों द्वारा पूछताछ की जा रही है।अब हम आपको बताने जा रहे हैं बिहार पुलिस कि वह लचर कानून व्यवस्था के बारे में जिससे अपराधी पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था में सेंध लगाने की कोशिश करते हैं।दरअसल गिरफ्तार हुए आतंकियों की गतिविधियों पर पुलिस की खास नजर होती है लेकिन यहां गिरफ्तार आतंकी खुलेआम थाने में मोबाइल से बात करते नजर आए।इससे पहले भी कई बार अपराधियों को हाथों में हथकड़ी लगाए मोबाइल पर बात करते हुए तस्वीर सामने आई थी। हलांकि इस मामले में पुलिस के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी हुई पर अब आतंकियों के मोबाइल पर बात करने की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी है और इसको लेकर तरह-तरह के कमेंट्स किए जा रहे हैं।आपको बताते चले की आतंकवादी तौसीफ कोडवर्ड के जरिये अपनी आतंकी रणनीति को अंजाम देता था।चार दिनों के रिमांड पर लिये गये तौसीफ से पूछताछ के दौरान जांच एजेंसियों को अहम सुराग और जानकारियां मिली हैं।अहमदाबाद विस्फोट के आरोपी तौसीफ से बिहार पुलिस, गुजरात एटीएस, एनआईए के अधिकारी लगातार पूछताछ कर रहे हैं।पुलिस रिमांड में रहे आतंकी तौसीफ ने पूछताछ के दौरान अहम राज खोले हैं।पुलिस को तौसीफ से मिली जानकारियों के बाद कई और लोगों की भी गिरफ्तारी संभव है। तौसीफ के खिलाफ गया के सिविल लाइन थाना में मामला दर्ज है।पुलिस और पूछताछ कर रही एटीएस को जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक वो कोर्डवर्ड्स के जरिये अपनी रणनीति बनाता था और उन्हें जरूरत के हिसाब से अंजाम देता था।तौसीफ के पास से जांच टीम को कोर्डवर्ड के कई पुर्जे मिले हैं।ATS की टीम तौसीफ के पास से मिले कोर्डवर्ड को सुलझाने का प्रयास कर रही है।मालूम हो कि गया से गिरफ्तार तौसीफ और उसके दो सहयोगियों को पुलिस ने चार दिनों की रिमांड पर ले रखा है।

रिपोर्ट-न्यूज़ रिपोटर 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *