www.kewalsach.com | www.kewalsachtimes.com | www.ks3.org.in | www.shruticommunicationtrust.org
BREAKING NEWS

लोगों पर टैक्स चोरी के मामले में छापा मारकर करोड़ों का कालाधन उजागर करने वाले झारखंड के चीफ इनकम टैक्स कमिश्नर तपस कुमार दत्ता इन दिनों खुद सीबीआई के घेरे में….

सीबीआई ने बुधवार (12 जुलाई, 2017) को देशभर में फर्जी कंपनियों और बेनामी संपत्तियों के खिलाफ छापेमारी की।पश्चिम बंगाल से लेकर झारखंड तक की गई इस छापेमारी में कई हाईप्रोफाइल लोगों के शामिल होने की बात सामने आ रही है। इस दौरान सीबीआई ने देशभर में 23 प्रमुख ठिकानों पर छापेमारी की। जिसमें 18 कोलकाता में जबकि रांची में पांच जगहों पर छापेमारी की गई। एएनआई की खबर के अनुसार फर्जी कंपनियों और बेनामी संपत्ति रखने के कई आरोपी खुद सीबीआई अधिकारी हैं। छापेमारी में सीबीआई टीम ने बंगाल के प्रिंसिपल कमिश्नर तापस के दत्ता के आवास से करीब 3.5 करोड़ रुपए कैश और 5 किलोग्राम सोना बरामद किया है। उनका

घर साल्ट लेक इलाके में है।वहीं तापस के दत्ता के अलावा रांची आयकर विभाग के तीन अधिकारी और एक सीए को इसमें शामिल होने के शक में गिरफ्तार किया गया है।सभी के खिलाफ आपराधिक साजिश,गैरकानूनी रूप से संपत्ति अर्जित करने जैसे अन्य मामलों में कैस दर्ज किया गया है।जानकारी के लिए बतादें कि सीबीआई ने देशभर की कई ऐसी फर्जी कंपनियों पर शिकंजा कसना शुरू किया है जिनपर कालेधन को सफेद करने का आरोप लगा है।लोगों पर टैक्स चोरी के मामले में छापा मारकर करोड़ों का कालाधन उजागर करने वाले झारखंड के चीफ इनकम टैक्स कमिश्नर तपस कुमार दत्ता इन दिनों खुद सीबीआई के घेरे में फंस गए हैं।सीबीआई ने बुधवार को 23 ठिकानों पर छापेमारी करते हुए तपस कुमार को गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया है।दरअसल,सीबीआई ने कथित भ्रष्टाचार की शिकायत मिलने के बाद झारखंड के चीफ इनकम टैक्स कमिश्नर तपस कुमार दत्ता के रांची और कोलकाता स्थित कुल 23 ठिकानों पर बुधवार को छापेमारी की।इस दौरान CBI ने 3.5 करोड़ रुपए

नकद और पांच किलो सोना जब्त किया।एएनआई के मुताबिक,सीबीआई ने कमिश्नर तपस कुमार दत्ता को गिरफ्तार कर लिया है,जिन्हें आज पद का दुरुपयोग और रिश्वत लेने के मुकदमे में रांची कोर्ट में पेश किया जाएगा।सीबीआई ने हाल में ही में दत्ता, आयकर अतिरिक्त आयुक्त अरविंद कुमार,आयकर अधिकारी (तकनीकी) रंजीत कुमार लाल, एक अन्य आयकर अधिकारी और चार्टर्ड अकाउंटेंट पवन मौर्या के खिलाफ मामला दर्ज किया है।कोलकाता के कारोबारी और आंचल व्यापार के निदेशक विश्वनाथ अग्रवाल, निजी व्यक्तियों संतोष चौधरी, संतोष शाह, आकाश अग्रवाल और अरविंद अग्रवाल के खिलाफ भी आपराधिक साजिश और भ्रष्टाचार रोधक कानून के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।इस मामले में जानकारी देते हुए सीबीआई प्रवक्ता आर के गौड़ ने बताया कि सीबीआई ने कोलकाता और रांची में कुल 23 ठिकानों पर छापेमारी की, जिनमें दत्ता और अन्य का आवास भी शामिल है।छापेमारी के दौरान एजेंसी ने दत्ता के आवास से 3.5 करोड़ रुपये जब्त किए है।इसके अलावा पांच किलो सोना भी जब्त किया गया है।गौरतलब है कि तपस 

तपस कुमार दत्ता पर आरोप है कि उन्होंने 2016-17 में आयकर विभाग के तीन अन्य अधिकारियों और कोलकाता के कारोबारी और एंट्री ऑपरेटर के साथ आपराधिक साजिश की थी।इस बारे में दत्ता को भेजे गए टेक्स्ट मैसेज का जवाब नहीं मिला।साजिश के तहत दत्ता ने कथित रूप से इस कारोबारी से एक चार्टर्ड अकाउंटेंट के जरिये भारी रिश्वत ली।यह रिश्वत कई लोगों की आयकर फाइलें कोलकाता से रांची के हजारीबाग को ट्रांसफर करने के लिए ली गई थी।

रिपोर्ट-न्यूज़ रिपोटर 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *