www.kewalsach.com | www.kewalsachtimes.com | www.ks3.org.in | www.shruticommunicationtrust.org
BREAKING NEWS

मोदी ने देशभर की 20 बेस्ट यूनिवर्सिटी के लिए 5 साल में 10 हजार करोड़ रुपए के पैकेज का किया एलान…

नरेंद्र मोदी एक दिन के दौरे पर शनिवार को पटना पहुंचे।इस मौके पर मोदी ने देशभर की 20 बेस्ट यूनिवर्सिटी के लिए 5 साल में 10 हजार करोड़ रुपए के पैकेज का एलान किया।उन्होंने कहा कि इसमें 10 यूनिवर्सिटी गवर्नमेंट तो 10 प्राइवेट होंगी।बतादें कि 26 जुलाई को नीतीश कुमार ने कांग्रेस और आरजेडी का साथ छोड़कर बीजेपी के साथ सरकार बनाई थी।सरकार बनाने के 80 दिन बाद ये पहला मौका था जब मोदी और नीतीश ने मंच शेयर किया।मोदी ने कहा,इस धरती को नमन करता हूं।आज देश जहां भी है,वहां तक उसे पहुंचाने में इस यूनिवर्सिटी का बहुत बड़ा योगदान है।चीन में कहावत है-अगर आप सालभर का सोचते हैं तो अनाज बोइए।10-20 साल का सोचते हैं तो फल का पेड़ लगाइए।अगर पीढ़ियों का सोचते हैं तो मनुष्य को बोइए।पटना यूनिवर्सिटी को जो बीज 100 साल पहले बोया गया,कई पीढ़ियां पढ़कर निकलीं और देश को भी आगे ले गईं।शायद ही कोई ऐसा राज्य होगा जहां सिविल सेवा में टॉप करनेवालों में पटना यूनिवर्सिटी का स्टूडेंट हो। मोदी ने कहा, पहले हम स्कूल-कॉलेज में सीखने के लिए जाते थे, अब वो 

युग खत्म हो चुका है।अब सोचने का दायरा बदला है,अब हमारी यूनिवर्सिटीज के लिए ये चुनौती है कि पुराना जो सीखकर आया है कि उसे कैसे भुलाएं।मिस्टर फॉक्स ने कहा था शिक्षा का काम है-दिमाग को खाली करना और दिमाग को खुला रखना।इसी में नए विचारों के लिए जगह बनेगी।नई टीचिंग में लर्निंग को बल देते हुए आगे चलना है।मोदी के मुताबिक”वही देश आगे बढ़ते हैं जो इनोवेशन को प्राथमिकता देते हैं।सिर्फ कॉस्मेटिक चेंज को संशोधन नहीं माना जाता।हमें भविष्य को राह दिखाने के लिए काम करना होगा।पीएम मोदी ने कहा,देश को अलग राह पर ले जाना है तो इनोवेशन को जितना बल मिलेगा हम उतना आगे खड़े रहेंगे।पहले दुनिया यही सोचती है हम सांप-सपेरों,कालाजादू वाला देश हैं।बाद में लोगों को अपनी सोच बदलनी पड़ी।एकबार ताइवान में मुझसे किसी ने पूछा कि क्या हिंदुस्तान अभी भी सांप-सपेरे,जादू-टोनेवाला है।मैंने कहा कि मुझे देखकर क्या लगता है ?पहले की पीढ़ी सांप से खेला करती थी,आज की पीढ़ी माउस से खेलती है।मोदी ने कहा,मेरा हिंदुस्तान जवान है,हिंदुस्तान के सपने भी जवान हैं।वो देश अपने सपनों को क्यों पूरा नहीं कर सकता ? हमारे देश में शिक्षा क्षेत्र के रिफॉर्म बहुत धीमी गति से चले हैं।मतभेद भी काफी रहे हैं।

उसी के परिणाम के चलते हमारी पूरी शिक्षा व्यवस्था में जो रिफॉर्म्स चाहिए,उसमें सरकारें कुछ कम पड़ गई हैं।देश में कई साल से चर्चा चल रही थी कि आईआईएम आजाद रहे या उस पर सरकार का कंट्रोल रहे।आईआईएम को हमने आजादी दे दी।अब आईआईएम रिफॉर्म के अंदर एक बात जोड़ी गई है कि उसे चलाने में एल्युमिनाई को जोड़ा गया है।हमारे यहां ये परंपरा काफी कम है।एल्युमिनाई एक बड़ी ताकत होती है।मैं उस परंपरा को आगे ले जाने के लिए निमंत्रण देने आया हूं।पीएम ने आगे कहा,विश्व की टॉप 500 यूनिवर्सिटी में भारत का कहीं नामोनिशान नहीं हैं।जहां, नालंदा, तक्षशिला, विक्रमशिला और वल्लभी दुनिया को आकर्षित करती थीं,आज ऐसा नहीं है।इस स्थिति को बदलना होगा।इसके लिए संकल्प और सिद्धी भी तो हमारी होना चाहिए।हम योजना लाए हैं कि देश की 10 प्राइवेट और 10 पब्लिक यूनिवर्सिटीज को वर्ल्ड क्लास बनाने के लिए सारे बंधनों से मुक्ति दी जाएगी।प्रतिस्पर्धा के जरिए उनके इतिहास-परफॉर्मेंस को देखा जाएगा।उनको अपनी दिशा में आगे बढ़ने दिया जाएगा।5 साल में उन्हें 10 हजार करोड़

रुपए दिए जाएंगे।पटना यूनिवर्सिटी को पीछे नहीं रहना चाहिए।दुनिया में पटना यूनिवर्सिटी की ताकत दिखनी चाहिए।नीतीश ने कहा,पीएम में मुझसे म्यूजियम देखने की इच्छा जताई।ये हमारा सौभाग्य है।बुद्ध को यहीं बिहार की धरती पर ज्ञान मिला,महावीर का जन्म यहीं हुआ,ज्ञान भी उन्हें यहीं मिला। चाणक्य ने भी यहीं अर्थशास्त्र की रचना की।मोदी राज्य में बीजेपी और जेडीयू की सरकार बनने के बाद दूसरी बार बिहार आए हैं।इससे पहले,उन्होंने 26 अगस्त को बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया था।प्रधानमंत्री

पटना और मोकामा में 4 घंटा 40 मिनट रहेंगे।कुल 3769 करोड़ की 8 प्रोजेक्ट की नींव रखेंगे।मोकामा में एनएच-31 के आंटा-सिमरिया खंड और बख्तियारपुर-मोकामा खंड को 4 लेन में बदलने के लिए वाले प्रोजेक्ट की आधारशिला रखेंगे।प्रधानमंत्री, 6 लेन वाले गंगा सेतु और राष्ट्रीय राजमार्ग-107 के महेशखूंट-सहरसा-पूर्णिया खंड पर राष्ट्रीय राजमार्ग-82 पर बिहारशरीफ-बरबीघा-मोकामा खंड पर 2 लेन के निर्माण कार्य की भी नींव रखेंगे।मोकामा में ही पीएम, राजधानी के लिए नमामि गंगे परियोजना के तहत सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट सीवरेज नेटवर्क की 4 प्रोजेक्ट की नींव रखेंगे।इसके लिए केंद्र ने 738 करोड़ की मंजूरी दी है।

रिपोर्ट-न्यूज़ रिपोटर 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *