www.kewalsach.com | www.kewalsachtimes.com | www.ks3.org.in | www.shruticommunicationtrust.org
BREAKING NEWS

महिला पैसेंजर ने एयर इंडिया के ड्यूटी मैनेजर को मारा थप्पड़, फिर मांगी एक दुसरे से माफ़ी…

यहां के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर बुधवार सुबह एक महिला यात्री और एअर इंडिया की ड्यूटी मैनेजर ने एक-दूसरे को थप्पड़ मार दिए।पुलिस के मुताबिक,मैनेजर ने देरी से पहुंचने पर महिला को फ्लाइट में जाने से रोक दिया था।इसी बात पर उनमें हाथापाई हो गई थी।बतादें कि इसी साल मार्च में शिवसेना सांसद रवींद्र गायकवाड़ पर एअर इंडिया के ड्यूटी मैनेजर से मारपीट करने का आरोप लगा था।इस घटना पर उन्होंने सिविल एविएशन मिनिस्टर से लिखित में माफी मांगी थी।न्यूज एजेंसी के मुताबिक,यह घटना उस वक्त हुई जब हैदराबाद जा रही एक महिला की ऑफिशल के साथ बहस हो गई।एअर इंडिया के एक स्पोक्सपर्सन ने बताया,”एक महिला यात्री ने काउंटर स्टाफ से कहा कि वह चेक-इन नहीं करेगी,क्योंकि वह लेट हो चुकी है।इसके बाद उनमें बहस हो गई।स्टाफ ने उसे ड्यूटी मैनेजर के पास भेजा।वह भी एक महिला थी।दोनों के बीच बहस,फिर हाथापाई हो गई।एयरपोर्ट के डीसीपी संजय भाटिया ने कहा,”महिला यात्री और एअर इंडिया की लेडी स्टाफ के बीच बहस हुई।महिला यात्री ने उसे थप्पड़ मार दिया।इस पर लेडी स्टाफ ने भी उसे थप्पड़ मारा।एअर इंडिया के स्पोक्सपर्सन ने कहा कि बाद में दोनों पक्षों ने एक दूसरे से माफी मांग ली और उनमें सुलह हो गई।

यह पहला मौका नहीं है,जब एअर इंडिया स्टाफ और यात्री के बीच मारपीट हुई हो।इससे पहले इसी साल मार्च में शिवसेना सांसद रवींद्र गायकवाड़ और एअर इंडिया के ड्यूटी मैनेजर के बीच मारपीट हुइ थी।गायकवाड़ पर मैनेजर को सैंडल से 25 बार पीटने का आरोप लगा था।खुद उन्होंने मीडिया के सामने इसे कबूल भी किया था।माफी मांगने के सवाल पर उन्होंने कहा था,”मैं माफी नहीं मांगूगा,गलती मेरी नहीं,उनकी है।माफी उन्हें मांगनी चाहिए।जिसके बाद गायकवाड़ को एअर इंडिया समेत 7 एयरलाइन्स ने नो-फ्लाई लिस्ट में डाल दिया था।मामले में संसद में भी हंगामा हुआ था।इसके बाद गायकवाड़ ने एविएशन मिनिस्टर अशोक गजपति राजू से लिखित में माफी मांगी थी।नवंबर की शुरुआत में सोशल मीडिया के जरिए एक वीडियाे सामने आया था,जिसमें इंडिगो एयरलाइंस के ग्राउंड स्टाफ को एक पैसेंजर से मारपीट करते दिखाया गया था।बताया गया था कि यह घटना दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोट पर 31 अक्टूबर को हुई थी।मामला सामने आने के बाद इंडिगो ने आरोपी स्टाफ को नौकरी से निकाल दिया था। साथ ही पैसेंजर से माफी मांगी थी।इस पूरे मामले पर सिविल एविएशन मिनिस्टर अशोक गजपति राजू ने डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) से मामले की रिपोर्ट मांगी थी।

रिपोर्ट-न्यूज़ रिपोटर 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *