www.kewalsach.com | www.kewalsachtimes.com | www.ks3.org.in | www.shruticommunicationtrust.org
BREAKING NEWS

भाजपा नेता मनोज नगेशिया की हत्या मामले में पुलिस ने किया तीन लोगों को गिरफ्तार, हथियार भी बरामद…राजा पीटर को चार दिनों के लिए रिमांड पर देने का आदेश दिया कोर्ट…

भाजपा नेता मनोज नगेशिया की हत्या मामले में बीती रात पुलिस ने तीन लोगों को अरेस्ट कर लिया।उनके पास से पुलिस ने हथियार भी बरामद किया है।वहीं, हत्या का मास्टर माइंड पीएलएफआई का एरिया कमांडर विजय डांग फिलहाल पुलिस की पकड़ से दूर है।अरेस्ट आरोपियों में शीतल कडुलना (23)लोरेन सामंद (23) और अनूप टोपनो (20) शामिल है।इन्होंने पुलिस को बताया कि इस घटना की पूरा योजना विजय डांग उर्फ विजय टाइगर द्वारा बनाई गई थी।विजय डांग जो पीएलएफआई का एरिया कमांडर एवं दो लाख रुपए का इनामी है।उसी द्वारा 9 एमएम पिस्टल और 12 बोर का देशी कट्‌टा अनूप और लोरेने को दिया गया।हत्या की योजना जंगल में बनाई गई थी।उस

दौरान विजय डांग ने कहा था कि मनोज नागेसिया मेले में आएंगे।वहीं,उनकी स्टेज पर या फिर खाना खाने के दौरान हत्या करनी है।योजना के तहत ही मनोज नागेसिया को गोली मारी गई और चारों आरोपी भाग निकले।बीती रात अरेस्ट तीन आरोपियों से पुलिस ने एक लोडेड देशी पिस्टल मैगजीन लगा,9 एमएम की दो गोली,12 बोर की दो जिंदा गोली,दो बाइक,9 मोबाइल फाेन और 5 पीएलएफआई का पर्चा बरामद किया है।आपको बताते चलें कि 6 अक्टूबर की रात लचरागढ़ में पीठ पर गोली मारकर मनोज नागेसिया की हत्या कर दी गई थी।वे इंद मेला में शामिल होने गए थे।मनोज नगेशिया रात लगभग दस बजे लचरागढ़ पहुंचे थे।घटना के समय उन्हें सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए बनाए गए मंच के बगल में छोटे शामियाने में भोजन करने के लिए ले जाया गया था।बताया जाता है कि भोजन करते वक्त नगेशिया समेत कुल छह लोग मौजूद थे।नगेशिया ने जैसे ही भोजन का पहला कौर मुंह में डाला उसी समय पर्दे के पीछे से गोली चली और उनकी पीठ में लगी।पूर्व माओवादी जोनल कमांडर मनोज नगेशिया को विभिन्न नक्सली घटनाओं के आरोप में कानून की विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया था।जेल में ढाई साल रहने के बाद बरी होने पर वह भाजपा में शामिल हुए थे।नगेशिया ने वर्ष 2014 में कोलेबिरा विधानसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा था और वह दूसरे स्थान पर थे।अगले विधानसभा चुनाव के लिए भी उन्हें मजबूत उम्मीदवार माना जा रहा था।वे शहीद थॉमस सोरेंग फुटबॉल टूर्नामेंट की आयोजन समिति,भैरव बाबा आयोजन समिति सहित कई संगठनों से जुड़े हुए थे।

यह स्टाइलिश नेता, MLA मर्डर का है आरोपी…

विधायक रमेश सिंह मुंडा मर्डर मामले में एनआईए ने झारखंड के पूर्व मंत्री गोपाल कृष्ण पातर उर्फ राजा पीटर को गिरफ्तार कर लिया है।एनआईए की टीम ने सोमवार को राजा पीटर को स्पेशल कोर्ट में पेश किया।कोर्ट ने राजा पीटर को चार दिनों के लिए एनआईए को रिमांड पर दिया है।कोर्ट में पेशी के दौरान राजा पीटर मुस्कुराते हुए पहुंचे।राजा पीटर लंबे बाल रखते हैं और अपने स्टाइल के कारण भी चर्चा में रहते हैं।कोर्ट में पेशी के दौरान रांची पुलिस की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था थी। एनआईए के अधिकारियों के अलावा कोतवाली डीएसपी भोला प्रसाद सिंह के नेतृत्व में बड़ी संख्या में पुलिस जवान कोर्ट कैंपस में तैनात थे।एनआईए ने कोर्ट से सात दिनों की रिमांड मांगी थी,लेकिन कोर्ट ने राजा पीटर को चार दिनों के लिए रिमांड पर दिया।एनआई ने विधायक रमेश सिंह मुंडा की सुरक्षा में तैनात तत्कालीन पुलिस अवर निरीक्षक शेषनाथ सिंह खरवार को भी धनबाद से गिरफ्तार किया गया।नौ जुलाई 2008 को रमेश सिंह मुंडा की हत्या बुंडू थाना से डेढ किलोमीटर दूर एक स्कूल में नक्सलियों ने कर दी थी।बताया जाता है कि इस हत्या के लिए पूर्व मंत्री राजा पीटर ने एक करोड़ से अधिक रुपए नक्सलियों को दिए थे।नक्सलियों के जाेनल कमांडर कुंदन पाहन समेत बड़ी संख्या में नक्सली भाड़े की जीप में आए थे और एके 47 एवं इंसास जैसे हथियारों से विधायक की हत्या कर दी थी।इस दौरान विधायक के दो बॉडीगार्ड भी मारे गए थे। तीसरा बॉडीगार्ड शेषनाथ सिंह खरवार बच गया था। खरवार पर आरोप है कि नक्सलियों को विधायक के मूवमेंट की सूचना वही दिया करता था।

रिपोर्ट-न्यूज़ रिपोटर 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *