www.kewalsach.com | www.kewalsachtimes.com | www.ks3.org.in | www.shruticommunicationtrust.org
BREAKING NEWS

दुर्गापूजा व मुहर्रम को लेकर प्रशासन ने कस ली अपनी कमर, असामाजिक तत्वों पर रहेगी प्रशासन की पैनी नजर…

शहर में दुर्गापूजा व मुहर्रम को लेकर प्रशासन ने अपनी कमर कस ली है।इसको लेकर डीएम व एसपी ने व्यापक इंतेजाम की तैयारी कर ली है।पूजा के पहले पंडालों की सघन जांच शुरू हो गई है।हर जगह पुलिस की टीम ने कैम्पिंग करना शुरू कर दिया है।समाहरणालय के सभा कक्ष में दुर्गापूजा तथा मुहर्रम को शांतिपूर्ण वातावरण में संपन्न कराए जाने को लेकर प्रशासनिक तैयारियों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी सतीश कुमार ने कहा कि पर्व त्योहारों में असामाजिक तत्वों पर जिला प्रशासन की पैनी नजर रहेगी।उन्होंने कहा कि पूजा पंडाल के लिए 88 तथा मुहर्रम के लिए 147 आवेदन प्राप्त हुए

हैं।उन्होंने कहा कि जो भी आवेदन प्राप्त हुए हैं उसका लाइसेंस निर्गत किए जाने के पहले आवश्यक जांच पड़ताल करें।उन्होंने इसकी जिम्मेदारी एसडीपीओ शैलेंद्र कुमार को सौंपी।उन्होंने कहा कि सभी आयोजक 15-15 कार्यकर्ताओं का पूरे विवरण के साथ प्रशासन को सूची उपलब्ध कराएं।डीएम ने 30सितंबर को प्रतिमा विसर्जन किए जाने का भी निर्देश दिया।उन्होंने कहा कि विसर्जन के लिए जो पिछले साल रूट चार्ट बनाया गया था उसमें कोई परिवर्तन नहीं किया जाएगा।कहा कि सभी पूजा पंडालों में 200 लीटर पानी उपलब्ध रखें।ताकि आग लगने की स्थिति उसका उपयोग किया जा सके।उन्होंने कहा कि पूजा पंडाल से 15 फीट की दूरी पर बिजली का कनेक्शन करें।उन्होंने सभी पूजा पंडालों में पर्याप्त रोशनी उपलब्ध रखने का भी निर्देश दिया।डीएम ने कहा कि आयोजक को यह ध्यान रखना होगा ध्वनि प्रदूषण का लोगों का स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर न पड़े।यही कारण है कि प्रशासन द्वारा डीजे पर प्रतिबंध लगाया गया है।यदि किसी के द्वारा इसका उल्लंघन किया गया तो डीजे संचालकों पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।उन्होंने कहा कि ध्वनि विस्तारक यंत्र का प्रयोग करने के लिए अनुमंडल पदाधिकारी से अनुमति लेनी होगी।रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक ध्वनि विस्तारक यंत्र पर उपयोग पर पूर्णरूप से प्रतिबंध रहेगा।इस मौके पर एसपी दिलीप कुमार मिश्र ने कहा कि 30 सितंबर को प्रतिमा विसर्जन किए जाने के साथ ही सड़कों पर से सजावट हटाना होगा।ताजिया निकलने वाले स्थलों पर इसका अनुपालन जरूरी होगा।उन्होंने कहा कि बीडीओ तथा थानाध्यक्ष प्रतिदिन पूजा पंडाल के आयोजकों के साथ बैठक कर विधि व्यवस्था की समीक्षा करेंगे।पंडालों में सुरक्षा का व्यापक इंतजाम करना होगा।पंडालों में जरूरी मोबाइल नंबर भी उपलब्ध करना होगा।उन्होंने कहा कि पूजा पंडालों में बाल विवाह एवं दहेज निषेध से संबंधित फ्लैक्सी भी लगाए जाएंगे।इसकी आपूर्ति जिला जनसंपर्क पदाधिकारी द्वारा की जाएगी।उन्होंने कहा कि 23 सितंबर को डीएम की अध्यक्षता में जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक आयोजित की जाएगी।बैठक में एसडीओ यशपाल मीणा,एसडीपीओ शैलेंद्र कुमार, जिला भूअर्जन पदाधिकारी अशोक कुमार, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी सत्येंद्र प्रसाद तथा उपनिर्वाचन पदाधिकारी संतोष कुमार के अलावा जिले के सभी बीडीओ व सीओ मौजूद थे।

रिपोर्ट-न्यूज़ रिपोटर 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *