www.kewalsach.com | www.kewalsachtimes.com | www.ks3.org.in | www.shruticommunicationtrust.org
BREAKING NEWS

अपराधियो पर लगातार नकेल कसती हुई मुज़्ज़फरपुर पुलिस…

अपराध एवं अपराधियो पर लगातार नकेल कसती हुई मुज़्ज़फरपुर पुलिस अब नवीन चुनौतियों के लिए भी कमर कस तैयार हो गई है।जिले में अमन,शांति का माहौल कायम करने के लिए लगातर अपराधियो की गिरफ्तरी कर सलाखों के पीछे किया जाता रहा है।इसी क्रम में 5 अप्रैल की रात करीब पौने नौ बजे सरैयां थानांतर्गत सरैयां बाजार मोती चौक पर स्वर्ण व्यवसायी टेनी शाह के घर के पास बम विस्फोट की घटना की सूचना मिलते ही अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सरैयां  डॉ० शंकर कुमार झा के नेतृत्व में पुलिस निरीक्षक, पारू अंचल पुअनि अभय कुमार सिंह,थानाध्यक्ष सरैयां पुअनि मो० अल्लाउदीन, थानाध्यक्ष पारू पुअनि जितेंद्र देव दीपक को शामिल करते हुए टीम का गठन कर बम विस्फोट कर दहशत फैलाकर भयादोहन करने वाले अपराधकर्मियों की गिरफ्तारी हेतु सघन छापेमारी अभियान चलाया गया।छापामारी के क्रम में वैज्ञानिक अनुसंधान के क्रम में आए तथ्यो के आधार पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सरैयां श्री झा स्वयं एवं गठित टीम द्वारा गुप्त सूचना के आधार पर कुख्यात अपराध कर्मी मो० बाबर पिता स्व० मो० अशफाक ग्राम जयमल,डुमरी थाना के अपने घर मे छुपे होने की सूचना पर छापेमरी की गयी।छापेमरी दम को देखते ही बाबर और उसके चार अन्य अपराधी साथियों के द्वारा पुलिस पार्टी पर करीब 10-12 चक्र फायरिंग की गई।प्रतिरक्षा में डीएसपी के द्वारा सरकारी पिस्तौल द्वारा 2 चक्र,थानाध्यक्ष सरैयां और पारू के द्वारा 1-1 चक्र फायरिंग की गई।पुलिस दल के द्वारा की गई फायरिंग में कुख्यात अपराधकर्मी मो० बाबर के पैर में गोली लगी और अपने सहयोगी

सुरेंद्र भगत के साथ गिरफ्तार हुए।फायरिंग की आड़ में अंधेरे का फायदा उठाकर उनके अन्य सहयोगी चंदन, राहुल,एवं विकास रॉय उर्फ भुल्लर भागने में सफल हुए।उलेखनीय है कि इन अपराधकर्मियों द्वारा सरैयां, देवरिया, पारू, वैशाली जिला, छपरा जिला सहित अन्य कुछ जिलों के व्यवसाइयों के नेट कालिंग कर रंगदारी की मांग की जा रही थी एवं रंगदारी नही देने पर डर,भय एवं दहशत बनाकर रंगदारी वसूली हेतु उनके घर एवं प्रतिष्ठानों पर विभिन्न तरह के पर्चे सटने, फायरिंग करने और बम विस्फोट करने का काम किया जा रहा था।इस घटना में अपराधकर्मी द्वारा जिस मोबाइल से नेट कालिंग कर रंगदारी मांगी जाती थी उसे भी मुठभेड़ उपरांत इनके पास से बरामद किया गया।यह गिरोह सुपारी लेकर हत्या भी करता है और वैशाली थानांतर्गत एक चौकीदार की हत्या भी इन्ही लोगो द्वारा किया गया था।इनके कृत्यों से मुज़फ़्फ़रपुर एवं सीमावर्ती जिलो के व्यवसायी वर्ग अंदर से डरा महसूस कर रहे थे।इनके द्वारा जिस तरीके से इंटरनेट कालिंग किया जा रहा था उससे तकनीकी अनुसन्धान के माध्यम से भी पकड़ पाना काफी दुशकर साबित हो रहा था।पुलिस मुठभेड़ के बाद मानवीय चेहरा दिखाते हुए शीघ्र नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जख्मी बाबर की चिकित्सा कराई गई।इस पूरे घटना क्रम में कुछ पुलिसकर्मी भी जख्मी हुए है।मुठभेड़ के क्रम में अपराधकर्मियों के 10-12 चक्र फायरिंग के बदले पुलिस टीम द्वारा पूर्णतः नियंत्रित एवं कारगर फायरिंग की गई है।एसएसपी विवेक कुमार ने बताया कि मुठभेड़ में शामिल अन्य अपराधियो की गिरफ्तरी के लिए लगातार छापेमरी की जा रही है।

मुज़फ़्फ़रपुर पुलिस द्वारा अपराधियों के पास से बरामदगी की गई सामान…

मो० बाबर 12 चक्रीय 9 एमएम पिस्टल 01,मैगज़ीन 01,फायर कारतूस 02,जिंदा कारतूस 02,मोटरसाइकिल 01-01  इंटरनेट कालिंग मोबाइल 01,मिनी चिप 01 वही सुरेंद्र भगत के पास से 01 देशी पिस्टल,फायर कारतूस 01, मिसफायर 01, मोटरसाइकिल 01, मोबाइल 02, डोंगल और 02 चिप बरामद की गई।

रिपोर्ट-धर्मेन्द्र सिंह/श्रीधर पांडे 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *